लखीमपुर हिंसा में नया खुलासा:पीड़ित का दावा- पूर्व कांग्रेस सांसद अखिलेश दास का भतीजा भी था काफिले में, वीडियो में बयां की हकीकत

लखीमपुर/ लखनऊ19 दिन पहले
लखीमपुर के तिकुनिया गांव में 3 अक्टूबर को हिंसा हुई थी।

लखीमपुर हिंसा की चिंगारी बुझने का नाम नहीं ले रही है। एक के बाद एक नए मोड़ सामने आ रहे हैं। मामले में अब एक नया वीडियो सामने आया है। इसमें एक घायल शख्‍स पुलिस के सामने दावा कर रहा है कि काफिले में पूर्व कांग्रेस सांसद अखिलेश दास के भतीजे अंकित दास भी अपनी फॉर्च्‍यूनर गाड़ी में सवार थे।

लखनऊ के हुसैनगंज में रहने वाले इस युवक का कहना है कि हम लोग अंकित दास की गाड़ी में बैठे हुए थे। वीडियो में शख्‍स बता रहा है कि वह अंकित दास के साथ लिखा-पढ़ी का काम करता है। वह 5 लोगों के साथ लखनऊ से लखीमपुर के कार्यक्रम में शामिल होने आया था। काफिले में उनके आगे थार जीप सड़क पर खड़े लोगों को कुचलती हुई जा रही थी।

अंकित दास की काले रंग की फॉर्च्‍यूनर गाड़ी उस जीप के पीछे-पीछे चल रही थी। इसी दौरान बाहर खड़ी भीड़ ने उन लोगों पर हमला बोल दिया। थार जीप किसकी थी और उसमें कौन लोग सवार थे, इस बारे में शख्‍स ने जानकारी से इनकार कर दिया।

टेनी के बेटे आशीष मिश्र समेत 14 पर FIR
वहीं, 3 अक्टूबर को हुई रूह कंपा देने वाली हिंसा में 4 किसानों समेत 8 लोगों की जान गई। UP सरकार ने हर किसान के परिवार को 45 लाख रुपए का चेक देने का निर्देश अफसरों को दे दिया है। पुलिस केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्र टेनी के बेटे आशीष मिश्र समेत 14 लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर चुकी है। हालांकि, अभी तक किसी की भी गिरफ्तारी नहीं हुई है।

खबरें और भी हैं...