मैनपुरी के प्राथमिक स्कूल में बच्चे लगा रहे झाड़ू:प्रधानाचार्य बोले, बच्चे खुद ही उठा लेते हैं झाड़ू, षड्यंत्र कर किसी ने बनाया वीडियो

मैनपुरी8 दिन पहले

यूपी में सरकार शिक्षा के सुधार में बेहतर कदम उठा रही है लेकिन कुछ लोग शिक्षा को सुधारने का नाम नहीं ले रहे हैं। सरकारों ने स्कूलों को हाईटेक कर दिया है बच्चों को लेकर तरह-तरह की योजना चला रही है। लेकिन उनके नुमाइंदे सरकार की छवि धूमिल करने में जुटे हैं। ऐसा ही मामला उत्तर प्रदेश के जनपद मैनपुरी में बच्चों से स्कूल में झाड़ू लगाने का सामने आया है। जहां बच्चे स्कूल में झाड़ू लगाते हुए नजर आ रहे हैं। ऐसे ही मामले का वीडियो किसी युवक ने बनाकर सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया है अब देखने वाली बात होगी वायरल वीडियो को संज्ञान लेकर शिक्षा विभाग क्या कार्रवाई करता है।

वायरल वीडियो का मामला किशनी विकासखंड के ग्राम सभा बसैत के गांव के गांव हर्राजपुर का बताया जा रहा है। वायरल वीडियो में युवक द्वारा हर्राजपुर कम्पोजिट विद्यालय में बच्चों को झाड़ू लगवाना दिखाया जा रहा है। जो सरकार के दावों की पोल खोल रहा है। बात की जाए स्कूल में अध्यापकों की तो इस समय स्कूल में प्रधानाध्यापक संजीव राठौर, सहायक अध्यापक खुर्शीद अहमद, प्रीती कौशल,और शिक्षामित्र शिवकुमार मिश्रा, अरविंद स्वरूप तैनात है।

टांट उठाता बच्चा।
टांट उठाता बच्चा।

स्कूल में पढ़ने आने वाले नौनिहालों से झाड़ू लगवाने का मामला मैनपुरी में नया नहीं है इससे पहले भी ऐसे कई मामले मैनपुरी से निकल कर सामने आ चुके हैं। लेकिन विभाग द्वारा उन मामलों पर कोई प्रभावी कार्यवाही ना होने के कारण लगातार ऐसे मामलों में पुनरावृति दिखाई देती है। हालांकि बच्चों का झाड़ू लगाता हुआ वीडियो सोशल मीडिया पर इस समय जमकर वायरल हो रहा है जो कहीं ना कहीं शिक्षा विभाग पर सवालिया निशान खड़े कर रहा है। अब देखने वाली बात होगी शिक्षा विभाग वायरल वीडियो के मामले पर किस प्रकार की कार्यवाही करता है।

झाड़ू लगाता हुआ छात्र।
झाड़ू लगाता हुआ छात्र।

प्रधानाध्यापक बोले, यह षड्यंत्र

वही जब इस मामले पर प्रधानाध्यापक संदीप राठौर से बात की तो उन्होंने बताया कि यह षड्यंत्र के तहत वीडियो वायरल किया गया है उन्होंने किसी बच्चे से नहीं कहा झाड़ू लगाने को कुछ बच्चे होते हैं अपने जो बिना कहे सुने झाड़ू उठा लेते है। उसी समय किसी ने षड्यंत्र कर वीडियो बना वायरल कर दिया।

क्या कहते है खण्ड शिक्षा अधिकारी किशनी

खंड शिक्षा अधिकारी जेपी पाल ने बताया संज्ञान मिलते ही प्रधानाध्यापक को कार्यालय में बुलाया गया उन्होंने अपना स्पष्टीकरण दिया है आगे से ऐसा काम ना करने की मेरी तरफ से हिदायत दी गई है।

क्या कहते हैं अधिकारी

वायरल वीडियो के मामले पर जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी कमल सिंह ने बताया खंड शिक्षा अधिकारी से जांच करा वायरल वीडियो की तस्दीक करेंगे वायरल वीडियो कहां का है उसके बाद विद्यायल के हेड प्रधानाध्यापक के खिलाफ कार्रवाई करेंगे।

खबरें और भी हैं...