पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

UP ATS ने नाकाम की ISI की बड़ी साजिश:अलीगढ़ में PM की रैली से पहले गिरफ्तार हुए 4 जिलों से 3 संदिग्ध, ISI मॉड्यूल के एजेंट बताए जा रहे; एक IED बरामद

लखनऊएक दिन पहले

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अलीगढ़ दौरै से पहले यूपी ATS (उत्तर प्रदेश आतंकवाद निरोधक दस्ता) ने मंगलवार को तीन संदिग्धों को गिरफ्तार कर लिया है। बताया जा रहा है कि ATS इन्हें प्रयागराज, लखनऊ, प्रतापगढ़ और रायबरेली जिले में एक साथ रेड कर दबोचा है। तीनों के ISI (Inter Services Intelligence) के एजेंट होने की बात सामने आ रही है। प्रयागराज में पकड़े गए एक संदिग्ध के पास से जिंदा बम भी बरामद किया गया है। बम डिस्पोजल दस्ते ने डिफ्यूज कर दिया।

एडीजी लॉ एंड ऑर्डर प्रशांत कुमार ने बताया कि तीनों संदिग्धों पूछताछ की जा रही है। सूत्रों के मुताबिक इन लोगों के निशाने पर बड़ी राजनीतिक हस्तियों के साथ अयोध्या, बनारस और मथुरा के धार्मिक स्थल थे। एटीएस सूत्रों के मुताबिक, मुखबिरों से प्रदेश में ISI के मॉड्यूल के सक्रिय होने की सूचना मिली थी। इसके आधार पर लखनऊ, रायबरेली, प्रतापगढ़ और प्रयागराज में छापेमारी की गई।

मदरसा संचालक के घर छापेमारी
ATS की लखनऊ और वाराणसी टीम को खुफिया इनपुट मिला था। इस इनपुट के आधार पर प्रयागराज के करेली के करामत चौकी इलाके में छापेमारी की कार्रवाई हुई। करेली के वसियाबाद निवासी मदरसा संचालक मुफ्ती सैफुर्रहमन के घर पर और उससे जुड़े लोगों के यहां ATS ने देर शाम तक पूछताछ की। सबूत जुटाने के लिए सर्च ऑपरेशन चलाया गया। मदरसा संचालक के घर पहुंची एटीएस ने मौजूद महिलाओं से भी पूछताछ की। ATS की दूसरी टीम ने जीटीबी नगर में भी छापेमारी की। सूत्रों के मुताबिक ATS करेली के तिरंगा चौराहे पर रहने वाले उबैदुर्र रहमान के घर व 60 फीट रोड पर भी छापा मारा है।

प्रयागराज में पकड़े गए एक संदिग्ध के पास से जिंदा बम भी बरामद किया गया है।
प्रयागराज में पकड़े गए एक संदिग्ध के पास से जिंदा बम भी बरामद किया गया है।

एक नजर में समझें यूपी से ये 4 संदिग्ध हिरासत में

  • मूलचंद उर्फ संजू उर्फ लाला, निवासी गांव सलीमपुर भैरो, जिला रायबरेली (यूपी)
  • जीशान कमर, निवासी GTB नगर करेली, जिला प्रयागराज (यूपी)
  • मोहम्मद अमीर जावेद, निवासी मानकनगर प्रेमवती नगर, बक्शी का तालाब, लखनऊ (यूपी)
खबरें और भी हैं...