पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

राहुल गांधी Vs सीएम योगी:राहुल गांधी ने ट्वीट कर कहा- जो नफरत करें वो योगी कैसा? CM ऑफिस ने रामचरितमानस की चौपाई से दिया जवाब...

लखनऊ11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

उत्तर प्रदेश में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव से सियासी दलों के नेताओं के बीच पाल-पलटवार शुरु हो गया है। आज कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने एक ट्वीट के माध्यम से सीएम योगी आदित्यनाथ पर निशाना साधा है। राहुल गांधी ने ट्वीट कर कहा, ‘जो नफ़रत करे,वह योगी कैसा!’

राहुल के इस ट्वीट पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के आफिस ने भी रामचरित मानस की एक चैपाई से पलटवार किया है। सीएम की तरफ से जवाबी ट्वीट में लिखा है 'जिन्ह कें रही भावना जैसी,प्रभु मूरति तिन्ह देखी तैसी'।

राहुल गांधी और सीएम के बीच ट्वीटर वॉर

योगी आदित्यनाथ ने राहुल गांधी के ट्वीट का जवाब देते हुए कहा, "श्रीमान राहुल जी! अपराधियों और उपद्रवियों के साम्राज्य पर बुलडोजर चलाना अगर नफरत है, तो ये नफरत अनवरत जारी रहेगी।" एक दिन पहले भी राहुल गांधी ने एक ऐसा ही ट्वीट कर सीएम योगी पर तंज कसा था। उन्होंने लिखा था, "तुम हिंदू सिख ईसाई न मुसलमान के हो। बस मित्रों के हो, ना देश ना इंसान के हो।"

हालांकि राहुल गांधी के ट्वीट के बाद ट्विटर यूजर्स उन्हें ही ट्रोल करने लगे। आपको बता दें कि राहुल गांधी ने एक दिन पहले भी सीएम योगी आदित्यनाथ को टारगेट करते हुए एक ट्वीट लिखा था। उन्होंने सीएम योगी पर तंज कसते हुए कहा कि "तुम हिंदू सिख ईसाई न मुसलमान के हो,बस मित्रों के हो, ना देश ना इंसान के हो।" इस पर योगी आदित्यनाथ ने राहुल गांधी को करारा जवाब दिया और ट्वीट के बदले लिखे अपने ट्वीट में उन्होंने कांग्रेस नेता पर हमला बोला है। अगले साल की शुरूआत में होने वाले उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनावों की उलटी गिनती शुरू हो गई है। इसी के साथ ही राज्य में शासन और विकास जैसे मुद्दे पीछे हट रहे हैं और 'अब्बा जान' और तालिबान जैसे मुद्दे उत्तर प्रदेश में नए चुनावी मुद्दे के रूप में उभर रहे हैं। राज्य के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रविवार को कहा था कि 2017 से पहले, 'अब्बा जान' कहने वाले लोग गरीबों के लिए भेजा गया मुफ्त राशन खा जाते थे और भ्रष्टाचार में लिप्त होकर गरीबों के लिए सरकारी नौकरियों पर कब्जा कर लेते थे। मुख्यमंत्री ने कहा था, ”क्योंकि तब ‘अब्बा जान’ कहे जाने वाले लोग राशन को खा जाते थे। कुशीनगर का राशन नेपाल और बांग्लादेश जाता था। आज अगर कोई गरीब लोगों के राशन को हथियाने की कोशिश करेगा, तो वह निश्चित रूप से जेल चला जाएगा।”

पहले भी राहुल और योगी ने एक दूसरे पर तंज कसा है

इससे पहले भी राहुल और सीएम योगी का ट्वीटर पर आमना-सामना हो चुका है। कुछ महीनों पहले कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने यूपी के आम के स्वाद को लेकर कहा था कि मुझे यूपी के आम नहीं पसंद, मुझे तो आंध्र प्रदेश के आम पसंद हैं। राहुल गांधी के दिये इस बयान पर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने करारा तंज कसा था। तब सीएम ने कहा था कि "क्या करें, राहुल जी आपका टेस्ट ही विभाजन-कारी है. कश्मीर से कन्या कुमारी तक भारत का स्वाद एक है।"

खबरें और भी हैं...