• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Lucknow
  • Mass Religion Conversion In UP: Umar Gautam Team Member Dr Faraz Shah Appeared In Special Court In Lucknow Who Arrested In Maharashtra Over Religion Conversion Case

उमर गौतम का एक और साथी महाराष्ट्र से गिरफ्तार:क्लीनिक की आड़ में चला रहा था धर्म परिवर्तन का कारोबार; यवतमाल से लखनऊ लाया गया, विशेष कोर्ट में हुई पेशी

लखनऊ10 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
8 अगस्त की रात महाराष्ट्र के यवतमाल के पूसद कस्बे से आरोपित डॉ. फराज शाह को गिरफ्तार किया गया। - Dainik Bhaskar
8 अगस्त की रात महाराष्ट्र के यवतमाल के पूसद कस्बे से आरोपित डॉ. फराज शाह को गिरफ्तार किया गया।
  • आरोपी डॉ. फराज धर्मांतरण कराने वाले मुख्य आरोपी मुफ्ती काजी और उमर गौतम का साथी है
  • एटीएस अब डॉ. फराज को पुलिस रिमांड पर लेने की तैयारी कर रही है

धर्मांतरण कराने वाले इस्लामिक दावा सेंटर (IDC) गिरोह से जुड़े एक और आरोपी डॉ. फराज शाह को यूपी ATS (आतंकवाद निरोधक दस्ता) ने महाराष्ट्र के यवतमाल से दबोचा है। सोमवार शाम आरोपी को महाराष्ट्र से लखनऊ लाकर विशेष कोर्ट में पेश किया गया। एटीएस अब उसे पुलिस रिमांड पर लेने की तैयारी कर रही है।

बताया जा रहा है कि आरोपी डॉ. फराज जून माह में गिरफ्तार एक हजार से अधिक हिंदुओं का धर्मांतरण कराने वाले मुख्य आरोपी मुफ्ती काजी और उमर गौतम का साथी है। डॉ. फराज शाह महराष्ट्र के कई जिलों में धर्मांतरण का खेल बड़े पैमाने पर चल रहा था।

ATS टीम के मुताबिक, डॉ. फराज शाह, उमर गौतम व उसके साथियों के साथ मिलकर बड़े स्तर पर मोटी रकम का लालच देकर धर्म परिवर्तन करा रहा था। डॉ. फराज शाह ने एमबीबीएस किया हुआ है और अपने घर के पास ही क्लीनिक का संचालन करता था। वह क्लीनिक से भी धर्मांतरण से जुड़ी गतिविधियों को चला रहा था।

महाराष्ट्र से लाकर लखनऊ की विशेष कोर्ट में हुई पेशी, ATS अब लेगी पुलिस रिमांड पर
एडीजी लॉ एंड ऑर्डर प्रशांत कुमार के मुताबिक, बीती 8 अगस्त की रात महाराष्ट्र के यवतमाल के पूसद कस्बे से आरोपित डॉ. फराज शाह को गिरफ्तार किया गया। ATS की टीम उसे लेकर सोमवार शाम लखनऊ पहुंची और यहां विशेष कोर्ट में पेश किया। एटीएस अब उसे पुलिस रिमांड पर लेने की तैयारी कर रही है।

इसके साथ ही उन्होंने बताया कि फराज 17 जुलाई को नागपुर (महाराष्ट्र) से गिरफ्तार किए गए रामेश्वर कांवरे उर्फ एडम, कौसर आलम व भूप्रिय बंदो उर्फ डॉ.अर्सलान का सक्रिय साथी रहा है। राष्ट्र विरोधी व सांप्रदायिक सौहार्द बिगाड़ने वाली कई ऑडियो क्लिप मिली हैं। आरोपितों की आवाज के नमूने लेकर उनका परीक्षण कराया जा रहा है। वह मुख्य आरोपी उमर गौतम के भी सीधे संपर्क में था।

20 जून को मौलाना उमर गौतम व मुफ्ती काजी जहांगीर की हुई थी गिरफ्तारी
बता दें, बीते 20 जून को एटीएस ने धर्म परिवर्तन के मामले में दिल्ली निवासी मौलाना उमर गौतम व मुफ्ती काजी जहांगीर आलम कासमी को गिरफ्तार किया था। यह मूक-बधिर बच्चों, महिलाओं व कमजोर आय वर्ग के लोगों को डरा-धमका कर और उन्हें तरह-तरह की लालच देकर अपने मनसूबों को अंजाम देते थे। उमर गौतम दिल्ली से संचालित संस्था इस्लामिक दावा सेंटर (IDC) के जरिए अपनी गतिविधियों को बढ़ा रहा था। एटीएस ने बीते दिनों उमर के सक्रिय साथी हरियाणा निवासी मन्नू यादव उर्फ अब्दुल मन्नान, महाराष्ट्र के निवासी इरफान शेख व दिल्ली निवासी राहुल भोला को भी गिरफ्तार किया था। इस मामले में अब तक 9 आरोपितों की गिरफ्तार की जा चुकी है।

खबरें और भी हैं...