पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

वैक्सीन पर अखिलेश के सुर बदले:मुलायम सिंह के वैक्सीन लगवाने के बाद सपा मुखिया ने कहा- वे BJP के टीके के खिलाफ थे, भारत सरकार का टीका वह भी लगवाएंगे

लखनऊ3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

समाजवादी पार्टी (सपा) मुखिया अखिलेश यादव के कोरोना वैक्सीन को लेकर सुर बदल गए हैं। उन्होंने मंगलवार को कहा कि वे भाजपा के टीके के खिलाफ थे, लेकिन भारत सरकार का टीका लगवाएंगे। वे लोगों को वैक्सीन लगवाने के लिए प्रेरित भी करेंगे। अखिलेश ने सोशल मीडिया के जरिए कहा कि जनाक्रोश को देखते हुए आखिरकार सरकार ने कोरोना के टीके के राजनीतिकरण की जगह यह घोषणा कर ही दी कि वह ही वैक्सीन लगवाएगी।

कल मुलायम सिंह ने लगवाई थी वैक्सीन, अखिलेश हुए थे ट्रॉल
इससे पहले सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव ने सोमवार को गुरुग्राम के मेदांता में कोविड वैक्सीन का पहला डोज लगवाया था। वैक्सीन लगवाते 82 साल के मुलायम की फोटो सोशल मीडिया पर आते ही यूजर्स ने अखिलेश को ट्रोल करना शुरू कर दिया था।

BJP प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने भी मुलायम सिंह की फोटो शेयर करते हुए लिखा था, 'एक अच्छा संदेश… आशा करता हूं कि सपा के कार्यकर्ता और उनके राष्ट्रीय अध्यक्ष भी अपनी पार्टी के संस्थापक से प्रेरणा लेंगे।'

सोमवार को गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल में कोरोना की वैक्सीन लगवाते सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव।
सोमवार को गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल में कोरोना की वैक्सीन लगवाते सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव।

जनवरी में कहा था- मैं भाजपा का टीका नहीं लगाऊंगा
दरअसल, अखिलेश ने 2 जनवरी को जब भारत में वैक्सीनेशन शुरू करने का ऐलान होने जा रहा था, तब इसके खिलाफ विवादित बयान दिया था। उन्होंने कहा था, 'ये BJP का टीका है। इस पर भरोसा नहीं किया जा सकता है, इसलिए मैं अभी टीका नहीं लगवाने जा रहा हूं। हमारी सरकार बनेगी तो सभी को मुफ्त वैक्सीन मिलेगी।'

इसके बाद उप-मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने उनके बयान को डॉक्टर्स और वैज्ञानिकों का अपमान बताते हुए अखिलेश से माफी मांगने की मांग की थी। अखिलेश के बयान पर सोशल मीडिया पर भी बड़ा हंगामा हुआ था।

सपा की मांग मानने को मजबूर हुई केंद्र सरकार
सपा प्रवक्ता एमएलसी सुनील साजन ने कहा कि, देश में टीके को लेकर जनाक्रोश के बाद आखिरकार भाजपा सरकार को वही फैसला करना पड़ा, जो समाजवादी पार्टी कह रही थी। समाजवादी लोग हमेशा से कहते रहे हैं कि टीकाकरण मुफ्त होना चाहिए। हमने यह भी कहा था कि 2022 में सपा सरकार के आते ही मुफ्त टीकाकरण कराएगी। भाजपा लगातार टीके पर राजनीति कर रही थी। सपा उस BJP के टीके के खिलाफ थी, ना कि देश के टीके के। हमारे नेता ने स्पष्ट किया है कि हम भी भारत का टीका लगवाएंगे।

भाजपा प्रवक्ता- अखिलेश जी माफी मांग लें, वरना रोज झूठ बोलना पड़ेगा
वहीं, भाजपा प्रवक्ता मनीष शुक्ला ने कहा कि अखिलेश जी झूठ के एक सुराख को बंद करने के लिए झूठों का छप्पर उनके ऊपर डालना होता है। अभी भी समय है वैक्सीन पर दिए गए अपने बयानों पर माफी मांग लीजिए। नहीं तो रोज झूठ बोलना पड़ेगा।

खबरें और भी हैं...