मथुरा में आकाशीय बिजली गिरने से 2 महिलाओं की मौत:धान की फसल की निराई करते समय गिरी बिजली, 2 महिलाओं की हालत गंभीर

गोवर्धन2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

मथुरा में आकाशीय बिजली गिरने से 2 महिलाओं की मौत हो गई। हादसा उस वक्त हुआ जब दोनों महिलाएं धान की फसल की निराई कर रहीं थीं। मौके पर ही उनकी मौत हो गई। वहीं 2 अन्य महिलाएं भी गंभीर रूप से घायल हो गईं। उन्हें इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

रविवार की दोपहर गोवर्धन के महमदपुर बाईपास के पास कई महिलाएं धान की फसल की निराई कर रहीं थीं। वे फसल से खर-पतवार निकाल रहीं थीं। इस दौरान बिजली गिर गई।

बारिश के साथ गिरी बिजली

गोवर्धन के दसबिसा की रहने वाली माया देवी और नत्थो देवी फसल की निराई कर रहीं थीं। उनके साथ मोहल्ले की जशोदा और राजन देव भी थोड़ी दूरी पर निराई कर रहीं थीं। महिलाएं करतार सिंह के खेत में काम कर रहीं थीं। इस दौरान तेज बारिश के साथ बिजली गिर गई। इससे माया और नत्थों की मौके पर ही मौत हो गई। जबकि जशोदा और राजन गंभीर रूप से झुलस गईं।

यह तस्वीर रोते बिलखते परिजनों की है। पास में ही वह खेत है जहां पर बिजली गिरने से 2 महिलाओं की मौत हो गई।
यह तस्वीर रोते बिलखते परिजनों की है। पास में ही वह खेत है जहां पर बिजली गिरने से 2 महिलाओं की मौत हो गई।

मौके पर जुटी भीड़, एंबुलेंस से ले जाया गया अस्पताल

हादसे के बाद मौके पर लोगों की भीड़ जुट गई। जशोदा और राजन देव को एंबुलेंस से अस्पताल ले जाया गया। सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में प्राथमिक उपचार के बाद चिकित्सकों ने दोनों को जिला अस्पताल रेफर कर दिया। हादसे के बाद परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है।

गोवर्धन में बिजली गिरने से हादसे के बाद मौके पर लोगों की भीड़ जुट गई।
गोवर्धन में बिजली गिरने से हादसे के बाद मौके पर लोगों की भीड़ जुट गई।

परिवार के पालन पोषण के लिए करती थीं मजदूरी

माया देवी के तीन बच्चे हैं। जबकि नत्थो देवी के 2 बच्चे हैं। दोनों की माली हालत ठीक नहीं थी। परिवार के पालन-पोषण के लिए दोनों दूसरे के खेतों में मजदूरी करती थीं। माया देवी के पति भी मजदूर हैं। नत्थो देवी के पति पुरषोत्तम भी मजदूरी करते हैं।

खबरें और भी हैं...