महामहिम का लखनऊ दौरा:राष्ट्रपति कोविंद ने राजभवन में राज्यपाल आनंदीबेन और CM योगी के साथ पी चाय, पत्नी सविता और बेटी स्वाति ने की शॉपिंग

लखनऊ4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद दो दिन के दौरे पर लखनऊ में हैं। सोमवार सुबह राष्ट्रपति कानपुर से महाराजा एक्सप्रेस से चारबाग पहुंचे। यहां से सीधे राजभवन गए। दिनभर यहां आराम किया। शाम को राजभवन में उनके सम्मान में हाई-टी और डिनर रखा गया। जिसमें महामहिम कोविंद ने राज्यपाल आनंदीबेन पटेल और सीएम योगी के साथ चाय पी। बाद में डिनर भी किया। वहीं, पत्नी सविता कोविंद और बेटी स्वाति ने हजरतगंज के छंगामल स्टोर में शॉपिंग भी की।

हाई-टी और डिनर में ये रहे मौजूद
हाई-टी और डिनर में सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस एनवी रमण, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, प्रदेश के कानून मंत्री ब्रजेश पाठक, इलाहाबाद हाई कोर्ट के जस्टिस मुनीश्वर नाथ भंडारी सहित अन्य वरिष्ठ इलाहाबाद हाई कोर्ट के जस्टिस भी मौजूद रहे।

राष्ट्रपति की ट्रेन गुजरने से ठीक पहले उन्नाव में रेलवे क्रॉसिंग पर फंस गया ट्रक
राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद की ट्रेन यात्रा के दौरान बड़ा हादसा टल गया। राष्ट्रपति की ट्रेन गुजरने से ठीक पहले उन्नाव में रेलवे क्रॉसिंग पर एक ट्रक फंस गया। ये देखते ही स्थानीय पुलिस कर्मियों के हाथ-पांव फूल गए। आनन-फानन में पुलिस कर्मियों ने ट्रक को धक्का देना शुरू किया। करीब 20 मिनट की मशक्कत के बाद ट्रक को लाइन से हटाया जा सका। इसके ठीक 45 मिनट बाद इसी ट्रैक से राष्ट्रपति की स्पेशल ट्रेन गुजरी। फाटक पर मौजूद मनोहर का कहना है कि अगर पुलिस क्रेन को बुलाने में समय लगा देती तो बड़ा हादसा हो सकता था।

पहली बार चारबाग रेलवे स्टेशन पहुंचे राष्ट्रपति, मुख्यमंत्री और राज्यपाल

चारबाग रेलवे स्टेशन पर राष्ट्रपति का स्वागत करते मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और राज्यपाल आनंदीबेन पटेल।
चारबाग रेलवे स्टेशन पर राष्ट्रपति का स्वागत करते मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और राज्यपाल आनंदीबेन पटेल।

तीन दिन तक अपने गृहनगर कानपुर की यात्रा करने के बाद सोमवार को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद लखनऊ पहुंच गए हैं। यहां चारबाग रेलवे स्टेशन पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने उनका स्वागत किया। कोविंद पहले राष्ट्रपति हैं जो चारबाग रेलवे स्टेशन पहुंचे। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और राज्यपाल आनंदीबेन पटेल भी पहली बार राष्ट्रपति की अगवानी के लिए ही रेलवे स्टेशन पहुंचे। मुख्यमंत्री बनने के बाद अब तक चार साल के कार्यकाल में योगी कभी भी चारबाग रेलवे स्टेशन नहीं पहुंचे थे।

चारबाग से राष्ट्रपति का काफिला राजभवन पहुंचा। राष्ट्रपति के साथ उनकी पत्नी और बेटी भी हैं। राष्ट्रपति सपरिवार आज दिनभर राजभवन में ही रहेंगे। इसके बाद मंगलवार को लोकभवन में आयोजित कार्यक्रम में हिस्सा लेंगे। शाम चार बजे विशेष विमान से राष्ट्रपति दिल्ली के लिए रवाना हो जाएंगे। चारबाग रेलवे स्टेशन से राजभवन तक राष्ट्रपति की सुरक्षा में 100 स्नाइपर्स, 80 कमांडो समेत 10 जिलों की फोर्स तैनात की गई थी।

राष्ट्रपति ने रेलवे की विजिटर बुक में अपनी यात्रा के बारे में फीडबैक दिया।
राष्ट्रपति ने रेलवे की विजिटर बुक में अपनी यात्रा के बारे में फीडबैक दिया।

कब, कितने बजे और कहां होगा कार्यक्रम ?

28 जून का पूरा कार्यक्रम
11:50 बजे- प्रेसिडेंशियल एक्सप्रेस से आज राजधानी पहुंचे।
12:10 बजे- दोपहर को राजभवन के लिए रवाना हुए।
6 से 7 :30 बजे- शाम को न्यायाधीशों के साथ कार्यक्रम में हिस्सा लेंगे।

राष्ट्रपति की पत्नी सविता कोविंद और बेटी स्वाति ने हजरतगंज के छंगामल स्टोर में शॉपिंग की।
राष्ट्रपति की पत्नी सविता कोविंद और बेटी स्वाति ने हजरतगंज के छंगामल स्टोर में शॉपिंग की।

29 जून का कार्यक्रम
11:30 बजे- लोकभवन में होने जा रहे कार्यक्रम में हिस्सा लेने जाएंगे।
12:50 बजे- दोपहर वह वापस राजभवन के लिए रवाना होंगे।
4:00 बजे- राजभवन से उनका काफिला एयरपोर्ट के लिए निकलेगा।
4:20 बजे- राष्ट्रपति का काफिला एयरपोर्ट के वीआईपी हैंगर पहुंचेगा
4:30 बजे- विशेष विमान से दिल्ली के लिए रवाना होंगे।

जिस रास्ते से काफिला गुजरेगा उधर के एंट्री और एग्जिट पॉइंट रहे
राष्ट्रपति सोमवार को सड़क मार्ग से चारबाग स्टेशन से राजभवन पहुंचे। राज भवन से एयरपोर्ट और चारबाग तक सभी रास्ते बंद कर दिए गए हैं। वीवीआईपी गेस्ट हाउस, एयरपोर्ट और चारबाग रेलवे स्टेशन पर सुरक्षा व्यवस्था बढ़ा दी गई थी। जिन रास्तों से राष्ट्रपति का काफिला गुजरा वहां उनको जोड़ने वाले कट, छोटे रास्ते, एग्जिट प्वाइंट बैरिकेडिंग लगाकर बंद कर दिए गए थे।

स्टेशन पर यह व्यवस्था की गई

  • रविंद्रालय के सामने से स्टेशन पहुंचने का रास्ता बंद रहा। आरक्षण केंद्र और पार्किंग भी बंद रही।
  • कोरोना आरटीपीसीआर जांच करा चुके अधिकारी और कर्मचारी ने की ड्यूटी।
  • रेलवे समेत राज्य सरकार के अधिकारी और कर्मचारियों का ड्रेस कोड सफेद रहा।
  • सिर्फ सरकारी लोग ही ड्यूटी कर सकेंगे, कुली व प्राइवेट लोग ड्यूटी पर नहीं आए।
खबरें और भी हैं...