छाता में डीएम के सामने आत्मदाह का किया प्रयास:दर्जनों शिकायतों के बावजूद न्याय न मिलने पर पीड़ित ने छिड़का पेट्रोल, जिलाधिकारी ने जांच के दिए निर्देश

छाता19 दिन पहले

शनिवार को छाता तहसील परिसर में जिलाधिकारी नवनीत सिंह चहल की अध्यक्षता में सम्पूर्ण समाधान दिवस आयोजित किया गया। जिसमें छाता तहसील क्षेत्र के शिकायत कर्ताओ ने अपनी शिकायतो के निस्तारण के लिए न्याय की गुहार लगाई। इसी दौरौन चौमुहां के रहने वाले शांति स्वरुप ने अपने ऊपर पेट्रोल छिड़ककर आत्मदाह का प्रयास किया। मौके पर मौजूद सुरक्षा में तैनात गार्डों ने किसी तरह उन्हें रोका।

दरअसल, उनकी जमीन पर दबंगों ने कब्जा कर रखा है। इसकी शिकायत वह दर्जनों बार समाधान दिवस में कर चुके हैं। लेकिन आज तक कोई ठोस कार्रवाई नहीं हुई। शनिवार को भी वह न्याय की गुहार लेकर तहसील पहुंचे थे। संपूर्ण समाधान दिवस समाप्त होने के बाद जैसे ही जिलाधिकारी के गाड़ी मैं बैठने लगे। तभी पीड़त ने अपने ऊपर पेट्रोल छिड़क लिया। मौके पर मौजूद गार्डों ने उन्हें रोका।

इसके बाद जिलाधिकारी नवनीत सिंह चहल ने पीड़ित से पूरे मामाले की जानकारी ली। पीड़ित ने बताया कि उसकी जमीन पर गांव के दबंगों के ने कब्जा कर लिया है। इसकी शिकायत वह तहसील सहित जिले के आला अधिकारियों से कर चुका है। लेकिन आज तक उसे न्याय नहीं मिला है। अब दबंग उसे आए दिन मानसिक रूप से प्रताड़ित भी करने लगे हैं। जिलाधिकारी ने पीड़ित की शिकायत सुनने के बाद मौके पर मौजूद तहसीलदार सहित संबंधित कर्मचारियों से पूरे मामले की जांच कर पीड़ित को न्याय देने के निर्देश दिए।