मैनपुरी में झोलाछाप इलाज ने ली महिला की जान:मौत के बाद अपनी दुकान बंद करके डॉक्टर हुआ फरार, पहले भी गलत इलाज से हो चुकी है मौत

मैनपुरी2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
परिजनों ने डॉक्टर पर लगाया हत्या का आरोप। - Dainik Bhaskar
परिजनों ने डॉक्टर पर लगाया हत्या का आरोप।

मैनपुरी के थाना कुर्रा क्षेत्र में एक और महिला की झोलाछाप डॉक्टर के उपचार से मौत हो गई। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा है। झोलाछाप डॉक्टर दुकान बंद करके भाग गया है। इससे पहले 21 सितंबर को भी एक झोलाछाप डॉक्टर के गलत उपचार के चलते महिला की जान जा चुकी है।

इंजेक्शन लगाने से बिगड़ी हालत

गांव चंदरपुर निवासी शीलेंद्र सिंह की 25 साल की पत्नी रोशनी को कुछ दिनों से सर्दी जुकाम के साथ बुखार था। मंगलवार को पति शीलेंद्र परिजनों के साथ उसे लेकर गांव लेखराजपुर में एक झोलाछाप डॉक्टर के पास पहुंचा। झोलाछाप ने जैसे ही रोशनी को इंजेक्शन लगाया वैसे ही उसकी हालत बिगड़ गई।

हालत बिगड़ने पर मैनपुरी रेफर किया

जिसके बाद झोलाछाप डॉक्टर ने उसे मैनपुरी के लिए रेफर कर दिया। परिजन रोशनी को लेकर जिला अस्पताल पहुंचे, यहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। पति शीलेंद्र की तहरीर पर पुलिस ने बुधावर को शव का पोस्टमार्टम कराया है।

टीम भेजकर कराई जाएगी जांच

21 सितंबर को ज्योति रोड स्थित एक झोलाछाप डॉक्टर के इलाज से फर्रुखाबाद के मेरापुर थाना क्षेत्र के ग्राम रूपपुर निवासी कुलदीप पुत्र गिरीश सिंह की 24 साल की पत्नी रीना की मौत हो चुकी है। जिसकी जांच चल रही है। चंदरपुर सीएमओ ने कहा कि मामले में कोई शिकायती पत्र नहीं मिला है। फिर भी टीम भेजकर जांच कराई जाएगी।

खबरें और भी हैं...