लखीमपुर से रिपोर्ट:राहुल और प्रियंका मृतक किसान व पत्रकार के परिवार से मिले, बोले- हम न्याय दिलाने के लिए आए हैं

लखनऊ2 महीने पहले
  • सचिन पायलट मुरादाबाद में हिरासत में लिए गए

कांग्रेस सांसद राहुल गांधी और प्रियंका वाड्रा के बुधवार देर रात लखीमपुर खीरी के तिकुनिया गांव पहुंचे। यहां कांग्रेस प्रतिनिधिमंडल ने हिंसा में मारे गए किसानों के परिजनों से मुलाकात की। राहुल और प्रियंका सबसे पहले पलिया के चौकाघाट पहुंचे। यहां मृतक किसान लवप्रीत सिंह (20) पुत्र सतनाम सिंह के परिवार से मिले। माता-पिता के गले लगकर ढांढस बांधा।

इसके बाद काफिला निघासन स्थित मृत स्थानीय पत्रकार रमन कश्यप के घर पर रुका। यहां प्रियंका गांधी ने पत्रकार रमन की पत्नी आराधना और उसके बच्चों वैष्णवी व अभिनव से बात की। हर सहयोग का आश्वासन दिया। इसके बाद राहुल और प्रियंका का काफिला धौरहरा के गांव रमनदीन पुरवा निवासी मृत किसान नक्षत्र सिंह (55) के परिवार से मिलने के बाद लखनऊ रवाना हो गए।

इससे पहले राहुल गांधी ने कहा कि पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट से परिजन संतुष्ट नहीं हैं। उन्हें समझ नहीं आ रहा है कि पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में क्या लिखा है। वे दोषी के खिलाफ कार्रवाई चाहते हैं। हर कोई जानता है कि आरोपी कौन है। उन्हें गिरफ्तार नहीं किया जा रहा है। क्योंकि उनके पिता गृह राज्य मंत्री हैं। हम यहां इन परिवारों को न्याय दिलाने के लिए आए हैं।

राहुल गांधी और प्रियंका वाड्रा पलिया के चौकाघाट मृतक किसान लवप्रीत सिंह (20) के परिवार से मिले।
राहुल गांधी और प्रियंका वाड्रा पलिया के चौकाघाट मृतक किसान लवप्रीत सिंह (20) के परिवार से मिले।

उधर, दिल्ली से सड़क के रास्ते लखीमपुर जाने के लिए सचिन पायलट और प्रमोद कृष्णन को पुलिस ने मुरादाबाद पहुंचने से पहले हिरासत में ले लिया है। दोनों को सर्किट हाउस लाया जा रहा है। सुबह गाजीपुर के बॉर्डर के रास्ते दोनों लखीमपुर के लिए रवाना हुए थे।

मृतक किसान लवप्रीत सिंह (20) के पिता सतनाम सिंह व माता को गले लगाया।
मृतक किसान लवप्रीत सिंह (20) के पिता सतनाम सिंह व माता को गले लगाया।

राहुल-प्रियंका के काफिले में 17 गाड़ियों को मंजूरी

प्रशासन ने राहुल-प्रियंका के काफिले में 17 गाड़ियों को मंजूरी दी है। पंजाब के सीएम चरणजीत सिंह चन्नी और छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल भी दोनाें के साथ लखीमपुर निकले। कांग्रेस नेता दीपेंद्र सिंह हुड्‌डा, रणदीप सिंह सुरजेवाला, केसी वेणुगोपाल और अजय कुमार लल्लू किसान पीड़ित परिवारों से मिलने के लिए लखीमपुर गए हैं।

राहुल गांधी और प्रियंका वाड्रा निघासन स्थित मृत स्थानीय पत्रकार रमन कश्यप के परिवार से मिला। पत्नी आराधना और उसके बच्चों बेटी व अभिनव से बात की।
राहुल गांधी और प्रियंका वाड्रा निघासन स्थित मृत स्थानीय पत्रकार रमन कश्यप के परिवार से मिला। पत्नी आराधना और उसके बच्चों बेटी व अभिनव से बात की।

