लखनऊ में एनकाउंटर:बांग्लादेशी डकैत के सीने पर लगी गोली, तीन पुलिसकर्मी भी जख्मी, रात 2.30 बजे हुई मुठभेड़

लखनऊएक महीने पहले
डकैत हमजा की फाइल फोटो

लखनऊ में पुलिस और बदमाशों के बीच रविवार देर रात मुठभेड़ हो गई। दोनों तरफ से हुई कई राउंड फायरिंग में बंगलादेशी गिरोह के एक डकैत की मौत हो गयी। बदमाशों की गोली से तीन सिपाही भी घायल हुए जिनकी हालत खतरे से बाहर है।

गोमतीनगर में सहारा फ्लाईओवर के पास रात करीब 2:30 बजे गश्त कर रही पुलिस का 5-6 बदमाशों से आमना सामना हो गया। पुलिस के मुताबिक उन्हें पकड़ने का प्रयास किया गया तो फायरिंग करने लगे। पुलिस ने भी जवाबी फायर किया। दोनों तरफ से करीब 15 राउंड गोली चली। इसमें एक बदमाश के सीने पर गोली लगते ही वह गिर गया। फायरिंग में कांस्टेबल नागेंद्र, रामनिवास और मुकेश चौधरी को भी हाथ व पैर में गोली लगी। इस बीच मौका पाकर बाकी बदमाश फरार हो गए। पुलिस घायल बदमाश को सिविल अस्पताल लेकर पहुँची जहाँ डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

मुठभेड़ में पकड़े गए बंगलादेशी बदमाशों के गिरोह का सदस्य है

पुलिस की गोली से ढेर हुआ बदमाश हमजा बंगलादेशी नागरिक है। डीसीपी पूर्वी संजीव सुमन ने बताया कि हमजा लखनऊ में कई बार डकैती की घटनाओं को अंजाम दे चुका है। चार साल पहले उसे गिरफ्तार कर जेल भेजा गया था। उस पर 50 हजार का इनाम भी घोषित था। जमानत पर रिहा होने के बाद वह फिर से किसी बड़ी वारदात की योजना बनाकर यहां आया था। 11 अक्टूबर को इसके तीन साथियों को मुठभेड़ के दौरान चिनहट क्षेत्र में गिरफ्तार किया गया था।