कांग्रेस-सपा के निशाने पर UP सरकार:प्रियंका बोलीं- इस सरकार के कई विभागों में भ्रष्टाचार हुए, अखिलेश ने कहा- छत फाड़ विकास का नमूना टपक रहा; BJP का जवाब-दोनों केवल सोशल मीडिया के नेता

लखनऊएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

आगामी विधानसभा चुनाव 2022 को लेकर विपक्षी लगातार यूपी सरकार को घेरने में लगे हुए हैं। इसी कड़ी में गुरुवार को कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा व सपा (समाजवादी पार्टी) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने ट्वीट कर यूपी सरकार पर हमला बोला है। प्रियंका गांधी वाड्रा ने कहा कि कैग रिपोर्ट में खुलासा हुआ है कि यूपी सरकार के कई विभागों में भ्रष्टाचार हुए हैं। दूसरी तरफ, अखिलेश यादव ने बस से टपक रहे पानी का वीडियो ट्वीट कर कहा कि भाजपा सरकार में 'छत फाड़ विकास' का ये नमूना...है।

योगी सरकार की बखिया उधेड़ने की तैयारी में प्रियंका-अखिलेश
खास बात यह है कि योगी सरकार के खिलाफ प्रियंका गांधी वाड्रा ने 2 घंटे के अंतराल में दो पोस्ट किए हैं। वहीं, सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने 5 घंटे के अंतराल में दो पोस्ट करते हुए सरकार पर हमला बोला है।

दो घंटे में प्रियंका के दो पोस्ट

पहला पोस्ट-
'उप्र में किसानों के लिए बिजली के दाम कई बार बढ़ चुके हैं।
डीजल के दाम तो 100 से अधिक बार बढ़ चुके हैं।
लेकिन किसान के गन्ने के दाम में 2017 से 0 रू की बढ़ोत्तरी हुई।
आखिर किसानों के साथ ये अन्याय क्यों?'

दूसरा पोस्ट -
'कैग रिपोर्ट ने उप्र सरकार के कई विभागों में हजारों करोड़ के घोटाले उजागर किए हैं।
आखिर कब तक सरकार अपने भ्रष्टाचार पर पर्दा डालेगी? उप्र की जनता के हजारों करोड़ घोटालों की भेंट चढ़ गए और सरकार के पास कोई जवाब ही नहीं है।'

अखिलेश ने भी दो पोस्ट किए

पहला पोस्ट -
'गोरखपुर में गुंडाराज!
बाप की पिटाई का वीडियो बना रही थी बेटी बदमाशों ने मारी गोली'

दूसरा पोस्ट -
'ये है भाजपा सरकार में ‘छत-फाड़ विकास’ का नमूना… भाजपा के राज में बस की छत के नीचे छतरी..विकास की बारिश में भीगे यात्री, भीगे गठरी!'

भाजपा का पलटवार- अखिलेश व प्रियंका जनता के बीच में जाने से डरते हैं
उत्तर प्रदेश भाजपा के प्रवक्ता राकेश त्रिपाठी ने कहा कि यूपी की राजनीति में ये दोनों नेता बिल्कुल खो चुके हैं, इसलिए समय-समय पर सोशल मीडिया पर पोस्ट करके यह बने रहना चाहते हैं। जनता को बताना चाहते हैं कि, हम भी राजनीति में हैं। एक बार उन्नाव तक रथ लेकर निकलने वाले अखिलेश यादव दोबारा हिम्मत नहीं कर पा रहे हैं कि वह दूसरी कोई यात्रा को निकाल सकें। दूसरी तरफ, प्रियंका इवेंट की तरीके से यूपी के दौरे पर आती हैं और आधा अधूरा कार्यक्रम छोड़ कर चली जाती हैं। उनके कांग्रेस के पदाधिकारी ही उनसे नहीं मिल पाते हैं। इनका सोशल मीडिया पर पोस्ट सिर्फ इतना है कि कैसे हम उत्तर प्रदेश की राजनीति में जिंदा रहे। इन दोनों नेताओं को जनता के बीच में जाने से डर लग रहा है।

खबरें और भी हैं...