लखनऊ एयरपोर्ट पर धरने पर बैठे राहुल

लखीमपुर खीरी हिंसा में सियासत खत्म नहीं हो रही है। बुधवार को राहुल गांधी ने पहले दिल्ली में प्रेस कॉन्फ्रेंस करके भाजपा सरकार पर हमला किया। इसके बाद वह फ्लाइट से लखनऊ पहुंचे। राहुल के साथ छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल और पंजाब के नवनियुक्त सीएम चरणजीत सिंह चन्नी भी हैं। लखनऊ एयरपोर्ट से राहुल बाहर निकलने लगे तो प्रशासन ने उनको जाने नहीं दिया। इसके चलते वह करीब एक घंटे तक धरने पर बैठ रहे।

राहुल के पहुंचने से पहले प्रियंका हुईं रिहा

राहुल गांधी सीतापुर के पीएसी गेस्‍ट हाउस पहुंचे। उनके साथ छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी और पार्टी महासचिव केसी वेणुगोपाल और रणदीप सुरजेवाला भी मौजूद रहे। उधर, प्रशासन ने 24 घंटे पहले गिरफ्तार प्रियंका को भी रिहा कर दिया। रिहा करने से पहले उनका हेल्थ चेकअप भी किया गया।

पीएसी गेस्‍ट हाउस में महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा से राहुल गांधी की वार्ता चली। बाहर आकर दोनों ने कार्यकर्ता को हाथ दिखाकर अभिनंदन किया। इसके बाद उनका काफिला सीतापुर से लखीमपुर के ल‍िए रवाना हो गया है। एक से डेढ़ घंटे में लखीमपुर पहुंचने की उम्‍मीद।

जब लखनऊ एयरपोर्ट से राहुल को बाहर नहीं निकलने दिया गया तो भम्र की स्थिति हो गई। बाद में पता चला कि प्रशासन अपनी गाड़ी में इन नेताओं को लखीमपुर ले जाना चाहता था, जबकि राहुल अपनी गाड़ी पर जाने के लिए अड़ गए। इस मांग पर अड़े राहुल एयरपोर्ट पर ही धरने पर बैठ गए। बाद में सरकार ने उन्हें खुद की गाड़ी से लखीमपुर जाने की अनुमति दे दी।

पंजाब और छत्तीसगढ़ सरकारें मृतकों के परिवारों को 50-50 लाख रुपए देंगी

पंजाब और छत्तीसगढ़ सरकार ने लखीमपुर हिंसा में मारे गए हर मृतक परिवार को 50-50 लाख रुपए देने का ऐलान किया है। इससे पहले उत्तर प्रदेश ने 45 लाख रुपए दिए थे। यूपी प्रशासन से सभी पार्टियों के 5-5 सदस्यों को लखनऊ जाने की अनुमति दे दी है।

सीतापुर निकलने से पहले राहुल गांधी ने एयरपोर्ट पर नाश्ता किया।
सीतापुर निकलने से पहले राहुल गांधी ने एयरपोर्ट पर नाश्ता किया।
एयरपोर्ट पर राहुल गांधी के साथ में पंजाब और छत्तीसगढ़ के सीएम धरने पर बैठे हैं।
एयरपोर्ट पर राहुल गांधी के साथ में पंजाब और छत्तीसगढ़ के सीएम धरने पर बैठे हैं।

LIVE UPDATES...

