कांग्रेस का UP के लिए उन्नति विधान-पत्र जारी:20 लाख नौकरियां, 10 लाख तक मुफ्त इलाज; मृतक कोविड योद्धाओं को 50 लाख का मुआवजा

लखनऊ8 महीने पहले

भाजपा और सपा के बाद कांग्रेस ने उत्तर प्रदेश चुनाव में अपना घोषणा पत्र जारी किया। बुधवार को कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने लखनऊ स्थित प्रदेश मुख्यालय में उन्नति विधान घोषणा पत्र जारी किया। इससे पहले कांग्रेस महिलाओं को लेकर 'शक्ति विधान' और युवाओं के लिए 'भर्ती विधान' घोषणा पत्र जारी कर चुकी है।

घोषणा पत्र कार्यक्रम की शुरुआत में पूर्व केंद्रीय मंत्री सलमान खुर्शीद ने कहा कि यह जनता की इच्छाओं का सम्मान-पत्र है। उन्होंने कहा कि इसे घर में बैठ कर नहीं बनाया गया है। लोगों के बीच जाकर इस घोषणा पत्र को तैयार किया है।

बागपत के व्यापारी का किया जिक्र

प्रियंका गांधी ने बागपत के व्यापारी की फेसबुक लाइव आकर आत्महत्या करने की घटना का भी जिक्र किया और फिर छोटे-मंझोले व्यापारियों के लिए कांग्रेस की योजना का जिक्र किया। उन्होंने कहा-

  • मृतक कोविड योद्धाओं को 50 लाख का मुआवजा मिलेगा
  • ब्लॉक स्तर पर इंटरनेट सुविधा से युक्त पुस्तकालय बनेंगे
  • 10 वीं और 12 वीं पास बेटियों को स्मार्ट फोन, स्कूटी मिलेगी
  • गांव के तालाबों सहित जलाशयों का मानचित्रण और पंजीकरण
  • सूक्ष्म और लघु उद्योग के लिए क्रेडिट गारंटी फंड ट्रस्ट के तहत गारंटी मुक्त लोन
  • आउट सोर्सिंग बंद और संविदा रोजगार को युक्ति संगत बनाया जाएगा
  • स्कूलों में मिड-डे मील बनाने वाले रसोइयों को 5000 मानदेय दिया जाएगा

घोषणा पत्र जारी करने लखनऊ पहुंची कांग्रेस की महासचिव प्रियंका गांधी ने इससे पहले BJP के घोषणा पत्र को झूठ का पुलिंदा बताया। प्रियंका ने ट्वीट कर कहा कि भाजपा को अपने घोषणा पत्र का नाम धोखा पत्र रखना चाहिए। 70 सालों की रट लगाने वाली भाजपा 5 सालों में अपने घोषणा पत्र के 1/4 वादे भी नहीं पूरे कर पाई। न 5 सालों के काम का हिसाब, न ही भविष्य निर्माण का कोई विजन। इसलिए कांग्रेस की प्रतिज्ञाओं को कॉपी-पेस्ट करके अपना काम चला रही है।

शक्ति विधान और भर्ती विधान में क्या रहा खास
उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के पहले चरण का मतदान 10 फरवरी को है। यूपी चुनावों के लिए कांग्रेस आज अपना घोषणा पत्र 'उन्नति विधान' जारी करेगी। इस मेनिफेस्टो को कांग्रेस के वरिष्ठ नेता सलमान खुर्शीद और पीएल पुनिया ने जनता के बीच जाकर तैयार किया है। कांग्रेस के नेताओं ने जनता के मुद्दों को समझा है और उन्हें घोषणा पत्र में शामिल किया है। इस घोषणा पत्र को 'उन्नति विधान' नाम दिया गया है। इससे पहले कांग्रेस पार्टी युवाओं के लिए 'भर्ती विधान' और महिलाओं के लिए 'शक्ति विधान' घोषणा पत्र जारी कर चुकी है।

महिलाओं के लिए 'शक्ति विधान' घोषणा
19 अक्टूबर 2021 को कांग्रेस ने आगामी विधानसभा चुनाव में 40 फीसदी टिकट महिला उम्मीदवारों को देने का ऐलान किया था। इस घोषणा की राजनीतिक हलकों में बड़ी चर्चा रही।

  • घोषणा पत्र में 12वीं पास करने वाली लड़कियों को मुफ्त में स्कूटी और स्मार्टफोन देने जैसे वादे किए हैं।
  • कांग्रेस ने हर साल महिलाओं को तीन गैस सिलेंडर मुफ्ते देने का वादा किया है।
  • इसके अलावा किसी परिवार में पैदा होने वाली बालिका के लिए सरकार बैंक में पैसे जमा करवाएगी।
  • पुलिस की भर्ती में महिलाओं को 25 फीसदी आरक्षण देने और आशा-आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं का मानदेय बढ़ाने का भी वादा कांग्रेस ने किया है।

भर्ती विधान में युवाओं के लिए बड़ी घोषणाएं

  • 20 लाख सरकारी नौकरियों की गारंटी, जिसमें आठ लाख पद महिलाओं के लिए होंगे।
  • प्राथमिक विद्यालयों में शिक्षकों के रिक्त 1.5 लाख पद भरे जाएंगे।
  • स्टार्टअप के लिए युवाओं को प्राथमिकता पर 5,000 करोड़ का 'सीड स्टार्ट अप फंड'।
  • बेसिक शिक्षा क्षेत्र में 1 लाख प्रधानाध्यापक की कमी को पूरा किया जाएगा।
  • संस्कृत के शिक्षक, उर्दू के शिक्षक, आंगनबाड़ी, आशा आदि में खाली पदों को भरा जाएगा।
  • परीक्षाओं के फॉर्म के लिए शुल्क माफ होंगे और बस-ट्रेन यात्रा फ्री होगी।

UP में सात चरणों में चुनाव
UP की 403 सीटों पर 7 चरणों में मतदान होगा। पहले चरण में 10 फरवरी, दूसरा चरण 14 फरवरी, तीसरा 20 फरवरी, चौथा 23 फरवरी, 5वां 27 फरवरी, छठां 3 मार्च और 7वें व आखिरी चरण का मतदान 7 मार्च को होगा। चुनाव की शुरुआत पश्चिम से की गई है, जबकि पूर्वांचल में अंतिम चरण के मतदान होंगे। पिछले चुनाव में भी ऐसा ही हुआ था। इस बार रिजल्ट 10 मार्च को आएंगे।