पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

UP विधानमंडल का बजट सत्र:राज्यपाल ने कहा- कोरोनाकाल में सरकार के प्रयासों की हुई प्रशंसा; सपा MLA ने किया हंगामा, बसपा-कांग्रेस का वॉक आउट

लखनऊ10 दिन पहले
सपा नेता ट्रैक्टर से पहुंचे विधानसभा।
  • पुलिस ने सपा MLC राजेश यादव समेत तीन नेताओं को हिरासत में लिया, सपा ने इसे लोकतंत्र की हत्या करार दिया
  • केंद्र सरकार की तर्ज पर उत्तर प्रदेश सरकार भी पेपरलेस बजट पेश करेगी, 10 मार्च तक चलेगा सदन

उत्तर प्रदेश विधानमंडल का बजट सत्र आज राज्यपाल आनंदीबेन पटेल के अभिभाषण से शुरू हो गया है। आज पहले दिन समाजवादी पार्टी के विधायकों ने वेल में आकर जमकर हंगामा किया। नारेबाजी करते हुए सपा विधायकों ने पोस्टर लहराया। वहीं, कांग्रेस और बसपा विधायकों ने अभिभाषण का विरोध करते हुए सदन से वॉक आउट किया। सदन की कार्यवाही 19 फरवरी को 11 बजे तक के लिए स्थगित कर दिया गया है। इस बार योगी सरकार 22 फरवरी को पेपरलेस बजट पेश करेगी।

विधानसभा व विधान परिषद के संयुक्त सदन की कार्यवाही में सबसे पहले मृतक सदस्यों की आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना की गई। हालांकि इस दौरान विपक्षी पार्टियों के विधायक हंगामा करते रहे। जिसके चलते राज्यपाल आनंदीबेन पटेल को 7 मिनट देरी से अपना अभिभाषण शुरू किया। राज्यपाल ने कहा कि कोरोनाकाल में सरकार द्वारा किए गए प्रयासों की पूरे देश में प्रशंसा हुई है। इसके अलावा 'सबका साथ-सबका विकास' की नीतियों पर प्रदेश सरकार के काम की सराहना की।