  • कांग्रेस नेता राहुल गांधी और महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा सीतापुर के PAC गेस्ट हाउस के बाहर आए। दोनों ने कार्यकर्ताओं को हाथ दिखाया और अभिनंदन करते हुए चले गए। अब इनका काफिला लखीमपुर खीरी की ओर रवाना।
  • प्रियंका और राहुल गांधी के लिए गाड़ियों का काफिला सीतापुर के पीएसी ग्राउंड पर लगाया गया है। राहुल-प्रियंका यहां कार्यकर्ताओं को संबोधित करेंगे। फिर लखीमपुर के लिए निकलेंगे।
  • आप सांसद संजय सिंह ने कहा कि 55-56 घंटे के बाद सरकार को याद आई। अभी तक मामले में आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं हुई। संजय को प्रशासन ने लखीमपुर जाने की अनुमति दे दी है।
  • मुजफ्फरनगर के सिसौली में भाकियू के संस्थापक महेंद्र सिंह टिकैत की जयंती में पहुंचे रालोद के राष्ट्रीय अध्यक्ष जयंत चौधरी कहा कि मंत्री अजय मिश्रा के घर पर भी बुल्डोजर चलना चाहिए।
  • फोन पर अखिलेश यादव ने मृतक लवप्रीत, नक्षत्र सिंह के परिवार से बात की। अखिलेश कल लखीमपुर खीरी जाएंगे।
  • राहुल को लखनऊ में रिसीव करने के लिए कांग्रेस नेता प्रमोद तिवारी, पीएल पुनिया एयरपोर्ट पहुंचे। उन्हें एयरपोर्ट के भीतर जाने की इजाजत नहीं दी गई।
  • लखनऊ में एयरपोर्ट से लेकर आलमबाग तक भीषण जाम है। जाम में डीएम लखनऊ भी फंस गए। डीएम को रॉन्ग साइड से निकाला गया।
  • आप सांसद संजय सिंह को रिहा कर दिया गया है। उन्हें 52 घंटे से पहले सीतापुर के बिसवां में पुलिस ने रोका था। संजय लखीमपुर रवाना हो गए हैं।
  • किसानों को कुचलने के कथित आरोपी और केंद्रीय मंत्री के बेटे आशीष मिश्र के वायरल वीडियो पर एडीजी लखनऊ जोन एसएन साबत ने कहा कि घटना में यह सबूत साबित हो सकता है। लेकिन किसी नतीजे पर नहीं पहुंच सकते।
  • कांग्रेस नेता सचिन पायलट सीतापुर जाने के लिए गाजीपुर बॉर्डर का रास्ता चुना है। उन्हें पुलिस ने रोक लिया है। सचिन के साथ प्रमोद कृष्णन भी हैं।
  • सचिन का कहना है कि लोकतांत्रिक मूल्यों की हत्या है। हम सीतापुर जा रहे हैं। हम उम्मीद करते हैं कि प्रशासन हमें वहां जाने देगी। वहां प्रियंका को गैर कानूनी तरीके से रखा गया है। पुलिस की तानाशाही नहीं चलेगी।
  • सचिन पायलट के काफिले को हाईवे पर ट्रक खड़ा करके रोक दिया गया। बाद में सचिन पायलट की गाड़ी को आगे बढ़ने दिया गया।
  • भाजपा नेता संबित पात्रा ने राहुल गांधी को जवाब देते हुए कहा कि लखीमपुर खीरी में जो कुछ भी हुआ है, वो दुःखद है। लेकिन अब इस पर सियासत करना गलत है।
एयरपोर्ट पर राहुल गांधी धरने पर बैठ गए हैं। वह अपनी गाड़ी से आम ट्रैफिक वाले रास्ते से ही जाना चाहते हैं।
एयरपोर्ट पर राहुल गांधी धरने पर बैठ गए हैं। वह अपनी गाड़ी से आम ट्रैफिक वाले रास्ते से ही जाना चाहते हैं।

चन्नी बोले- किसानों और पत्रकार को मार गिराया गया है
राहुल के साथ लखनऊ पहुंचे पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने कहा कि लखीमपुर में जिन किसानों की मौत हुई है, पत्रकार समेत प्रत्येक के परिवार को, हम पंजाब सरकार की तरफ से 50 लाख रुपए देंगे। चन्नी ने कहा कि किसानों और पत्रकार को मार गिराया गया है। मुझे दुख है कि किस तरह योजना बनाकर हमला हुआ। किसानों को मारा जाएगा तो हम चुप नहीं बैठ सकते। वहीं, छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि पीड़ित परिवारों के साथ पूरा हिंदुस्तान खड़ा हुआ है। छत्तीसगढ़ सरकार की ओर से प्रत्येक पीड़ित किसानों के परिवार को 50 लाख रुपए और पीड़ित पत्रकार के परिवार को भी 50 लाख रुपए दिए जाएंगे।

