रहे सतर्क,यूपी में बरकरार है कोरोना संकट:प्रदेश में कोरोना के 586 सक्रिय मामले,शनिवार को मिले 28 नए संक्रमित,58 हुए रिकवर और 2 की हुई मौत

लखनऊ2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
शनिवार को प्रदेश भर में कुल 2 लाख 54 हजार 7 सैंपल की जांच हुई।इस दौरान 28 मरीजों में वायरस की पुष्टि हुई और 58 लोग वायरस को हराने में सफल रहे। - Dainik Bhaskar
शनिवार को प्रदेश भर में कुल 2 लाख 54 हजार 7 सैंपल की जांच हुई।इस दौरान 28 मरीजों में वायरस की पुष्टि हुई और 58 लोग वायरस को हराने में सफल रहे।

प्रदेश में कोरोना के आंकड़ों में गिरावट और उछाल का दौर जारी है पर वायरस की चेन नहीं टूट रही।यही कारण है कि तीसरी लहर का खतरा अभी भी बरकरार है।यूपी में शनिवार को 2 लाख 54 हजार 7 सैंपल की जांच हुई।इस दौरान 28 मरीजों में वायरस की पुष्टि हुई।इस बीच 58 लोग वायरस को हराने में सफल रहे।वही,प्रदेश में कोरोना से मरने वालों की संख्या की बात करें तो शनिवार को गोंडा व रायबरेली के एक - एक संक्रमित मरीज के मौत की पुष्टि हुई है।यूपी में अब तक 6 करोड़ 72 लाख 21 हजार 784 टेस्ट किए गए।

9 जिले कोरोना मुक्त,58 जिलों में नही मिले पॉजिटिव केस -

प्रदेश में अलीगढ़, अमेठी, एटा, हाथरस, पीलीभीत, महोबा, गोंडा, मिर्जापुर,फिरोजाबाद और प्रतापगढ़ में कोरोना के सक्रिय मामले शून्य है यानी यहां पर कोरोना के एक भी मरीज नहीं रह गए हैं।इसके अलावा 58 जिलों में शनिवार को कोई पॉजिटिव केस नही मिला है।

यह है पॉजिटिविटी रेट व रिकवरी रेट -

राज्य में पॉजिटिविटी रेट 0.04 से घटकर 0.01 फीसद रह गई है।वहीं मृत्युदर अभी 1 फीसद पर बनी हुई है। जून में प्रदेश में संक्रमण दर का औसत 1 फीसद रहा, जबकि जुलाई में 0.3 फीसद पॉजिटीविटी रेट दर्ज की गई।30 अप्रैल को यूपी में सर्वाधिक एक्टिव केस 3 लाख 10 हजार 783 रहे।अब यह संख्या घटकर 586 रह गई। वहीं रिकवरी रेट मार्च में जहां 98.2 फीसद थी। अप्रैल में घटकर 76 फीसद तक पहुंच गई थी।वर्तमान में फिर रिकवरी रेट 98.6 फीसद दर्ज की गई हैवहीं 2020 से अब तक कोरोना की कुल संक्रमण दर 2.68 फीसदी रह गई।

इन राज्यों से आ रहे यात्रियों पर नजर रखने का किया जा रहा दावा -

जिन राज्यों में साप्ताहिक संक्रमण दर 3 फीसदी तक है, वहां से आने वाले लोगों की आरटीपीसीआर रिपोर्ट अनिवार्य है।इसके अलावा यदि वैक्सीन की दोनों डोज का प्रमाणपत्र है, तो जांच की जरूरत नहीं है। मगर, बाहर से आने पर सात दिन क्वारेन्टीन रहने की सलाह दी गयी है।इन राज्यों में मेघालय, नागालैंड, अरुणाचल प्रदेश, त्रिपुरा, महाराष्ट्र, गोवा, उड़ीसा, आंध्रप्रदेश, मिजोरम, केरल आदि हैं।

लखनऊ में शुरु हुई फोकस टेस्टिंग -

शहर में गुरुवार से फोकस टेस्टिंग शुरू की गई।इस दौरान ओपीडी में आने वाले मरीजों का एंटीजन टेस्ट किया गया।राजधानी में फोकस टेस्टिंग कर 5 हजार लोगों की जांच की गई।

यह है वैक्सीनेशन अपडेट -

03 अगस्त को यूपी में रिकॉर्ड तोड़ 28 लाख 04 हजार 258 लोगों का वैक्सीनेशन हुआ।अब तक प्रदेश में 4 करोड़ 49 लाख 74 हजार 649 को पहली डोज व 83 लाख 20 हजार 884 को दूसरी डोज लगी।अब तक कुल 5 करोड़ 32 लाख 95 हजार 533 को वैक्सीन की डोज लगाई गई है।

क्या कहते है एक्सपर्ट -

राजधानी लखनऊ के एसजीपीजीआई के निदेशक डॉ आरके धीमन के मुताबिक कोरोना की तीसरी लहर का खतरा जरुर मंडरा रहा है। हमे बेहद सावधानी पूर्वक कोविड एप्रोप्रियेट बेहवीयर का पालन करना होगा।साथ ही दूसरे राज्यों से रहे यात्रियों की स्क्रीनिंग बहुत जरुरी है।हम उन्हें बिना टेस्ट किए रेलवे स्टेशन या एयर पोर्ट से बाहर नही जाने दे सकते।फोकस टेस्टिंग पर भी ध्यान देने की जरुरत है।अब तक यूपी में हमने स्थितियों को नियंत्रण में रखा है पर आगे भी इसे बरकरार रखना होगा।पॉजिटिव केस की जीनोम सिक्वेंसिंग और वैक्सीनेशन को तेजी से बरकरार रखना होगा।

24 घंटे में प्रदेश के साथ बड़े शहरों में आएं कुल मामले -

लखनऊ - पॉजिटिव केस रिपोर्ट हुए 3,रिकवर हुए 9, एक्टिव केस - 71,

प्रयागराज - पॉजिटिव केस रिपोर्ट हुए 3,रिकवर हुए 2, एक्टिव केस - 37,

वाराणसी - पॉजिटिव केस रिपोर्ट हुए 2,रिकवर हुए 2, एक्टिव केस - 32,

गोरखपुर - पॉजिटिव केस रिपोर्ट हुए 0,रिकवर हुए 3, एक्टिव केस - 16,

मेरठ - पॉजिटिव केस रिपोर्ट हुए 0,रिकवर हुए 3, एक्टिव केस - 11,

कानपुर - पॉजिटिव केस रिपोर्ट हुए 2,रिकवर हुए 10, एक्टिव केस - 18,

आगरा - पॉजिटिव केस रिपोर्ट हुए 1,रिकवर हुए 0, एक्टिव केस - 11

खबरें और भी हैं...