सदन में हंगामा करते सपा विधायक।
सदन में हंगामा करते सपा विधायक।

राज्यपाल आनंदीबेन के अभिभाषण की प्रमुख बातें

  • निवेश को आकर्षित करने के लिए कानून व्यवस्था में सुधार नियंत्रण और अन्य सुविधाएं प्रदान करने से उत्तर प्रदेश ईज ऑफ डूइंग बिजनेस रैंकिंग में देश में दूसरे स्थान पर रहा। इन्वेस्टर्स समिट में 4.5 लाख करोड़ रुपए का निवेश प्रस्ताव प्राप्त हुआ। जिसमें तीन लाख कोरोना की परियोजना सक्रिय संचालित हो रही। निवेश मित्र पोर्टल के माध्यम से 227 सेवाएं सम्मिलित की जा चुकी है। कोरोनावायरस प्रदेश में 56 परिजनों के लिए 45000 रुपए का निवेश प्राप्त हुआ।
  • प्रदेश में 2 बड़े एक्सप्रेसवे तैयार किए जा रहे हैं। पूर्वांचल एक्सप्रेसवे की लंबाई 340 किलोमीटर है। जिसमें सुल्तानपुर के पास लड़ाकू विमानों की लैंडिंग और टेकऑफ किए जाने की भी व्यवस्था की गई है। इसके अलावा बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे जो कि 296 किमी लंबा का कार्य गतिमान है। जनपद मेरठ से प्रयागराज तक गंगा एक्सप्रेस निर्माण प्रारंभ होने की स्थिति में है और इनके लिए भूमि प्राप्त किए जाने की कार्यवाही की जा रही है।
  • हवाई कनेक्टिविटी को बढ़ावा पर निरंतर प्रयास किए जा रहे हैं। गौतमबुद्ध नगर में जेवर विश्व स्तरीय एयरपोर्ट का निर्माण विकास कराया जा रहा है। कुशीनगर में हवाई अड्डा उड़ान के लिए तैयार हो चुका है। प्रदेश में 5 अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे लखनऊ, वाराणसी, कुशीनगर, अयोध्या, बरेली, प्रयागराज से भी आगामी 8 मार्च 2021 से शुरू हो रही हैं। इसके अतिरिक्त अलीगढ़, आजमगढ़, श्रावस्ती और मुरादाबाद में निर्माण का हो गया है।
  • आधुनिक तकनीक को बढ़ावा देने के लिए उत्तर प्रदेश इलेक्ट्रॉनिक्स विनिर्माण नीति 2017 में 20 हजार करोड़ के निवेश और वर्ष 2022 तक न्यूनतम 300000 बच्चों के लिए रोजगार का लक्ष्य रखा गया है।
  • मुख्यमंत्री RO पेयजल योजना के अंतर्गत बस्ती, गोरखपुर मंडल जापानी जैपनीज बुखार से प्रभावित 7 जनपदों तथा बुंदेलखंड क्षेत्र के 14 जनपदों के 28 हजार से अधिक प्राथमिक उच्च प्राथमिक विद्यालय 25-25 लीटर क्षमता के अल्ट्राफिल्ट्रेशन तकनीक पर आधारित जल साधनों का शामिल किया गया है।
  • भारत सरकार के द्वारा चयनित प्रदेश में 10 शहरों में 20 हजार करोड़ की परियोजनाएं जारी हैं। इसके अतिरिक्त स्मार्ट सिटी मिशन के अंतर्गत मेरठ, गोरखपुर, अयोध्या शाहजहांपुर, मथुरा, वृंदावन और फिरोजाबाद एवं गाजियाबाद को भी स्मार्ट सिटी बनाने के लिए विकसित किए जाने का कार्य प्रशस्त है।
  • स्वच्छ भारत मिशन के अंतर्गत ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्रों में लगभग 2. 27 करोड़ व्यक्तिगत एवं 45,000 सामुदायिक शौचालय का निर्माण कराया जा चुका है।
ट्रैक्टर पर गन्ना लेकर सपा विधायक विधानसभा पहुंचे थे।
ट्रैक्टर पर गन्ना लेकर सपा विधायक विधानसभा पहुंचे थे।

विपक्ष ने कानून व्यवस्था के मुद्दे पर घेरा

  • सपा विधानमंडल दल के नेता रामगोविंद चौधरी ने कहा कि प्रदेश सरकार और देश की सरकार में कानून व्यवस्था अत्यंत खराब हो गई है। प्रत्येक दिन महिलाओं के साथ घटनाएं हो रही हैं। उन्नाव में घटना हुई। सर्वोच्च न्यायालय से लेकर मानवाधिकार तक ने टिप्पणी की है कि कानून व्यवस्था की स्थिति प्रदेश में बहुत ही खराब है। विश्व में उत्तर प्रदेश एक नंबर पर राज्य हो गया है, जहां पर अपराध सर्वाधिक है तो वहीं देश पांचवें नंबर पर पहुंच गया। ऐसे हालात में किसानों और हो रहे अपराधियों पर लगाम ना लगाने वाली सरकार जनहित में नहीं हैं।
  • कांग्रेस विधानमंडल दल के नेता आराधना मिश्रा मोना ने कहा कि पूरी तरीके से सरकार संवेदनशील हो गई है। हमें लगा कि राज्यपाल अपने संबोधन से पहले की दिल्ली बॉर्डर पर शहीद हुए 200 किसान उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित करेंगे। लेकिन राज्यपाल ने अपना भाषण पढ़ना शुरू कर दिया। लगातार उत्तर प्रदेश में घटनाएं बढ़ रही हैं। कल भी उन्नाव में तीन बेटियों के साथ अत्याचार हुआ है। बेटी बचाव बेटी पढ़ाओ का नारा देनी वाली योगी आदित्यनाथ सरकार को शर्म आनी चाहिए और प्रदेश की जनता से माफी मांगना चाहिए। किसानों के खिलाफ प्रदेश सरकार की मर चुकी संवेदनाओं को देखते हुए सदन से वॉकआउट किया है।

