• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Lucknow
  • President Ramnath Kovind UP Visit Second Day: President Ramnath Kovind Will Participate In Capt Manoj Pandey Sainik School Diamond Jubilee And PGI Convocation In Lucknow

महामहिम बोले- VIP के लिए आम लोग परेशान न हों:लोगों को असुविधा होने पर मुझे पीड़ा होती है...सुझाव है कि मेरे ही नहीं सीएम, गवर्नर के लिए भी 15 मिनट से ज्यादा ट्रैफिक न रुके

लखनऊएक वर्ष पहले

उत्तरप्रदेश यात्रा के दूसरे दिन राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद लखनऊ में कैप्टन मनोज पांडेय सैनिक स्कूल के हीरक जयंती समारोह में पहुंचे। यहां राष्ट्रपति ने VIP के लिए देर तक ट्रैफिक रोके जाने पर खेद जताया। कहा कि मेरी यात्राओं के कारण यातायात में आम नागरिकों को जो असुविधा होती है। उससे मुझे पीड़ा है। मेरा सुझाव है कि मेरे कार्यक्रम से 15 मिनट पहले ट्रैफिक को नियंत्रण करना ठीक है, लेकिन बहुत पहले ऐसा करने से बचना चाहिए। साथ ही इस दौरान एंबुलेंस व अन्य आपातकालीन वाहनों को निकलने से नहीं रोकना चाहिए। ऐसा मेरे साथ ही नही मुख्यमंत्री और राज्यपाल के लिए भी होना चाहिए।

आपको याद दिला दें कि 26 जून को राष्ट्रपति के कानपुर प्रवास के दौरान जब ट्रैफिक रोका गया था, तो शहर की एक महिला उद्यमी वंदना मिश्रा की समय पर अस्पताल नहीं पहुंचने के कारण मौत हो गई थी। राष्ट्रपति ने उस घटना का जिक्र किए बिना ये सुझाव दिया है।

राष्ट्रपति ने कहा कि नागरिकों को भी प्रशासन का सहयोग करते हुए ट्रैफिक नियमों को पालन करना चाहिए। हम सब मिलजुलकर नियम का पालन करें तो रास्ता निकल सकता है।

ये पहला सैनिक स्कूल जहां बेटियों को भी अवसर

  • मुझे ये जानकर प्रसन्नता हुई कि देश का ये पहला सैनिक स्कूल है जो देश की बेटियों के लिए भी अवसर देता है। ये नारी सशक्तिकरण के लिए एक बड़ा कदम है। जितनी सराहना की जाए कम है।
  • इस वर्ष 15 अगस्त को प्रधानमंत्री जी द्वारा निर्णय किया गया कि सैनिक स्कूलों में बेटियों को भी शिक्षा के अवसर प्राप्त होंगे। जबकि इस सैनिक स्कूल ने इसे 3 वर्ष पहले ही कर दिया, ये एक प्रतिमान है।
  • वस्तुतः चरित्र निर्माण ही सैनिक स्कूल की पहचान है। इसी से राष्ट्र निर्माण होता है। मैं इस सभागार में कैप्टन मनोज पांडेय के परिवार का हार्दिक अभिवादन करता हूँ। राष्ट्र रक्षा में आपके परिवार के बलिदान को नमन करता हूँ।
  • राष्ट्र प्रेम की भावना जो सैनिकों के अंदर होती है, वो भावना हमारे अंदर भी होनी चाहिए। यही कारण है कि मैं कारगिल जाना चाहता हूं। इस वर्ष सीडीएस रावत जी ने मुझे भरोसा दिया है कि मैं इस वर्ष मैं कारगिल स्मारक पर जाकर कैप्टन मनोज पांडेय को श्रद्धांजलि दे सकूं।
  • इस स्कूल के लिए एक गौरव की बात रही कि इस स्कूल के छात्र रहे कैप्टन मनोज पांडेय को परमवीर चक्र से सुशोभित किया गया। साथ ही इसी स्कूल के अन्य छात्र भी युद्धक सम्मान से सम्मानित हुए। इसी स्कूल ने सबसे ज्यादा बलिदान दिए, इसलिए मुझे इस विद्यालय के प्रांगण में आकर गर्व की अनुभूति हुई।
  • राष्ट्रनिर्माण में योगदान करने वाले सम्पूर्णानन्द जी की प्रतिमा अनावरण करके मैं बहुत गर्व महसूस कर रहा हूं। क्योंकि, इस सैनिक स्कूल की परिकल्पना उन्होंने वर्षो पहले की थी। शायद उन्होंने इस बात को सोचा होगा कि एक अनुशासित नागरिक ही राष्ट्रनिर्माण कर सकता है। इस परिकल्पना के लिए मैं संपूर्णानंद जी को नमन करता हूँ।

यूपी में 16 नए सैनिक स्कूल खोलने का प्रस्ताव
राष्ट्रपति ने कहा कि उत्तर प्रदेश सरकार ने प्रदेश में 16 नए सैनिक स्कूल की स्थापना के लिए मंजूरी मांगी है। केंद्र सरकार के पास इसका प्रस्ताव गया है। जल्द ही उसे मंजूरी मिलने की संभावना है। राष्ट्रपति कोविंद ने बताया कि एक साल के अंदर देशभर में 100 नए सैनिक स्कूल खोलने का प्रस्ताव है।

यहां उन्होंने डॉ. संपूर्णानंद की प्रतिमा का अनावरण किया। इस दौरान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने महामहिम को रुद्राक्ष का पौधा भेंट किया। कार्यक्रम में राज्यपाल आनंदीबेन पटेल, डिप्टी सीएम डॉ. दिनेश शर्मा भी मौजूद हैं।

खबरें और भी हैं...