गैंगस्टर विकास दुबे गिरफ्तार:6 दिन में 5 गुर्गों का एनकाउंटर, विकास पर 5 लाख का इनाम; वारदात के हर घंटे 3000 रुपए के औसत से बढ़ी इनामी राशि

लखनऊ2 वर्ष पहले
उज्जैन में महाकाल परिसर में विकास दुबे को गिरफ्तार किया गया। - Dainik Bhaskar
उज्जैन में महाकाल परिसर में विकास दुबे को गिरफ्तार किया गया।
  • मुठभेड़ में आठ पुलिसकर्मियों की मौत से पहले विकास पर कोई इनामी राशि नहीं थी
  • वारदात के 6 दिन बाद यूपी का मोस्ट वांटेड बना 5 लाख का इनामी बना विकास

विकास दुबे को उज्जैन के महाकाल मंदिर से गुरुवार सुबह गिरफ्तार कर लिया गया। आठ पुलिसकर्मियों की हत्या का आरोपी वारदात के तकरीबन 150 घंटे बाद विकास पुलिस की गिरफ्त में आया है। पुलिस की 100 से ज्यादा टीम विकास दुबे को तलाश कर रहीं थीं। विकास दुबे पर इस समय पांच लाख का इनाम था। मुठभेड़ से पहले विकास पर एक भी रुपये का इनाम नहीं था, लेकिन वारदात के 6 दिन के भीतर ही वह पांच लाख का इनामी हो गया। यानी वारदात के बाद पुलिस ने हर घंटे औसतन 3 हजार रूपए के हिसाब से इनामी राशि बढ़ाई। विकास दुबे की तलाश में छह दिन में पुलिस ने उसके पांच गुर्गों को मुठभेड़ में मार गिराया।

एक ही थाने में थे 60 मुकदमे फिर भी नहीं था इनामिया
विकास दुबे पर सिर्फ चौबेपुर थाने में ही 60 मुकदमे दर्ज थे, लेकिन इसके बावजूद वह न जिले के टॉप 10 अपराधियों की लिस्ट में था न ही यूपी पुलिस की वांटेड लिस्ट में शामिल था। कानपुर से लगभग 30 से 40 किमी दूर बसे बिकरू गांव में जब घुप्प अंधेरे में गोलियां तड़तड़ाईं तो यूपी पुलिस के आलाधिकारियों की नींद खुली। 8 पुलिसवालों की शहादत के बाद आनन- फानन में विकास के ऊपर 50 हजार का इनाम घोषित कर दिया गया। जिसमें 3 जुलाई की सुबह पुलिस ने विकास के 2 साथियों का एनकाउंटर भी कर दिया। लेकिन विकास इसके बावजूद आराम से 2 दिन शिबली में ही रुका रहा।

4 जुलाई को एक लाख का इनाम घोषित हुआ
विकास को पकड़ने के लिए यूपी पुलिस मुस्तैदी से लगी हुई थी। जिले की सीमाएं सील थीं। पुलिस ने विकास पर दबाव बनाने के लिए 4 जुलाई को बिकरू गांव स्थित उसका किलेनुमा मकान ढहा दिया लेकिन विकास शिबली में ही रहकर आगे भागने की प्लानिंग कर रहा था। यूपी पुलिस को उसे पकड़ने में सफलता नहीं मिली तो इनाम एक लाख कर दिया गया।

5 जुलाई को टॉप 3 अपराधियों में शामिल हुआ विकास
5 जुलाई की सुबह पुलिस ने विकास के एक साथी दयाशंकर को मुठभेड़ के बाद गिरफ्तार कर लिया लेकिन सटीक सूचना न होने पर विकास का कोई पता नहीं लगा। फिर सुबह ही यूपी पुलिस के आलाधिकारियों ने विकास पर इनामिया राशि ढाई लाख कर दी। इस तरह विकास यूपी के टॉप 3 अपराधियों में शामिल हो गया। बताया जाता है कि टॉप 3 में दो अपराधी पश्चिमी यूपी के हैं, जिन पर ढाई लाख का इनाम है। फिलहाल, दोनों ही पुलिस की पकड़ से दूर हैं।

8 जुलाई को यूपी का मोस्ट वांटेड अपराधी बना विकास, इनाम हुआ 5 लाख
8 जुलाई की सुबह खबरी आई कि पुलिस को यह जानकारी जरूर मिली थी कि विकास यूपी पुलिस को चकमा देकर यूपी का बॉर्डर क्रॉस कर चुका है। फिलहाल पुलिस की कॉम्बिंग बताते हैं कि 10 राज्यों में चल रही थी लेकिन विकास उनसे दूर था तो यूपी पुलिस ने विकास को प्रदेश का मोस्ट वांटेड अपराधी घोषित करते हुए उस इनाम की राशि 5 लाख कर दी।

खबरें और भी हैं...