अरविंद केजरीवाल बोले- हत्यारों को बचा रही सरकार
दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने केंद्र और यूपी सरकार पर हमला बोला है। केजरीवाल ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि केंद्रीय मंत्री के बेटे की गाड़ी आई और किसानों को रौंदकर चली गई। इसके बावजूद हत्यारों को बचाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री जी एक तरफ आजादी का महोत्सव मना रहे हैं। दूसरी ओर किसानों को जेल में डाला जा रहा है। ये कैसा महोत्सव है। आज हर देशवासी न्याय की मांग कर रहे हैं।

अमौसी एयरपोर्ट पर विमान से उतरते राहुल गांधी।
अमौसी एयरपोर्ट पर विमान से उतरते राहुल गांधी।

मंत्री का बेटा आशीष मिश्र की हो सकती है गिरफ्तारी
सूत्रों के मुताबिक, पुलिस ने केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्र के पैतृक आवास पर दबिश दी है। बताया जा रहा है कि उनके बेटे आशीष मिश्र को जल्दी ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा। वहीं, अजय मिश्र को भाजपा हाईकमान ने दिल्ली तलब किया। वे सुबह ही दिल्ली पहुंच गए। गृह मंत्री शाह से बंद कमरे में 30 मिनट बातचीत हुई है। केंद्र सरकार और संगठन उन पर कोई बड़ा एक्शन ले सकती है।

टिकैत का विवादित बयान
भाकियू के राष्ट्रीय अध्यक्ष राकेश टिकैत ने भिंडरावाला को लेकर विवादित बयान दिया है। लखीमपुर में उन्होंने कहा कि कोई नारे इस तरह नहीं लगे। उसका कोई सवाल ही नहीं है। घटनाक्रम जो हुआ वह तीन किसानों को कुचलने का काम हुआ। किसी बच्चे की वह टीशर्ट है। टीशर्ट पर किसी का फोटो है। कुछ तो लोग उसे संत मानते हैं। सरकार उसे आतंकी मानती है।

एयरपोर्ट से लेकर आलमबाग तक भीषण जाम लग गया। इसमें लखनऊ डीएम भी फंस गए।
एयरपोर्ट से लेकर आलमबाग तक भीषण जाम लग गया। इसमें लखनऊ डीएम भी फंस गए।

जो दोषी होगा, उसे सजा मिलेगी: यूपी सरकार
योगी सरकार के प्रवक्ता सिद्धार्थनाथ सिंह ने कहा कि लखीमपुर हिंसा में जो भी दोषी होगा, उस पर सख्त कार्रवाई की जाएगी। माहौल बिगाड़ने की किसी को इजाजत नहीं है। राहुल गांधी राजनीतिक पर्यटन करने निकले हैं। हम लखीमपुर का सच सामने लाकर रहेंगे। इधर, प्रदेश के कानून मंत्री ब्रजेश पाठक ने कहा कि यूपी की कानून व्यवस्था बिगड़ने नहीं देंगे। कानून अपना काम रहा है।

लखनऊ एयरपोर्ट पर सुरक्षा के लिए जवानों को लगाया गया।
लखनऊ एयरपोर्ट पर सुरक्षा के लिए जवानों को लगाया गया।

लखीमपुर में 3 अक्टूबर को भड़की थी हिंसा
3 अक्टूबर रविवार को किसानों ने केंद्रीय गृह राज्यमंत्री अजय मिश्र का विरोध करते हुए काले झंडे दिखाए थे। इसी दौरान मंत्री के काफिले की एक गाड़ी ने किसानों को कुचल दिया था। इससे 4 किसानों की मौत हो गई थी। इसके बाद भड़की हिंसा में एक ड्राइवर समेत चार लोगों को पीट-पीटकर मार डाला था। इस हिंसा में एक पत्रकार भी मारा गया था। इस मामले में केंद्रीय मंत्री अजय मिश्र के बेटे आशीष मिश्र समेत 15 लोगों के खिलाफ हत्या और आपराधिक साजिश का केस दर्ज किया गया है।

खबरें और भी हैं...