संसदीय कार्य मंत्री ने कहा- जिस तरीके से विपक्ष कार्य किया वह गैर जिम्मेदाराना
संसदीय कार्य मंत्री सुरेश खन्ना ने सरकार का रखा पक्ष रखते हुए कहा कि आज से विधानमंडल का बजट सत्र शुरू हुआ है। पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार वर्तमान सरकार का अहम बजट सत्र है। राज्यपाल का अभिभाषण सरकार की नीतियों का पन्ना होता है। आज जिस प्रकार से विपक्ष ने गैर जिम्मेदाराना रवैया अपनाया है। राज्यपाल पर कई गलत भाषाओं का इस्तेमाल किया गया वह निंदनीय है। विपक्ष को विकास या सुशासन में रुचि नहीं है और उन्होंने सदन का बहिष्कार किया है। विपक्षी दलों के आचरण को उचित नहीं कहा जा सकता है। जो विपक्ष सरकार और राज्यपाल के अभिभाषण को नहीं सुन सकती है उससे क्या उम्मीद की जा सकती है।

विधानसभा गेट पर चढ़कर सपा विधायकों ने किया प्रदर्शन, झड़प

इससे पहले किसान समस्याओं व महंगाई के मुद्दे पर योगी सरकार को घेरने के लिए समाजवादी पार्टी के नेता ट्रैक्टर लेकर विधान भवन पहुंचे और जमकर नारेबाजी की। सपा नेताओं ने विधान भवन में चौधरी चरण सिंह की प्रतिमा के नीचे बैठकर प्रदर्शन किया। सपा MLC राजेश यादव समेत तीन नेताओं को पुलिस ने हिरासत में लिया है।

सुबह 9:30 बजे समाजवादी पार्टी के MLC सुनील सिंह साजन, राजेश यादव, उदयवीर सिंह, राजपाल कश्यप समेत कई नेता ट्रैक्टर पर धान-गन्ना लादकर विधानसभा गेट पर पहुंच गए। पुलिस ने रोकने का प्रयास किया तो झड़प भी हुई। पुलिस ने राजेश यादव समेत तीन MLC को हिरासत में लेकर उन्हें हजरतगंज कोतवाली लेकर आई है। वहीं कुछ MLC-MLA विधानसभा गेट के ऊपर भी चढ़े। उन्हें पुलिस ने नीचे उतारा है। इसके बाद डीजल और पेट्रोल की बोतल लेकर चौधरी चरण सिंह की प्रतिमा के नीचे बैठकर प्रदर्शन करने में जुट गए। बजट सत्र को लेकर विधान भवन के बाहर सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं।

विधानभवन के बाहर प्रदर्शन करते सपा नेता।
विधानभवन के बाहर प्रदर्शन करते सपा नेता।

पेपरलेस बजट के लिए विधायकों का हो चुका है प्रशिक्षण
यह बजट सत्र 10 मार्च तक चलेगा। 22 फरवरी को केंद्र की मोदी सरकार की तरह उत्तर प्रदेश की योगी सरकार भी इस बार अपना पेपरलेस बजट पेश करेगी। इसके लिए सभी विधायकों को प्रशिक्षण दिया जा चुका है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि राज्य की विधानसभा और विधान परिषद के आगामी सत्रों को डिजिटल रूप दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि इस बार ई-बजट पेश होगा।

खबरें और भी हैं...

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आप प्रत्येक कार्य को उचित तथा सुचारु रूप से करने में सक्षम रहेंगे। सिर्फ कोई भी कार्य करने से पहले उसकी रूपरेखा अवश्य बना लें। आपके इन गुणों की वजह से आज आपको कोई विशेष उपलब्धि भी हासिल होगी।...

और पढ़ें