मुनव्वर के बेटे ने खुद पर गोली चलवाई थी:चाचा और भाइयों को फंसाने की साजिश थी, शूटर्स के साथ प्लानिंग का वीडियो सामने आया; शायर मुनव्वर का तंज- मेरी गलती कि मैंने इसे पैदा किया

लखनऊ4 महीने पहले

मशहूर शायर मुनव्वर राना के बेटे तबरेज पर हमले के मामले में बड़ा खुलासा हुआ है। पुलिस की जांच में पता चला है कि तबरेज ने चाचा और भाइयों को फंसाने के लिए खुद पर गोली चलवाई थी। पुलिस ने तबरेज पर हमले की कहानी को फर्जी करार दिया। उसकी गिरफ्तारी के लिए गुरुवार को आधी रात पुलिस ने शायर के लखनऊ और रायबरेली स्थित घर पर छापेमारी की।

इस पर मुनव्वर ने पुलिस पर ही आरोप लगाया। कहा कि ये बिकरु कांड बनाने की कोशिश चल रही है। इन हालात में मैं मर जाऊंगा और इसके लिए ये पुलिसवाले ही जिम्मेदार होंगे। मुनव्वर ने तंज कसते हुए कहा कि मेरी गलती सिर्फ इतनी है कि मैंने इसे (तबरेज) पैदा किया किया।

प्लानिंग का वीडियो भी सामने आया
रायबरेली पुलिस ने दो वीडियो जारी किया है। पहली वीडियो में तबरेज शूटर्स के साथ मिलकर होटल ओम क्लार्क के सामने खुद पर हमले की प्लानिंग कर रहा है। इसमें दो शूटर और तबरेज दिख रहे हैं। दूसरे वीडियो में तबरेज अपनी गाड़ी से पेट्रोल पंप के पहुंचता हुआ दिखाई दे रहा है। पंप से कुछ दूरी पर ही उसने गाड़ी रोक दी।

थोड़ी देर बाद बाइक से दो लोग आते हैं। कार के पीछे से घूमकर सामने आते हैं। उस वक्त तबरेज गाड़ी रोककर खड़ा रहता है। नाटकीय अंदाज में दोनों कार पर गोली चलाते हैं और फिर कार के सामने से निकल जाते हैं। वीडियो देखकर ऐसा लग रहा है कि तबरेज ने उन्हें आराम से जाने दिया। अगर वो चाहता तो तुरंत गाड़ी आगे बढ़ाकर टक्कर मार देता।

घरवालों से अभद्रता का आरोप
शायर मुनव्वर राना के बेटे तबरेज को गिरफ्तार करने के लिए पुलिस गुरुवार की रात करीब 2 बजे हुसैनगंज स्थित FI टॉवर अपार्टमेंट में उनके फ्लैट पर पहुंची। रायबरेली स्थित घर पर भी पुलिस ने छापेमारी की। हालांकि, तबरेज नहीं मिला। मुनव्वर का आरोप है कि पुलिस ने छापेमारी के दौरान महिलाओं और खुद उनसे अभद्रता की। सभी के मोबाइल फोन छीन लिए। मीडिया और वकील को नहीं आने दिया। सब गुंडागर्दी कर रहे थे।

28 जून को यहीं पर तबरेज ने खुद पर हमले का आरोप लगाया था।
28 जून को यहीं पर तबरेज ने खुद पर हमले का आरोप लगाया था।

वीडियो जारी कर कहा- एक दिन जंगल में हमारी लाश मिलेगी
पुलिस की छापेमारी के बाद शायर ने वीडियो जारी किया। कहा कि एक दिन हमारी जंगल में लाश पड़ी मिलेगी, बिकरु कांड की तरह। इसमें इतना हंगामा करने की क्या जरूरत है? अब ये मुनव्वर राना बिकरु कांड हो गया है। उन्होंने कहा कि पुलिस ने कहा कि हम इनको जेल ले जाएंगे...उनको जेल ले जाएंगे। मैंने वॉरंट के बारे में पूछा तो उन्होंने मुझे हटने के लिए बोल दिया।

मुनव्वर ने आगे कहा कि पुलिस ने गुंडागर्दी की। इनमें से कोई मुझे मार भी देगा और न भी मारे तो मैं इन हालात में मर जाऊंगा। मुनव्वर ने पुलिस पर तंज कसा। कहा कि पुलिस वाले मुझे हटने के लिए बोल रहे थे...मैं कैसे हट जाऊं। वो मेरा बेटा है। मेरी सबसे बड़ी गलती है कि मैंने उसे पैदा किया है।

तबरेज ने आरोप लगाया था कि उसे मारने के लिए किसी ने उसकी कार पर गोलियां चलाई थीं।
तबरेज ने आरोप लगाया था कि उसे मारने के लिए किसी ने उसकी कार पर गोलियां चलाई थीं।

क्या है मामला ?
दरअसल मुनव्वर और उनके भाइयों के बीच 8 करोड़ की कीमत वाली पुश्तैनी जमीन को लेकर विवाद चल रहा है। 28 जून को तबरेज पर रायबरेली के त्रिपुला चौराहे के पास पेट्रोल पंप के पास दो बाइक सवार युवकों ने हमला कर दिया। युवकों ने तबरेज की कार पर फायरिंग की। तबरेज का कहना है कि जब तक उसने अपनी लाइसेंसी गन निकाली तब तक दोनों भाग खड़े हुए। इस मामले में तबरेज ने सदर कोतवाली में केस दर्ज कराया था। पुलिस ने CCTV फुटेज की जांच की। पुलिस इसी आधार पर इसे फर्जी हमला बता रही है।

खबरें और भी हैं...