गोवर्धन में राजस्थान सरकार को बर्खास्त करने की मांग:दलित छात्र की मौत का मामला, कहा- मुआवजा देने में भेदभाव करे रहे सीएम गहलोत

गोवर्धन, मथुरा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
गोवर्धन में अखिल भारतीय समता फाउंडेशन ने राजस्थान में  पिटाई से दलित छात्र की मौत की घटना की निंदा की है। - Dainik Bhaskar
गोवर्धन में अखिल भारतीय समता फाउंडेशन ने राजस्थान में पिटाई से दलित छात्र की मौत की घटना की निंदा की है।

गोवर्धन में अखिल भारतीय समता फाउंडेशन ने राजस्थान में पिटाई से दलित छात्र की मौत की घटना की निंदा की है। उन्होंने राजस्थान कांग्रेस सरकार की गलत मुआवजा नीति के खिलाफ राष्ट्रपति के नाम 6 सूत्रीय मांग पत्र डीएम को सौंपा है।

दोषी शिक्षक को मिले फांसी की सजा

समता समाज के पदाधिकारी प्रदर्शन करते हुए पैदल मार्च कर कलेक्ट्रेट पहुंचे। इस दौरान समता समाज के लोगों ने जातिवाद, भेदभाव, ऊंच-नीच को लेकर गहलोत सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। इस दौरान लुकेश कुमार राही ने कहा कि राजस्थान सरकार मुआवजा देने में भेदभाव कर रही है। सामान्य वर्ग को एक करोड़, मुसलमानों को 50,00, 000 लाख और अनुसूचित जाति को सिर्फ साढ़े तीन लाख का मुआवजा देकर गलत कर रही है। राजस्थान सरकार को तत्काल बर्खास्त कर देना चाहिए। दोषी शिक्षक को फांसी दी जाए।

अखिल भारतीय समता फाउंडेशन के सदस्यों ने राष्ट्रपति के नाम डीएम को ज्ञापन सौंपा।
अखिल भारतीय समता फाउंडेशन के सदस्यों ने राष्ट्रपति के नाम डीएम को ज्ञापन सौंपा।

इस दौरान चित्रसेन मौर्य, रोहतास तंवर, भानु प्रताप सिंह, दिनेश चंद्र, मनीष कुमार, विवेक कुमार, सतीश बाल्मिक, रूपेंद्र सिंह, आदेश कुमार सिंह, विनय कुमार, वीरू कुमार, कुलदीप कुमार, मेराज अली जिलाध्यक्ष बीएमपी, राजा बाबू,राज गब्बर, राजेश कुमार, एड,सज्जन क्रांति, अंकित सागर, सोनू राही,अजय सवाल, जितेंद्र बृजवासी, आकाश, दिनेश कुमार, विकास, अजीत सिंह, आकाश बाबू, साबिर खान, सौदान सिंह, प्रमोद कुमार प्रमोद, नत्थी लाल सैनी, डॉक्टर राजकुमार सैनी, सुधीर कुमार रंजीत कुमार, संदेश कुमार, लक्ष्मन आनंद और डीपी बोरा आदि रहे।

खबरें और भी हैं...