पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

लखनऊ में युवक की हत्या:मलिहाबाद में हत्या कर फेंका गया शव, परिजनों का आरोप- तीन दिन पहले हुए विवाद में दोस्तों ने मार डाला

लखनऊ20 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
मलिहाबाद कोतवाली पुलिस पोस्टमार्टम रिपोर्ट और साक्ष्यों के आधार पर जांच में जुटी है। - Dainik Bhaskar
मलिहाबाद कोतवाली पुलिस पोस्टमार्टम रिपोर्ट और साक्ष्यों के आधार पर जांच में जुटी है।

लखनऊ में मलिहाबाद के वाजिद नगर पुलिया के नीचे बुधवार सुबह एक युवक का शव पड़ा मिला। युवक के शरीर पर मारपीट और गले पर रस्सी के निशान थे। पुलिस आपसी रंजिश में गला घोटकर हत्या मानकर जांच पड़ताल कर रही है। शुरुआती जांच में हत्या के पीछे जमीन का विवाद सामने आया है।

मलिहाबाद पुलिस के मुताबिक बुधवार ग्रामीणों ने पुलिया के पास एक युवक के शव पड़े होने की जानकारी दी। आसपास के लोगों से शव के शिनाख्त के लिए बुलाया गया। शव की शिनाख्त गांव के ही राममिलन के रूप में की गई है। मृतक राममिलन के परिजनों का आरोप है कि शनिवार को उसका कुछ दोस्तों के साथ मामूली बात पर विवाद हो गया था। तभी से वह परेशान था। उसके दोस्तों ने उसकी हत्या कर शव पुलिया के पास फेंक दिया। परिजनों के आरोप के आधार पर आरोपी संदिग्ध युवकों की तलाश की जा रही है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट व साक्ष्यों के आधार पर मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई की जाएगी।

मां-बाप की हो चुकी मौत, चचेरे भाई के साथ था रहता

सीओ मलिहाबाद योगेंद्र सिंह के मुताबिक मृतक राम मिलन घटना स्थल के पास ही स्थित रामनगर ढकवा का रहने वाला था। मां-बाप की मौत के बाद चचेरे भाई शांति प्रसाद के पास रहता था। परिवार वालों ने कोई लिखित शिकायत नहीं की है। घटना के पीछे नशेबाजी और पुराने विवाद के बिंदु पर जांच की जा रही है। मौत मारपीट, जहरीले पदार्थ के पीने या गला घोटने से हई यह पोस्टमार्टम रिपोर्ट से पता चलेगा।

तीन बीघा जमीन की पेशगी बनी जान की दुश्मन

भाई शांति प्रसाद के मुताबिक माता-पिता की मौत के बाद राम मिलन अपने में मस्त रहने लगा। पिछले दिनों उसने अपने हिस्से की तीन बीघा जमीन का सौदा किया था। उससे मिली पेशगी (एडवांस पैसा) से खर्चा चला रहा था। गांव में चर्चा है कि पैसे को लेकर गांव के ही कुछ लड़कों से विवाद हुआ था। आशंका है उन्हीं ने खाने-पीने के दौरान उसकी हत्या कर दी।

खबरें और भी हैं...