• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Lucknow
  • Was Doing Blackmail For Five Years On The Basis Of Obscene Photos, Teacher Woman Filed A Case In Gudamba Police Station, Accused Was Posted As Diwan In Police Department

लखनऊ में रिटायर सिपाही ने टीचर से किया रेप:रिश्ते में जीजा लगने वाले आरोपी ने अश्लील फोटो से ब्लैकमेल कर 5 साल तक किया यौन शोषण, पीड़ता ने केस दर्ज कराया

लखनऊएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
पुलिस की पड़ताल में सामने आया है कि दोनों के बीच पारिवारिक विवाद है। प्रतीकात्मक फोटो। - Dainik Bhaskar
पुलिस की पड़ताल में सामने आया है कि दोनों के बीच पारिवारिक विवाद है। प्रतीकात्मक फोटो।

लखनऊ के गुडंबा थाने में एक स्कूल टीचर ने अपने जीजा के खिलाफ दुष्कर्म का मुकदमा दर्ज कराया है। आरोपी जीजा पुलिस विभाग में हेड कांस्टेबल पद से कुछ दिनों पहले रिटायर हुआ है। महिला का आरोप है कि आरोपी जीजा ने पांच साल पहले घर में अकेला पाकर गलत काम किया। उसके बाद अश्लील फोटो दिखाकर ब्लैक मेल कर लगातार उसका शोषण करता रहा।

'घर में सीसीटीवी लगवाया तो बाहर बुलाने लगा'

महिला ने बताया कि परेशान होकर जब उसने घर में सीसीटीवी लगवा लिया तो आरोपी ने उसे बाहर बुलाना शुरू कर दिया। विरोध करने पर अश्लील फोटो पति व बेटे को भेजने के साथ-साथ सोशल मीडिया पर वायरल करने की धमकी देता। फिलहाल पुलिस मुकदमा दर्ज कर मामले की जांच कर रही है।

पुलिस जुटा रही साक्ष्य
गुडंबा इंस्पेक्टर फरीद अहमद के मुताबिक, गुडंबा निवासी पीड़िता एक सरकारी स्कूल में शिक्षिका के पद पर कार्यरत थी। उसका आरोप है कि उसका जीजा अरविंद मिश्रा 15 साल पहले पुलिस लाइन में रहता था। इसी बीच घर में आना-जाना काफी बढ़ गया।

पांच साल पहले आरोपी जीजा ने घर में महिला को आकेला पाकर दुष्कर्म किया। साथ ही किसी को बताने पर चरित्रहीन साबित कर जेल भिजवाने की धमकी देता। महिला का आरोप है कि उसकी अश्लील फोटो के बदले आरोपी धन की उगाही भी कर रहा था। शिकायत पर आरोपी अरविंद के खिलाफ दुष्कर्म का मुकदमा दर्ज कर मामले की जांच की जा रही है। घटना के पीछे पुराने विवाद की बात सामने आ रही है। साक्ष्यों के आधार पर आरोपी के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

महिला को नौकरी से निकाले जाने में भी आरोपी का हाथ
पुलिस सूत्रों के मुताबिक आरोपी अरविंद मिश्र और पीड़िता के बीच काफी समय से पारिवारिक विवाद चला आ रहा है। महिला का आरोप है कि आरोपी दीवान की शिकायत पर ही उसकी सरकारी नौकरी चली गई। जबकि दीवान का कहना है कि हाईस्कूल की फर्जी मार्कशीट लगाने की वजह उसकी नौकरी गई। जिसकी शिकायत उसने नहीं की। पीड़िता उसी का बदला लेने के लिए झूठे आरोप लगा रही है।

खबरें और भी हैं...