• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Lucknow
  • Winter Session Of UP Vidhan Sabha From Today, Supplementary Budget And Vote On Account Will Be Presented On 16th December, Discussion Will Be Held On 17th...

विधानसभा में मंत्री अजय मिश्र की बर्खास्तगी की गूंज:कांग्रेस विधायकों का पैदल मार्च, सपा विधायक गन्ना लेकर आए

लखनऊ5 महीने पहले

आज से यूपी विधानसभा का 3 दिवसीय शीतकालीन सत्र शुरू गया है। पहले दिन विपक्ष ने सदन के अंदर और बाहर महंगाई, लखीमपुर हिंसा और कानून व्यवस्था जैसे मुद्दों को लेकर सरकार की घेराबंदी की। कांग्रेस विधायकों ने लखीमपुर किसान कांड में आरोपी केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्र टेनी की बर्खास्तगी की मांग को लेकर प्रदर्शन किया। कांग्रेसियों ने हजरतगंज गांधी प्रतिमा से विधानसभा तक पैदल मार्च किया। सपा विधायकों ने गन्ना किसानों की मांग को लेकर विरोध प्रदर्शन किया। सपा विधायक यहां गन्ना लेकर पहुंच गए थे।

सपा विधायक गन्ना किसानों की मांग को लेकर गन्ना लेकर पहुंच गए थे।
सपा विधायक गन्ना किसानों की मांग को लेकर गन्ना लेकर पहुंच गए थे।

पैदल मार्च में कांग्रेस पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू, कांग्रेस की नेता विधान मंडल आराधना मिश्रा मोना, कांग्रेस के नेता विधान परिषद दीपक सिंह सहित अन्य कांग्रेसियों ने गृह राज्यमंत्री 'अजय मिश्र टेनी को बर्खास्त करो' के नारे लगाए। सीएम योगी आदित्यनाथ भी विधानसभा की कार्यवाही में हिस्सा लेने के लिए विधानसभा पहुंचे हैं।

सीएम ने देश के पहले CDS सहित 11 सैन्यकर्मियों के निधन पर श्रद्धांजलि व्यक्त की। साथ ही बसपा विधायक सुखदेव राजभर के निधन की भी सूचना दी। 18 अक्टूबर 2021 को राजभर का निधन हुआ था। वे 2007 से 2012 तक विधानसभा के अध्यक्ष भी रहे। इसके बाद सदन को कल यानी गुरुवार तक के लिए स्थगित कर दिया है।

कल पेश होगा करीब पौने दो लाख करोड़ का लेखानुदान
शीतकालीन सत्र में 16 दिसंबर को चालू वित्तीय वर्ष का दूसरा अनुपूरक बजट 2022-23 के लिए लेखानुदान पेश किया जाएगा। जुलाई तक के लिए होने वाला ये लेखानुदान लगभग पौने दो लाख करोड़ रुपए का हो सकता है। सरकार चालू वित्तीय वर्ष 2021-22 के लिए दूसरा अनुपूरक बजट भी लाएगी। लेखानुदान के तहत नए वित्तीय वर्ष में जुलाई महीने तक के लिए जरूरी खर्चों के लिए बजट का प्रारूप तैयार कर लिया है।विधानसभा का यह सत्र बेहद छोटा होगा। महज 3 दिन तक चलने वाला शायद विधानसभा का यह अंतिम सत्र हो सकता है।

महत्वाकांक्षी परियोजनाओं के लिए धनराशि
विधानसभा चुनाव 2022 के लिए अब कम समय बचा है। आचार संहिता दिसंबर के बाद ही जारी होगी। समय कम बचा है। इसलिए सरकार दिसंबर से पहले अपनी महत्वाकांक्षी परियोजनाओं के लिए धनराशि की इंतजाम करने में लगी है। इनमें योगी सरकार टॉप वरीयता में लैपटॉप-स्मार्टफोन, बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे के बचे काम, पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे, गोरखपुर एक्सप्रेस-वे के लिए पैसों का बजट की व्यवस्था की जाएगी। साथ ही आगरा मेट्रो, कानपुर मेट्रो, गोरखपुर लाइट मेट्रो के लिए भी पैसों का इंतजाम किया जाएगा।