• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Lucknow
  • Rain Took 34 Lives In UP Rainfall 428% More Than The Required Estimate In The Last 24 Hours; Disaster Rain Alert Will Remain Till September 18

यूपी के 32 जिलों में आज बारिश का अलर्ट:24 घंटे में अनुमान से 428% ज्यादा बरसा पानी, बारिश से जुड़े हादसों में 34 की मौत

लखनऊ4 महीने पहले

यूपी के 32 जिलों में शनिवार को बारिश का अलर्ट जारी किया गया है। प्रदेश में बीते 24 घंटे में अनुमान से 428% ज्यादा पानी बरसा है। मौसम विभाग का अनुमान था कि 6.1 मिलीमीटर औसत बारिश होगी। जबकि 32.2 मिलीमीटर हुई। यह अनुमान से 428% ज्यादा है।

इसके अलावा, 48 घंटों में बारिश से जुड़े हादसों में प्रदेश में 34 लोगों की मौत हो गई। शुक्रवार को तेज हवाओं के साथ मूसलाधार बारिश ने लखनऊ समेत कई शहरों में भारी तबाही हुई है। पेड़ और तारों के टूटने से कई जगहों पर बिजली व्यवस्था चरमरा गई।

ये फोटो शुक्रवार को भाजपा नेता पवन सिंह के सीतापुर में घर के बाहर की है। 2 दिन तक पानी निकलने का इंतजार करने के बाद वह ट्रैक्टर से घर के बाहर निकले।
ये फोटो शुक्रवार को भाजपा नेता पवन सिंह के सीतापुर में घर के बाहर की है। 2 दिन तक पानी निकलने का इंतजार करने के बाद वह ट्रैक्टर से घर के बाहर निकले।

झांसी में सोमवार शाम से रुक-रुककर लगातार बारिश हो रही है।। छठ वें दिन शनिवार सुबह से तेज धूप खिली थी। शाम को अचानक मौसम में करवट बदली और काले बादल छा गए। करीब 5 बजकर 30 मिनट से तेज बारिश शुरू हुई और एक घंटे तक बारिश होती रही। इससे शहर के नाले ओवरफ्लो हो गए और कई कॉलोनियों में पानी भर गया। इससे लोगों को परेशानी हुई। झांसी में करीब 19 एमएम बारिश हुई है।

यह फोटो झांसी में तेज बारिश की है। शनिवार को 19 एमएम बारिश हुई है।
यह फोटो झांसी में तेज बारिश की है। शनिवार को 19 एमएम बारिश हुई है।

सरकार ने जारी किया दो दिन का अलर्ट
यूपी में लगातार तीन दिनों की बारिश के बाद शनिवार को कुछ राहत है। हालांकि, सरकार ने अगले दो दिन यानी आज और कल के लिए अलर्ट जारी किया गया है। जिन जिलों में अलर्ट है, वहां के डीएम को समुचित तैयारी के निर्देश दिए हैं।

लखनऊ में 10 साल का टूटा रिकॉर्ड, बरसा 160 मिलीमीटर पानी
राजधानी लखनऊ में बीते 10 साल का रिकॉर्ड टूट गया। 24 घंटे में लखनऊ में 160 मिमी बरसात हुई। इतनी बारिश पिछले 10 साल में कभी नहीं हुई। 2012 में 14 सितंबर को 138 मिलीमीटर की बारिश होने का रिकॉर्ड था। इससे पहले सबसे ज्यादा बरसात होने का रिकॉर्ड 14 सितंबर 1985 को 177.1 मिलीमीटर का है।

लखनऊ, कानपुर, झांसी जैसे शहरों में जहां गुरुवार- शुक्रवार को रुक-रुककर बारिश हुई। वहां शनिवार को बारिश थमी हुई है। हालांकि, बादल छाए हैं। लखनऊ में अभी भी निचले इलाकों में जलभराव है।

बारिश से जुड़े हादसों में सबसे ज्यादा मौत लखनऊ में हुई...

ये आंकड़ें बीते 48 घंटे के हैं।
ये आंकड़ें बीते 48 घंटे के हैं।

इन 32 जिलों में बारिश का अलर्ट
मौसम विभाग ने प्रदेश के 32 जिलों में बारिश का अलर्ट जारी किया है। इन जिलों में लखीमपुर खीरी, सीतापुर, बिजनौर, मेरठ, मुरादाबाद, बदायूं, रामपुर, फर्रुखाबाद, शाहजहांपुर, हरदोई, पीलीभीत, बहराइच, बाराबंकी, गोंडा, सिद्धार्थनगर, बस्ती, संतकबीरनगर, कुशीनगर, महाराजगंज, कानपुर, उन्नाव, रायबरेली, अमेठी, प्रतापगढ़, जौनपुर, सुल्तानपुर, अयोध्या, अबंडेकरनगर, आजमगढ़, गोरखपुर, मऊ, चंदौली, वाराणसी हैं। इन जिलों में गरज-चमक के साथ पानी बरस सकता है।

