गैंगरेप के मामले में 4 ऑटो चालक गिरफ्तार:23 सितंबर को लखनऊ में सेक्स रैकेट संचालिका ने नशीला पदार्थ पिलाकर अगवा किया था, रुपयों के खातिर कर दिया था सौदा

लखनऊ8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
इंस्पेक्टर अरमनाथ विश्वकर्मा ने बताया कि पीड़िता की मानसिक हालत ठीक नहीं है। उसके आरोपों के आधार पर बीजी कालोनी निवासी शिवनंदन, सोने लाल, अशोक कुमार और गिरजेश कुमार को गिरफ्तार किया गया है। - Dainik Bhaskar
इंस्पेक्टर अरमनाथ विश्वकर्मा ने बताया कि पीड़िता की मानसिक हालत ठीक नहीं है। उसके आरोपों के आधार पर बीजी कालोनी निवासी शिवनंदन, सोने लाल, अशोक कुमार और गिरजेश कुमार को गिरफ्तार किया गया है।
  • आलमबाग बीजी रेलवे कालोनी में गंभीर हालात में मिली महिला
  • चार आरोपी गिरफ्तार, सेक्स रैकेट संचालिका समेत पांच आरोपियों की तलाश

लखनऊ में 23 सितंबर को आठ ऑटो चालकों ने मानसिक तौर पर अस्वस्थ महिला के साथ सामूहिक दुष्कर्म किया। विरोध करने पर उसे जमकर पीटा। इसके बाद गंभीर हालत में एक खाली पड़े मकान में छोड़कर भाग निकले। घटना से जुड़े चार लोगों को पुलिस ने आज गिरफ्तार कर लिया।

वहीं इस पूरे प्रकरण की सूत्राधार एक महिला और चार अन्य आरोपियों की तलाश कर रही है। महिला सेक्स रैकेट चलाने वाली बताई जा रही है। जिसने चंद पैसों की खातिर महिला की दिमागी हालत का फायदा उठाकर नशीला जूस पिलाकर अगवा कर लिया। उसके बाद रिक्शा चालकों को सौंप दिया था।

होश आने पर देखा तो हाथ-पैर बंधे थे

पुलिस पूछताछ में पीड़िता ने बताया कि कृष्णानगर स्थित आरती जूस कार्नर से उसे एक महिला ने ऑटो चालक से घर भिजवाने की बात कह कर कुछ पिलाया। इसके बाद वह बेहोश हो गई। आंख खुली तो आलमबाग स्थित बीजी कालोनी (रेलवे कालोनी) में एक घर में थी। जहां एक महिला और करीब सात-आठ लोग मौजूद थे। जिन्होंने मेरे साथ गलत काम किया। वहां पर एक महिला भी मौजूद थी। विरोध पर इन लोगों ने मारपीट कर कपड़े फाड़ने के साथ रस्सी से हाथ पैर बांध दिए थे। होश आने पर किसी तरह से थाने पहुंचकर पुलिस को घटना की जानकारी दी।

23 सितंबर को घर के पास से संदिग्ध हालात में लापता हो गई थी

आलमबाग पुलिस के मुताबिक पीड़िता कृष्णानगर के रहने वाले रेलवे से रिटायर हेड क्लर्क की बेटी है। वह 23 सितंबर की शाम को संदिग्ध हालात में गायब हो गई। उसकी मानसिक स्थित ठीक न होने पर खोजबीन के बाद परिजनों ने कृष्णानगर कोतवाली में उसकी गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज करा दी। 24 सितंबर को परिजनों को पता चला कि वह आलमबाग कोतवाली में हैं। जानकारी पर पता चला कि उसके साथ आठ लोगों ने सामूहिक दुष्कर्म किया है।

इन आरोपियों की हुई गिरफ्तारी

इंस्पेक्टर अरमनाथ विश्वकर्मा ने बताया कि पीड़िता की मानसिक हालत ठीक नहीं है। उसके आरोपों के आधार पर बीजी कालोनी निवासी शिवनंदन, सोने लाल, अशोक कुमार और गिरजेश कुमार को गिरफ्तार किया गया है। अन्य आरोपियों की तलाश की जा रही है।

आरोपियों की तलाश में दबिश

पुलिस सूत्रों के मुताबिक वारदात में एक महिला के शामिल होने से साफ है कि घटना किसी सेक्स रैकेट से जुड़ने होने का इशारा कर रही है। महिला के विषय में जानकारी जुटाई जा रही है। वहीं अन्य आरोपियों की तालश की जा रही है। एसीपी आलमबाग विक्रम सिंह ने बताया कि पीड़िता के आरोपों के आधार पर महिला और चार अन्य युवकों की तलाश की जा रही है।

बीजी कालोनी में किराए के मकान में सेक्ट रैकेट चलने की चर्चा

क्षेत्रीय लोगों का आरोप है कि यहां पर दो मकानों में किराए पर रहकर कुछ लोग सेक्स रैकट चला रहे हैं। जिसके चलते यहां का माहौल खराब हो रहा है। इसको लेकर कई बार पुलिस से शिकायत भी हो चुकी है, लेकिन कोई सुनवाई नहीं होती।

खबरें और भी हैं...