पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

सुसाइड केस:धोखाधड़ी व गुंडा टैक्स वसूली से तंग लखनऊ के कारोबारी ने की आत्महत्या; करणी सेना से जुड़े आरोपी समेत 3 पर FIR

लखनऊ10 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
मृतक व्यापारी रामचंद्र श्रीवास्तव।- फाइल फोटो
  • विभूति खंड थाना क्षेत्र का मामला, कारोबारी का उनके बेटे के कमरे में लटकता मिला शव

राजधानी लखनऊ के विभूति खंड क्षेत्र में एक प्लास्टिक व्यापारी ने बुधवार रात फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली। व्यापारी ने अपने बेटे के कमरे में फांसी लगाई थी। सूचना पाकर पहुंची पुलिस ने पड़ताल की तो मौके से सुसाइड नोट मिला। जिसमें एक प्लाट खरीद में हुई धोखाधड़ी और आरोपियों की तरफ से मिल रही धमकियों के बारे में लिखा था। पुलिस ने तीन आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज किया है।

करणी सेना के संदीप सिंह पर लगाया वसूली का आरोप

यह घटना विभूति खंड थाना क्षेत्र के विक्रांत खंड की है। मृतक व्यापारी रामचंद्र श्रीवास्तव ने रॉयल सिटी इंफ्राटेक में एक प्लॉट बुक कराया था। इस प्लाट के लिए रामचंद्र श्रीवास्तव ने 10 लाख रुपए का भुगतान भी किया था। इसके बावजूद रामचंद्र श्रीवास्तव को न तो प्लाट पर कब्जा दिया गया और न ही उनके पैसे वापस किए गए। श्रीवास्तव ने अपने सुसाइड नोट में लिखा है कि जब उन्होंने अपने पैसे वापस मांगे तो रॉयल सिटी इंफ्राटेक के डायरेक्टर अंशु, अजीत और संदीप सिंह द्वारा उन्हें प्रताड़ित किया गया। संदीप करणी सेना से भी जुड़ा है।

कारोबारी का सुसाइड नोट।
कारोबारी का सुसाइड नोट।

गुंडा टैक्स न देने पर परिजनों को जान से मारने की दी थी धमकी
इसी प्रताड़ना से तंग आकर व्यापारी रामचंद्र श्रीवास्तव ने आत्महत्या का कदम उठाया। सुसाइड नोट में मृतक व्यापारी ने आरोपियों द्वारा उनसे फैक्ट्री के नाम पर वसूली करने का भी आरोप लगाया है। आरोपियों ने गुंडा टैक्स ना देने पर व्यापारी के परिजनों को जान से मारने की धमकी भी दी थी। सुसाइड नोट में व्यापारी ने सरकार से अपने परिवार को सुरक्षा मुहैया कराने की अपील की है। फिलहाल, व्यापारी के परिवार ने सुसाइड नोट में लिखे गए तीनों आरोपियों के खिलाफ पुलिस में तहरीर दी है। पुलिस मामले में FIR दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- पिछले रुके हुए और अटके हुए काम पूरा करने का उत्तम समय है। चतुराई और विवेक से काम लेना स्थितियों को आपके पक्ष में करेगा। साथ ही संतान के करियर और शिक्षा से संबंधित किसी चिंता का भी निवारण होगा...

और पढ़ें