• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Lucknow
  • The Trouble Of The Merciful Police Increased On Those Who Attacked The Judicial Officer In The Court Premises, Action Is Being Taken On The Orders Of The High Court

ACJM पर हमले के आरोपी चार साल से फरार:कोर्ट परिसर में न्यायिक अधिकारी पर हमला करने वालों पर मेहरबान पुलिस की मुश्किल बढ़ी, हाईकोर्ट के आदेश पर करनी पड़ रही कार्रवाई

लखनऊ13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

लखनऊ पुलिस का आपराधिक घटनाओं में लिप्त वकीलों से गठजोड़ अब टूटने लगा है। कोर्ट परिसर में महिला ACJM पर हमले के जिन आरोपियों को पुलिस चार साल से बचा रही थी, उनपर कार्रवाई करना मजबूरी बन गया। हाईकोर्ट ने ऐसे वकीलों के खिलाफ सख्त कार्रवाई के आदेश दिए तो पुलिस ने 4 आरोपी वकीलों पर 25-25 हजार रुपए का इनाम घोषित कर दिया।

लखनऊ जिला न्यायालय में एक युवती के केस की सुनवाई के दौरान वकीलों ने महिला न्यायिक अधिकारी पर हमला कर दिया था। 2017 में हुईं घटना में दर्जन भर वकीलों के खिलाफ केस तो दर्ज किया गया लेकिन पुलिस आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई करने से बच रही थी। जिस वजीरगंज थाने में उनपर रिपोर्ट दर्ज थी उसी थाने में आरोपी वकील हर रोज किसी न किसी मामले की पैरवी के लिए घंटो बैठे रहते थे। लेकिन पुलिस उन्हें गिरफ्तार करने की बजाय उन्हें फरार बताती रही।

हाईकोर्ट की सख्ती के बाद टूटा पुलिस का याराना

बीते दिनों हाईकोर्ट ने महिला न्यायिक अधिकारी पर हमले के आरोपियों की गिरफ्तारी के साथ अपराध में लिप्त वकीलों पर कार्रवाई का आदेश दिया था। कोर्ट का यह आदेश पुलिस के लिए मुसीबत बन गया। पुलिस ने करीब 15 दिन पहले इन आरोपी वकीलों में से दो को गिरफ्तार कर जेल भेजा। शुक्रवार को चार आरोपी वकील शरद यादव, अभिषेक शुक्ला, राजकुमार शर्मा और सौरभ प्रताप सिंह को फरार दिखाकर इनपर 25-25 हजार रुपये का इनाम घोषित किया है। DCP सोमेन वर्मा का कहना है कि आरोपियों की संपत्ति कुर्क करने के लिए भी कोर्ट से अनुमति लेने की अर्जी दी जाएगी।

खबरें और भी हैं...