• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Maharajganj
  • Crocodile Panic In Maharajganj: Flowing From Nepal Came To The Indian Border, The Villagers Were Upset For 7 Days, The Team Of The Forest Department Could Not Catch It Due To Excessive Water

महराजगंज में मगरमच्छ की दहशत:नेपाल से बहकर भारतीय सीमा में आए,  7 दिन से ग्रामीण परेशान, पानी ज्यादा होने के कारण नहीं पकड़ पाई वन विभाग की टीम

महाराजगंजएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
मगरमच्छों की वजह से ग्रामीण दहशत में है। - Dainik Bhaskar
मगरमच्छों की वजह से ग्रामीण दहशत में है।

नेपाल से निकलकर भारत में आने वाली नदियों में इन दिनों मगरमच्छों नें डेरा जमा लिया है। नेपाल के चितवन इलाके में इस प्रजाति के मगरमच्छ पाए जाते हैं। बताया जा रहा है कि पिछले दिनों नेपाल में आये बाढ़ में बहकर भारतीय सीमा में आ गए हैं। ऐसा ही एक मगरमच्छ रोहिन नदी से निकलकर एक गांव के पोखरे में आ गया, जो लोगों के लिए परेशानी का सबब बना हुआ है।

तालाब में घुस गया है मगरमच्छ

नेपाल के मगरमच्छ भारतीय सीमा में लोगों के लिए परेशानी का सबब बने हुए हैं। नौतनवा ब्लॉक के रतनपुर गांव के तालाब में रोहिन नदी से निकलकर एक मगरमच्छ आ गया है। इसके पहले भी खनुवा गांव के आसपास मगरमच्छ देखे गए थे। गांव के आसपास मगरमच्छ दिखने से ग्रामीणों में भय व्याप्त हो गया है। ग्राम प्रधान ने वन विभाग को इसकी सूचना देकर जल्द से जल्द मगरमच्छों को पकड़ने की मांग की थी।

बड़ा जाल लेकर आएगी वन विभाग की टीम

सूचना पाकर मौके पर पहुंची उत्तरी चौक रेंज घोडहवा वीट के वन विभाग की टीम ने जाल डालकर मगरमच्छ पकड़ने के लिए घंटों प्रयास किया, लेकिन मगरमच्छ पकड़ने में नाकाम रहे और वापस लौट गए। वन दरोगा जितेन्द्र कुमार गौड़ ने बताया कि मगरमच्छ पकड़ने के लिए टीम गयी थी, लेकिन पानी ज्यादा होने के कारण पकड़ में नहीं आया। अब बड़ा जाल मंगाकर फिर से मगरमच्छ को पकड़ने की कोशिश की जाएगी।

खबरें और भी हैं...