पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

वेस्ट UP में बारिश शुरू:सहारनपुर में भारी बारिश से निचले इलाकों के 11 गांवों में पानी भरा; UP के 14 जिलों में है बारिश का अलर्ट

लखनऊ/सहानपुर/मेरठ2 महीने पहले

उत्तर प्रदेश के लोगों को गर्मी से जल्द राहत मिल सकती है। मौसम विभाग ने 17 जुलाई से पूरे प्रदेश में बारिश का अनुमान जताया है। वहीं आज 14 जिलों के लिए अलर्ट जारी किया गया।उत्तराखंड और हिमाचल के पहाड़ों पर बारिश का असर पश्चिमी उत्तर प्रदेश से सटे जिलों में दिखने भी लगा है। बागपत, मेरठ, बुलंदशहर, गाजियाबाद, गौतम बुद्ध नगर, हापुड़ और अलीगढ़ में मौसम बदला है।

वहीं, मंगलवार की सुबह से सहारनपुर में बारिश हो रही है। सुबह 8 बजे से दोपहर तीन बजे तक 12 एमएम बारिश हुई है। इससे यमुना का जलस्तर पर बढ़ गया है। वहीं तटवर्ती इलाकों में बरसाती नदियां उफान पर हैं। बेहट और मिर्जापुर पोल थाना क्षेत्र के 11 गांवों में बाढ़ का पानी घुस गया। जिससे इन गांवों का संपर्क तहसील और जिला मुख्यालय से कट गया है। इससे करीब 6 हजार आबादी प्रभावित है।

यमुना नदी और हथनीकुंड बैराज का बढ़ा जल स्तर

बारिश के कारण यमुना नदी का जलस्तर बढ़ गया है। हथनीकुंड बैराज में भी जलस्तर बढ़ा है। यमुना नदी का बीते सोमवार को जलस्तर 3000 क्यूसेक मापा गया था, जो अब बढ़कर 5000 क्यूसेक तक पहुंच गया है। जिला प्रशासन और बाढ़ नियंत्रण की टीम लगातार नजरें बनाए हुए है। बरसाती नदियों में उफान से बेहट-शाकंभरी देवी, मिर्जापुर-सुंदरपुर और बेहट-शाकंभरी देवी सड़क मार्ग पर यातायात बंद है।

सिद्धपीठ में श्रद्धालु और उनके वाहन नदी की जलधारा के बीच फंसे रहे, हालांकि किसी श्रद्धालु को कोई नुकसान नहीं पहुंचा। हिंदूवाला गांव में विद्युत लाइनें ध्वस्त हो गईं। शाहपुर एवं हुसैन मलकपुर, अकबरपुर बांस आदि गांवों के संपर्क मार्ग पर पानी भर गया। आबादी में पानी घुस गया। लगातार बढ़ रहे जलस्तर से ग्रामीण सहम गए।

सहारनपुर के अकबरपुर बांस गांव में बाढ़ का पानी भरा।
सहारनपुर के अकबरपुर बांस गांव में बाढ़ का पानी भरा।

शहर में भी कई जगह जलभराव हो गया। बाजारों की सड़कों पर पानी घुस गया है। सपा नगर विधायक संजय गर्ग ने मौके पर पहुंचकर नगर निगम अधिकारियों से संपर्क कर सीवरेज और नालों की सफाई कराई। वहीं दुकानदारों ने नगर निगम पर समय से नालों की सफाई न करने का आरोप लगाया है।

मंगलवार को प्रदेश के कुछ जिलों में हुई हल्की बूंदाबांदी

मंगलवार को प्रदेश के कुछ जिलों में बूंदाबांदी हुई। राहत आयुक्त रणवीर प्रसाद के अनुसार प्रदेश में 24 घंटे में 4.1 मिमी बारिश हुई है। प्रदेश में 1 जून से अब तक 172.3 % मिमी औसत बारिश रिकॉर्ड दर्ज की गई है। प्रदेश में बाढ़ के 3 गांव गोरखपुर जिले में प्रभावित हैं। इसके अलावा मौसम विभाग ने 14 जिलों में बारिश होने की संभावना जताई हैं।

