2 व 3 को गरज–चमक के साथ होंगी भारी बारिश:प्रदेश में 10 जिलों के 54 गांव बाढ़ से प्रभावित, आज भी छिटपुट बारिश होने का प्रदेश में अलर्ट

लखनऊ2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मौसम के जानकारों के अनुसार राज्य के पूर्वी हिस्सों में आज गरज के साथ बौछारें पड़ने की संभावना है। - Dainik Bhaskar
मौसम के जानकारों के अनुसार राज्य के पूर्वी हिस्सों में आज गरज के साथ बौछारें पड़ने की संभावना है।

उत्तर प्रदेश के पूर्वी और पश्चिमी जिलों में कुछ स्थानों पर दो व तीन अक्टूबर को भारी बारिश के आसार हैं। जबकि बृहस्पतिवार को प्रदेश के पूर्वी जिलों में गरज–चमक के साथ छीटे पड़ने की संभावना हैं। प्रदेश में अभी 10 जिलों के 54 गांव बाढ़ से प्रभावित हैं। मौसम विभाग के अनुसार आज राज्य में छिटपुट जगहों पर गरज के साथ छीटे पड़े। सबसे अधिक 8.4 मिमी बारिश झांसी में रिकार्ड़ की गयी। रिहंददम एफएम (जिला सोनभद्र)–तीन मिमी, बरेली (पीबीओ), प्रयागराज–बलिया में एक–एक मिमी बारिश हुई। राज्य के सभी संभागों में कोई बड़ा परिवर्तन नहीं हुआ।

उमस से बढ़ी गर्मी
कानपुर, झांसी, आगरा मंडलों में तापमान सामान्य से काफी ऊपर (3.3 डिग्री सेल्सियस से 5.0 डिग्री सेल्सियस) था। लखनऊ, मुरादाबाद, मेरठ संभागों में सामान्य से ऊपर (1.6 डिग्री सेल्सियस से 3.0 डिग्री सेल्सियस) और राज्य के शेष संभागों में सामान्य (1.5 डिग्री सेल्सियस से –1.5 डिग्री सेल्सियस)। राज्य में सबसे न्यूनतम तापमान मुजफ्फरनगर में 21.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। मौसम के जानकारों के अनुसार राज्य के पूर्वी हिस्सों में आज गरज के साथ बौछारें पड़ने की संभावना है और 30 सितंबर को पश्चिम यूपी में अलग–अलग स्थानों पर गरज के साथ साथ बौछारें पड़ने की संभावना है। दो व तीन अक्टूबर को पूर्वी और पश्चिम यूपी में अलग–अलग स्थानों पर गरज चमक के साथ बारिश होने की संभावना है।

एक जून से अब तक 748.6 मिमी हुई बारिश
प्रदेश में अभी 10 जिलों के 54 गांव बाढ़ से प्रभावित हैं और राहत सामग्री वितिरित की जा रही है। राज्य के राहत आयुक्त रणवीर प्रसाद ने बुधवार को बताया कि 24 घंटे में प्रदेश में 0.3 मिमी औसत वर्षा हुई जो सामान्य वर्षा से 2.5 मिमी के सापेक्ष 12 प्रतिशत है। उन्होंने बताया कि एक जून से अब तक 748.6 मिमी औसत बारिश जो सामान्य वर्षा 789 मिमी के सापेक्ष 95 प्रतिशत है। उन्होंने बताया कि शारदा–खीरी तथा क्वानों–गोंडा में खतरे के जलस्तर से ऊपर बह रही है।

खबरें और भी हैं...