टेलीकॉम व्यवसायी के बेटे को स्कार्पियो सवार युवकों ने उठाया:लखनऊ के चिनहट थाने में परिजनों ने दर्ज कराया मुकदमा, अपहरण की आशंका

लखनऊ10 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
लापता युवक की फाइल फोटो। - Dainik Bhaskar
लापता युवक की फाइल फोटो।

लखनऊ के चिनहट थाना क्षेत्र के मल्हौर यमुना विहार से सोमवार दोपहर एक टेलीकॉम व्यवसायी के बेटे को संदिग्ध हालात में स्कार्पियो सवार युवक उठा ले गए। परिजनों ने अपहरण की आशंका जताते हुए चिनहट थाना में मुकदमा दर्ज कराया है। परिजनों का आरोप है कि पुलिस के सुस्त रवैये से बेटे का अभी तक कोई सुराग नहीं लगा है। वहीं थाना पुलिस का कहना है कि परिजन पहले घटना को छुपाए रहे। परिजनों ने सोमवार देर रात घटना की सूचना दी। युवक की तलाश में सर्विलांस व चौकी पुलिस की टीम लगाई गई है।

यमुना विहार कालोनी निवासी टेलीकॉम व्यवसायी सिराजुद्दीन ने बताया कि घर के पास ही उनकी दुकान व आफिस है। जिसमें उनका बेटा रियाजुद्दीन (26) बैठता है। सोमवार दोपहर बात सफेद रंग की स्कार्पियो सवार पांच-छह लोग दुकान के बाहर पहुंचे। उसके बाद बेटे को दुकान के बाहर बुलाया। बेटे के बाहर आते ही स्कार्पियों में खींच कर उठा ले गए। तभी से बेटे का मोबाइल नंबर भी बंद जा रहा है।

डीसीपी संजीव सुमन के मुताबिक देर रात सिराजुद्दीन ने मामले की तहरीर दी थी। पिता की तहरीर पर मुकदमा दर्ज कर संदिग्ध युवकों की तलाश शुरू कर दी गई है। घटना के पीछे पुरानी रंजिश व लेनदेन के बिंदु पर जांच की जा रही है। अपहरण की आशंका से भी इंकार नहीं किया जा सकता। हालांकि अभी तक परिजनों के पास किसी भी तरह की फिरौती या धमकी का फोन नहीं आया है। युवक की तलाश में दो टीम लगाई गई हैं।

पांच संदिग्ध नंबर सर्विंलासं पर, अपहरण के दस मिनट बाद तक खुला था पीड़ित का नंबर
पुलिस सूत्रों के मुताबिक घटना स्थल के आसपास और अपहृत रियाजुद्दीन के मोबाइल से पांच संदिग्ध नंबर छांट कर सर्विलांस पर लगाए गए हैं। रियाजुद्दीन की आखिरी लोकेशन चिनहट के आउटर एरिया की मिली है। उसके बाद मोबाइल स्विच आफ हो गया। परिजन भी शुरू में घटना को छुपाए रहे। वहीं पिता सिराजुद्दीन ने भी बताया कि अपहरण की तीन बजे जानकारी के बाद बेटे को फोन मिलाया, लेकिन बात नहीं हुई। फिर दस मिनट बाद नंबर बंद जाने लगा। देर रात तक कोई उसका सुराग न मिलने पर पुलिस को सूचना दी।

खबरें और भी हैं...