सहारनपुर के अकबरपुर बांस गांव में पानी के भराव से लोग घरों में कैद हो गए हैं।
सहारनपुर के अकबरपुर बांस गांव में पानी के भराव से लोग घरों में कैद हो गए हैं।
प्रयागराज में न्यूनतम पारा 28. 6 डिग्री रिकॉर्ड हुआ, जो सामान्य से 1.8 डिग्री ऊपर था।
प्रयागराज में न्यूनतम पारा 28. 6 डिग्री रिकॉर्ड हुआ, जो सामान्य से 1.8 डिग्री ऊपर था।

फतेहगढ़ में दिन और प्रयागराज में रात को अधिक गर्मी
मौसम विभाग के अनुसार यूपी के फतेहपुर जिले में दिन में सबसे ज्यादा गर्मी रही। वहीं प्रयागराज वासियों को रात में गर्मी का सामना करना पड़ा। फतेहगढ़ में अधिकतम पारा 39.7 डिग्री रिकॉर्ड हुआ जो सामान्य से 4.2 डिग्री अधिक था। इसी तरह प्रयागराज में न्यूनतम पारा 28. 6 डिग्री रिकॉर्ड हुआ, जो सामान्य से 1.8 डिग्री ऊपर था।

मौसम विभाग के अनुसार यूपी के फतेहपुर जिले में दिन में सबसे ज्यादा गर्मी रही।
मौसम विभाग के अनुसार यूपी के फतेहपुर जिले में दिन में सबसे ज्यादा गर्मी रही।

7 जिलों में येलो व 7 में ऑरेंज अलर्ट जारी
मौसम विभाग ने यूपी के 7 जिलों में येलो अलर्ट जारी करते हुए 40 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से पानी और बिजली गिरने की संभावना जताई है। यह जिले शामली, सहारनपुर, मुजफ्फरनगर, बिजनौर, अमरोहा, संभल और मथुरा है।

सात जिलों में ऑरेंज अलर्ट जारी करते हुए मौसम विभाग ने 87 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं और बिजली चमक के साथ बारिश होने की संभावना जताई हैं। इनमें बागपत, मेरठ, बुलंदशहर ,गाजियाबाद ,गौतम बुद्ध नगर, हापुड़, अलीगढ़ जिले शामिल हैं।

291 नावें बाढ़ प्रभावित जिलों में तैनात

राहत आयुक्त रविंद्र कुमार ने बताया कि प्रदेश में वर्षा से प्रभावित जनपदों में सर्च और रेस्क्यू के लिए एनडीआरएफ, एसडीआरएफ तथा पीएसी की कुछ 37 टीमें लगाई गई हैं। 291 नावें बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में लगातार रेस्क्यू कर रही है। इसके साथ मेडिकल टीमें 126 लगाई गई हैं। अभी तक 152 लोगों को सुरक्षित स्थान पर पहुंचाया जा चुका है। प्रदेश में 330 बाढ़ कैम्प व 590 बाढ़ चौकी स्थापित भी की गई है।

प्रदेश के 5 जिलों के मौसम का हाल

  • झांसी में बादल बादल छाए हुए हैं। हवा न चलने से उमस बनी हुई है। तापमान 36 डिग्री है।
  • आगरा में सुबह तेज धूप निकलने से गर्मी है। यहां दोपहर में 36 डिग्री सेल्सियस डिग्री तापमान रिकॉर्ड हुआ है।
  • मेरठ में उमस है और बादल छाए हुए हैं, सुबह काफी धूप थी, मगर अब बादल हैं। तापमान 40 डिग्री सेल्सियस है, बरसात नहीं हुई है।
  • बरेली में कभी धूप तो कभी छांव का मौसम है। अधिकतम तापमान 37 और न्यूनतम तापमान 28 डिग्री सेल्सियस तक है।
  • सहारनपुर में सुबह से बारिश हो रही है। बारिश होने से लोगों को गर्मी से राहत मिली है। अधिकतम तापमान 33 और न्यूनतम 26 डिग्री सेल्सियस तक है।
खबरें और भी हैं...