• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Lucknow
  • The Restaurant Is Located In Singapore Mall In Lucknow, On The Orders Of The Commissioner Of Police, A Case Was Registered Against The Firm Of Saharanpur

रेस्त्रां में इंटीरियर करने के नाम पर लाखों की ठगी:लखनऊ में सिंगापुर मॉल में स्थित है रेस्त्रां, पुलिस कमिश्नर के आदेश पर सहारनपुर की फर्म पर दर्ज हुआ मुकदमा

लखनऊ3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
प्रतीकात्मक फोटो। - Dainik Bhaskar
प्रतीकात्मक फोटो।

लखनऊ में सिंगापुर मॉल स्थित रेस्त्रां में इंटीरियर डेकोरेशन के नाम पर सहारनपुर स्थित फर्म ने 27 लाख रुपये की धोखाधड़ी की है। रेस्त्रा के निदेशक ने लखनऊ पुलिस कमिश्नर डीके ठाकुर से मिलकर शिकायत दर्ज कराई। पुलिस कमिश्नर के आदेश पर विभूतिखंड थाना पुलिस मामले की जांच कर रही है। दूसरी तरफ पीजीआई थाना में एक पाइप कंपनी के सेल्समैन ने दुकानदार के खिलाफ 15 लाख धोखाधड़ी और तगादा करने पर मारपीट का मुकदमा दर्ज कराया है।

बाराबंकी निवासी एमएस क्लब के निदेशक मनोज जायसवाल का सिंगापुर मॉल की दूसरी मंजिल पर रेस्त्रां हैं। जिसे शिवकुमार शर्मा के साथ चलाते हैं। उनका आरोप है कि रेस्त्रां की इंटीरियर डिजाइनिंग के लिए सहारनपुर की सीक्यू इंटीरियो फर्म को ठेका दिया था। कंपनी के निदेशक जैनब खान और उसके पिता परवेज से 43 लाख रुपये में डील हुई थी। डील के मुताबिक सीक्यू फर्म को फर्नीचर, डेकोरेशन, किचन, लाइट, फॉल्ससीलिंग और साउंड आदि का काम करना था। चार लाख रुपये का काम करने के बाद सीक्यू फर्म ने काम बंद कर दिया। जबकि पहली किस्त के तौर पर 27 लाख रुपये इंटीरियर फर्म को दिए थे। जैनब से बातचीत की तो उसने आगे काम करने से मना कर दिया। विरोध पर जैनब के पिता परवेज ने झूठे मुकदमे में फंसाने की धमकी दी है। जिसके चलते पुलिस कमिश्नर डीके ठाकुर से मिलकर शिकायत दर्ज कराई। विभूतिखंड इंस्पेक्टर चंद्रशेखर सिंह ने बताया मुकदमा दर्ज कर जांच की जा रही है। साक्ष्य के आधार पर आगे की कार्रवाई की जाएगी।

तगादा करने पर व्यापारी पिता-पुत्र ने सेल्समैन को पीटा
एसएनबी इंटरप्राइजेज सोनीपत (पाइप कंपनी) में उन्नाव निवासी शब्बीर अहमद सेल्समैन हैं। शब्बीर का आरोप है कि पीजीआई सेनानी विहार स्थित जेएसटी जिंदल पाइप फर्म मालिक इकराम अली और मो. आलम ने 34 लाख रुपये का कंपनी से पाइप लिया और सिर्फ 18 लाख का पेमेंट किया। इसके बाद फिर से 34 लाख का सामान लिया। दुकानदारों ने जिसका पेमेंट नहीं किया। काफी दबाव बनाने पर 35 लाख ही दिए। सात सितंबर को बकाया करीब 15 लाख रुपये मांगने पर फर्म मालिक इकराम और मो. आलम ने मारपीट की। इंस्पेक्टर पीजीआई आनंद प्रकाश शुक्ल ने बताया कि शब्बीर की तहरीर पर मुकदमा दर्ज कर जांच की जा रही है।

खबरें और भी हैं...