आगरा में बारिश से दलदल बना श्मशान का रास्ता

आगरा में श्मशान के रास्ते पर कीचड के चलते लोगों को अंतिम संस्कार के लिए शव ले जाने में काफी परेशानी हुई।
आगरा में श्मशान के रास्ते पर कीचड के चलते लोगों को अंतिम संस्कार के लिए शव ले जाने में काफी परेशानी हुई।

आगरा के फतेहपुर सीकरी में बारिश में शमशान घाट का रास्ता दलदल बन गया है। गांव में मौत हो जाने के बाद शव को शमशान तक लाने में 12 लोगों को एक साथ कंधा देना पड़ा। इसके बाद भी पूरे रास्ते लोग शव गिरने से बेकदरी होने के डर से सहमे रहे। पूरी खबर यहां पढ़ें...

अब बात शहरों में मौसम के हाल की...

वाराणसी में दोपहर बाद हो सकती है बारिश

यह फोटो वाराणसी के वरुणा नदी की है। इस समय यहां धूप है। दोपहर बाद मौसम बदलने का अनुमान है।
यह फोटो वाराणसी के वरुणा नदी की है। इस समय यहां धूप है। दोपहर बाद मौसम बदलने का अनुमान है।

वाराणसी में शनिवार सुबह धूप खिली है। हवा बिल्कुल शांत है। बादल भी आसमान में दूर-दूर तक नहीं दिखाई दे रहे। मानसून का नामो-निशान नहीं दिख रहा। मगर, मौसम वैज्ञानिकों का मानना है कि वाराणसी में आज दोपहर बाद बारिश हो सकती है।

अयोध्या में 3 दिन बाद निकली धूप

ये तस्वीर अयोध्या कैंट रोड की है। 3 दिन बाद राम नगरी में धूप निकली है।
ये तस्वीर अयोध्या कैंट रोड की है। 3 दिन बाद राम नगरी में धूप निकली है।

अयोध्या में 3 दिनों बाद शनिवार को आसमान में हल्की धूप निकली हुई है। हालांकि, अभी हल्के बादल हैं। बीते 3 दिनों में जिले में 120 मिलीमीटर बारिश हुई। शनिवार सुबह का तापमान 24 डिग्री सेल्सियस रहा। आचार्य नरेंद्र देव कृषि प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय के मुताबिक, बीते 24 घंटों में अयोध्या में हल्की से मध्यम बारिश के आसार हैं। आसमान 2 दिनों के मुकाबले आज साफ है। हवाओं में नमी रहेगी, जिसके चलते लोगों को उमस भरी गर्मी से भी राहत मिलेगी।

मेरठ में छाए बादल, हल्की बारिश की आशंका
मेरठ में शुक्रवार रात को बारिश नहीं हुई है। शनिवार सुबह से आसमान में बादल हैं। शनिवार को हल्की बारिश की आशंका है। मौसम विभाग के वरिष्ठ वैज्ञानिक डॉक्टर शमीम ने बताया कि शुक्रवार को 7 एमएम बारिश दर्ज की गई। शनिवार को भी बारिश की संभावना है। कुछ क्षेत्रों में हल्की बूंदाबांदी हो सकती है। शनिवार को 1 से 3 मिलीमीटर बारिश होने का पूर्वानुमान है। अधिकतम तापमान 28 डिग्री रहेगा। आज हवा की स्पीड 7 किलोमीटर प्रति घंटा चलने का पूर्व अनुमान है।

सहारनपुर में ठंड जैसा मौसम

ये तस्वीर सहारनपुर की है। शनिवार सुबह यहां बादलों का डेरा रहा है।
ये तस्वीर सहारनपुर की है। शनिवार सुबह यहां बादलों का डेरा रहा है।

सहारनपुर में पिछले 2 दिनों में बारिश होने से मौसम में ठंडक आ गई। गुरुवार को हुई बारिश के बाद शुक्रवार को आसमान में बादल छाए हैं। लेकिन बारिश की एक बूंद भी नहीं पड़ी। शनिवार कि सुबह को भी आसमान में बादल छाए हैं। अधिकतम तापमान 33 डिग्री सेल्सियस और न्यूनतम तापमान 30 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया है। मौसम विभाग के अनुसार, रविवार को हल्की बूंदाबांदी हो सकती है। उसके बाद मौसम साफ रहेगा।