पीएम के जन्मदिन पर 20 दिनों तक होंगे कार्यक्रम:सीएम योगी बोले- प्रधानमंत्री ने 20 सालों के दौरान देश को दी एक नई दिशा, आजादी के 75 वर्ष में लोगों को बना रहे स्वावलंबी

लखनऊ8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
दीप प्रज्वलित करते हुए सीएम योगी, कैबिनेट मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह, मुख्य सचिव आर के तिवारी, मुख्य सचिव नवनीत सहगल। - Dainik Bhaskar
दीप प्रज्वलित करते हुए सीएम योगी, कैबिनेट मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह, मुख्य सचिव आर के तिवारी, मुख्य सचिव नवनीत सहगल।

उत्तर प्रदेश सरकार की तरफ से पांचवी विश्वकर्मा सम्मान योजना का आयोजन शुक्रवार को लोक भवन में किया गया। सीएम योगी ने कहा कि पिछले डेढ़ साल से पूरी दुनिया कोरोना से जूझ रही है। कोरोना के चलते लॉकडाउन लगाना पड़ा। प्रदेश में 40 लाख कामगार प्रवासी आए। इन्हें सबल बनाना एक चुनौती था, हमने ODOP के माध्यम से उन्हें मजबूत बनाया। एक जनपद एक उत्पाद और विश्वकर्मा योजना एक उदाहरण प्रस्तुत करती हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि आज भगवान विश्वकर्मा जयंती के दिन प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के राजनीति में सेवा के 20 वर्ष पूरे हुए। पीएम मोदी के जन्मदिन के उपलक्ष्य में आज से अगले 20 दिनों तक अगल-अलग क्षेत्रों में विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन किया जाएगा। मैं पूरे प्रदेश की ओर से उन्हें धन्यवाद देता हूं। उन्होंने अपने 20 सालों के दौरान देश को एक नई दिशा दी है।

इस अवसर पर आज विश्वकर्मा सम्मान योजना का आयोजन किया जा रहा है। हमने दिसंबर 2018 में विश्वकर्मा सम्मान योजना शुरू की थी। इस योजना के माध्यम से परंपरागत हस्त शिल्पियों को सम्मान देते हैं।

11 हजार कारीगरों को 171 करोड़ का लोन

उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश की माताएं और बहनें यदि ठान लें तो उत्तर प्रदेश भी रेडीमेड निर्यात के मामले में आगे बढ़ेगा। आज यहां पर 11 हजार कारीगरों को 171 करोड़ का लोन दिया जा रहा है। 2017 में अयोध्या दीपोत्सव के लिए बड़ी संख्या में दीप जलाना लिए एक चुनौती थी। इस वर्ष भी वहां पर दीपोत्सव करना है,इसके लिए आज वहां सरकार के प्रोत्साहन से वहां कुम्हार दिए बना रहे हैं।

कारीगर सरकारी सहायता से मूर्तियां बना रहे

उन्होंने कहा कि, कभी हमको भगवान गणेश की मूर्तियों के लिए चीन के ऊपर निर्भर रहना पड़ता था ,लेकिन आज हमारे कारीगर सरकारी सहायता से मूर्तियां बना रहे हैं, और उनसे अच्छा बना रहा है। सरकार टूलकिट दे रही है,बैंक लोन दे रहे हैं, और कारीगर मजबूत हो रहे हैं। आजादी के 75 वर्ष में हम लोगों को स्वावलंबी बना रहे हैं। आज अब तक 1 लाख हस्त शिल्पियों को अबतक हम इस योजना से जोड़ चुके हैं। प्रशिक्षित करके टूलकिट उपलब्ध करवा चुके हैं।

गांव के मोची,नाई,बढई को मंच मिलना चाहिए। उन्हें सबल बनाना है। उन्हें उच्च प्रशिक्षण देकर तकनीकी से जोड़ना है। पांचवी विश्वकर्मा सम्मान योजना के अवसर पर एक दर्जन से ज्यादा प्रशिक्षित लाभार्थियों को टूल किट एवं प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के अतंगर्त चेक वितरण किया गया। सीएम योगी ने एक दूसरे कार्यक्रम में दिव्यांग बच्चों को उपहार प्रदान किया।

खबरें और भी हैं...