पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

बेंगलुरु की दरगाह का बड़ा फकीर कराता है धर्मांतरण:लखनऊ में पत्नी ने दर्ज कराई FIR; बोली- मेरा पति और सास लव जिहाद कैंपेन चला रहे, मुझसे भी कहा था- 4 हिंदू महिलाओं से मिलवाओ

लखनऊ23 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
महिला की तहरीर पर पुलिस ने आरोपी के खिलाफ केस दर्ज किया है।- प्रतीकात्मक फोटो - Dainik Bhaskar
महिला की तहरीर पर पुलिस ने आरोपी के खिलाफ केस दर्ज किया है।- प्रतीकात्मक फोटो

लखनऊ की रहने वाली एक मुस्लिम महिला ने बेंगलुरु में रहने वाले पति पर गंभीर आरोप लगाए हैं। महिला का दावा है कि उसका पति सैयद हसनैन अशरफ और सास शादिया लव जिहाद अभियान चला रहे हैं। ये दोनों गैर मुस्लिम महिलाओं को अपने जाल में फंसाकर उनका धर्म परिवर्तन करा रहे हैं। हसनैन बेंगलुरु में एक दरगाह का सज्जादानशीन (दरगाह का बड़ा फकीर) है। उसको धर्मांतरण के लिए विदेशों से फंडिंग हो रही है। इस काम में उनके रिश्तेदार भी शामिल हैं। महिला ने लखनऊ के इंदिरानगर थाने में मुकदमा दर्ज कराया है।

महिला ने यह भी बताया कि उसके पति ने उसे धमकाया कि अगर जान बचानी है तो चार गैर मुस्लिम महिलाओं का धर्मांतरण करवाओ। ऐसा न करने पर लंदन में रहने वाले भाई समेत पूरे परिवार को खत्म करने की धमकी दी। जब महिला ने इसका विरोध किया तो उसे मार-पीटकर घर से निकाल दिया। इंदिरानगर थाना पुलिस ने इस मामले में धर्म संपरिवर्तन अधिनियम, दहेज प्रताड़ना, जान से मारने की धमकी समेत अन्य धाराओं में मुकदमा दर्ज करके जांच शुरू कर दी है।

दरगाह में आने वाले लोगों का ब्रेनवॉश करता है
इंदिरानगर इंस्पेक्टर ने बताया कि पीड़ित महिला का नाम उम्मे कुलसूम है। वह खुर्मनगर इलाके में रहती है। उन्होंने आरोप लगाया कि बेंगलुरु में रहने वाला उसका पति सैयद हसनैन अशरफ हिंदू महिलाओं को जाल में फंसाता है। फिर शादी के नाम पर उनका धर्म परिवर्तन कराता है। अशरफ एक दरगाह का सज्जादानशीन है। दरगाह पर हर धर्म के लोग आते हैं, जिसका फायदा उठाकर वह लोगों का ब्रेनवॉश कर मुस्लिम बनाता है।

इंदिरा नगर पुलिस ने केस दर्ज करते हुए मामले की तफ्तीश आगे बढ़ाई है।
इंदिरा नगर पुलिस ने केस दर्ज करते हुए मामले की तफ्तीश आगे बढ़ाई है।

पीड़िता ने यह भी बताया की शादी के कुछ दिनों बाद ही पति उस पर उसकी हिंदू महिला मित्रों से मिलाने का दबाव डालने लगा। विरोध करने पर मारपीट करता। यहां तक धमकी दी कि अगर चार हिंदू महिलाओं को मुस्लिम नहीं बनवाया तो लंदन में रहने वाले तुम्हारे भाई समेत पूरे परिवार को मरवा दूंगा। जब तक चार महिलाओं की व्यवस्था न कर लेना घर मत आना। तब से लगातार धमकी दे रहा है। पीड़िता के मुताबिक, वर्ष 2019 में उसका विवाह अशरफ से हुआ था।

पत्नी प्रेग्नेंट हुई तो रिचा पाहवा नाम की लड़की से किया निकाह, नाम रखा मदिहा
पत्नी के गर्भवती होने के ही दौरान आरोपी पति सैयद हसनैन ने रिचा पाहवा नाम की एक युवती से निकाह कर लिया। जिसका धर्म परिवर्तन कराकर नाम मदिहा रख दिया। पत्नी का आरोप है कि मदिहा का अपनी दरगाह पर आने वाले और लोगों की तरह ब्रेनवॉश कर उससे भी देश विरोधी गतिविधियां कराने लगा है।

लंदन में रहने वाले भाई ने पैसे भेज बचाई थी बेटी की जान
पीड़िता के मुताबिक शादी के बाद से ही सास शादिया हिंदू महिलाओं से दोस्ती कर उन्हें मुस्लिम बनवाने का दबाव डालने लगी। विरोध पर दहेज की मांग शुरू कर दी। गर्भवती होने पर भ्रूण परीक्षण कराया। बेटी के बारे में जानकारी होने पर गर्भपात कराने या उसके पालन पोषण के लिए 25 लाख मायके से लाने को कहा। इस पर लंदन में नौकरी करने वाले भाई ने 7.50 लाख रुपए भेज कर बेटी की जान बचाई।

खबरें और भी हैं...