UP में 2 बड़े हादसे, 8 की मौत:मथुरा में एक्सप्रेस वे पर बस की टक्कर से मां-बेटे समेत 5 की मौत; सहारनपुर में 3 दोस्तों की गई जान

मथुरा3 महीने पहले

उत्तर प्रदेश में गुरुवार की देर रात दो बड़े हादसे हुए। पहला हादसा सहारनपुर में हुआ। यहां दिवाली पूजन के बाद दोस्त को मिठाई देने के लिए घर से निकले तीन दोस्तों को ट्रैक्टर ट्राली से टकराने के बाद मौत हो गई। उधर, मथुरा में यमुना एक्सप्रेस वे पर बस और कार की टक्कर हो गई। हादसे में एक महिला, उसके दो बेटे समेत 5 लोग की मौत हो गई। मृतकों में बस ड्राइवर भी है। वह पठानकोट का रहने वाला था।

कार सवार गाजियाबाद के रहने वाले थे। मौके पर पहुंची पुलिस ने शवों को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया। हादसे में से एक शख्स घायल है। उसे नोएडा के एक निजी अस्पताल में भर्ती करवाया गया है।

मथुरा में हादसे के बाद बस के परखच्चे उड़े।
मथुरा में हादसे के बाद बस के परखच्चे उड़े।

मथुरा: डिवाइडर क्रास कर कार को मारी टक्कर

गुरुवार देर रात बस (UP 70 HT 5760) नोएडा से आगरा की तरफ जा रही थी। बस जैसे ही थाना नौहझील क्षेत्र के माइल स्टोन 71 पर पहुंची, तभी बेकाबू हो गई। डिवाइडर क्रॉस कर बस आगरा से नोएडा की तरफ जा रही कार (UP 14 AS 7766) को टक्कर मार दी। हादसे में पांच लोगों की मौत हुई है। मृतकों की शिनाख्त पठानकोट के बस ड्राइवर बलवंत सिंह, कार सवार गाजियाबाद के गोविंदपुरम निवासी सागर (27 वर्ष) पुत्र वेदप्रकाश, मोहिनेश यादव (20 वर्ष) पुत्र वेदप्रकाश, प्रेमश्री (55 वर्ष) पत्नी वेद प्रकाश और गौरव (24 वर्ष) पुत्र सुरेंद्र के रुप में हुई है। यह सभी गाजियाबाद से कानपुर की तरफ जा रहे थे, तभी यह हादसा हो गया।

झपकी आने से हुआ हादसा

हादसे की जानकारी मिलते ही पीआरवी 112 के अलावा थाना नौहझील पुलिस मौके पर पहुंच गई। पुलिस ने कार में फंसे लोगों को एक्सप्रेस वे कर्मियों की मदद से निकाला। बस खाली थी और उसमें केवल ड्राइवर ही था। इस हादसे की वजह बस ड्राइवर को नींद आना माना जा रहा है।

सहारनपुर में ट्रैक्टर ट्राली के नीचे फंसी बाइक को निकालते लोग।
सहारनपुर में ट्रैक्टर ट्राली के नीचे फंसी बाइक को निकालते लोग।

सहारनपुर: पराली लदी ट्राली में जा घुसे बाइक सवार तीन दोस्त
लक्की (21), विक्की (21) और प्रद्युमन (18) दीपावली की पूजा कर तीनों एक साथ अपने दोस्त को मिठाई देने की बात कहकर घर से निकले थे। परिवार वालों ने रात के समय उन्हें जाने को मना भी किया, लेकिन वह आधे घंटे में वापस आने की बात कहकर निकल गए। इसी बीच थाना कोतवाली गंगोह के चांदपुर के पास सामने पराली भरी ट्रैक्टर ट्राली में जा घुसे। इस हादसे में तीनों दोस्तों की घटनास्थल पर ही मौत हो गई।

बाइक के नंबर से मृतकों की हुई शिनाख्त
हादसा इतना भीषण था कि तीनों युवकों की बाइक ट्रैक्टर-ट्राली में घुसी तो क्षतिग्रस्त हो गई। हादसे के बाद गांव के लोग इकट्‌ठा हो गए। सूचना के बाद पुलिस भी पहुंच गई और ग्रामीणों की मदद से तीनों युवकों को सीएचसी गंगोह भिजवाया। जहां डॉक्टर ने मृत घोषित कर दिया। पुलिस ने बाइक के नंबर से युवकों के परिजनों से संपर्क किया। सीओ रिजवान अहमद ने बताया कि तीनों युवकों के शव पोस्टमार्टम के लिए भेज दिए गए है। परिजनों की ओर से अभी तहरीर नहीं आई है। घटना गुरुवार रात 11.45 बजे की है।