मोदी की काशी में BJP को करारी शिकस्त:बनारस में जिला पंचायत सदस्य की 40 सीटों में BJP महज 8 पर जीती, 13 पर सपा ने कब्जा किया

लखनऊ7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पंचायत चुनाव में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को अपने ही गढ़ वाराणसी में अखिलेश यादव की सपा से कड़ी टक्कर मिली।- फाइल फोटो - Dainik Bhaskar
पंचायत चुनाव में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को अपने ही गढ़ वाराणसी में अखिलेश यादव की सपा से कड़ी टक्कर मिली।- फाइल फोटो

उत्तर प्रदेश के पंचायत चुनाव में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र बनारस (वाराणसी) में उनकी पार्टी भाजपा बुरी तरह पिछड़ती दिख रही है। यहां जिला पंचायत सदस्य की 40 सीटों में से 39 पर चुनाव हुए। एक सीट पर प्रत्याशी की मौत के चलते चुनाव स्थगित हो गए थे। अब तक 26 सीटों के परिणाम आ चुके हैं। भाजपा महज 8 सीट जीत सकी है। वहीं, 12 सीटों पर समाजवादी पार्टी ने कब्जा जमाया है। हालांकि जिलाध्यक्ष ने 15 सीट जीतने का दावा किया है। कमोबेश ऐसा ही हाल अयोध्या का है।

वहीं, मथुरा में मायावती की पार्टी बसपा ने भाजपा को पछाड़ दिया है। अगले साल यूपी में होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले राज्य में हुए इस पंचायत चुनाव को सियासी दलों के लिए लिटमस टेस्ट के तौर पर देखा जा रहा है। इसमें 4 पद- जिला पंचायत सदस्य, क्षेत्र पंचायत सदस्य, प्रधान और ग्राम पंचायत वार्ड सदस्य के लिए चुनाव हुए हैं। नतीजे अभी आ रहे हैं। इन्हें पूरा होने में कुछ घंटों का वक्त और लगेगा। बहरहाल 5 शहरों के नतीजे…

  • अयोध्या: राम की नगरी में BJP को बुरी तरह से हार का सामना करना पड़ा है। यहां जिला पंचायत सदस्य की 40 में से 24 सीटों पर SP ने कब्जा जमाया है। BJP के खाते में सिर्फ 6 सीटें आई हैं। मायावती की BSP ने 5 सीट पर जीत हासिल की है।
  • वाराणसी: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में जिला पंचायत सदस्य की 40 सीटों पर BJP के 8 उम्मीदवार जीते हैं। सपा ने 13 पदों पर अपना कब्जा जमाया है। इसके अलावा कांग्रेस के 3, निर्दलीय 4, अपना दल 1, बसपा 4, आम आदमी पार्टी 1 सीट जीती है।
  • मथुरा: यहां जिला पंचायत की कुल 33 सीट है। बसपा ने 13 उम्मीदवारों के जीतने का दावा किया है। जबकि BJP के खाते में 8 सीट और SP को एक सीट से काम चलाना पड़ा है। राष्ट्रीय लोकदल ने 8 और 3 निर्दलीय उम्मीदवार जीते हैं। यहां कांग्रेस का सूपड़ा साफ हो गया है
  • लखनऊ: केंद्रीय मंत्री राजनाथ सिंह के संसदीय क्षेत्र और राजधानी लखनऊ में जिला पंचायत की 25 सीटों के परिणाम आ चुके हैं। इनमें बीजेपी को 3, सपा को 10, बसपा को 4 और अन्य को मिली 8 सीटों पर जीत मिली है।
  • गोरखपुर: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के क्षेत्र में 68 में से BJP के 20 और SP के 19 उम्मीदवारों ने जीत हासिल की है। अब तक 65 जिला पंचायत सदस्य के परिणाम आ चुके हैं। सबसे अधिक 21 पदों पर निर्दलीय उम्मीदवार विजयी रहे हैं। वहीं, BSP के दो, कांग्रेस, आप और निषाद पार्टी को एक-एक पद पर जीत मिली है। तीन वार्ड के नतीजे आने बाकी हैं।

यह भी पढे़ं- बुलंदशहर हिंसा का मुख्य आरोपी जिला पंचायत चुनाव जीता, बोला- सियासत की पहली सीढ़ी मिल गई

फाइनल रिजल्ट का इंतजार
उत्तर प्रदेश में पंचायत चुनाव में जिला पंचायत सदस्य, क्षेत्र पंचायत सदस्य, प्रधान और ग्राम पंचायत वार्ड सदस्य पदों के 12 लाख 89 हजार 930 कैंडिडेट्स उतरे हैं। राज्य निर्वाचन आयोग के अनुसार, मंगलवार को अभी 826 मतदान केंद्रों पर मतगणना हो रही है। इसके परिणाम मंगलवार रात तक आने की संभावना है।

अब तक आए रिजल्ट के मुताबिक, प्रदेश में जिला पंचायत के 3050 पदों में से 3047 के परिणाम आ चुके हैं। भाजपा ने 768, सपा ने 759, बसपा ने 319, कांग्रेस ने 125 और 1071 निर्दलीय उम्मीदवार जीते हैं।जिला पंचायत के कुल परिणाम में तो भाजपा कुछ सीटें सपा से आगे है। लेकिन भाजपा को अपने गढ़ के जिलों में हार मिली है, जहां पार्टी ने पूरी ताकत झोंक दी थी। वहीं, क्षेत्र पंचायत सदस्य, प्रधान और ग्राम पंचायत वार्ड सदस्य के फाइनल रिजल्ट का इंतजार है।

खबरें और भी हैं...