नगर निगम के खिलाफ प्रदर्शन:वृंदावन में सीवर की समस्या से परेशान लोगों ने लगाया जाम, कॉलोनी वासियों ने जताया विरोध

मथुराएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
जाम लगा रहे लोगों का आरोप है कि वह नगर निगम से कई बार मिन्नत कर चुके हैं लेकिन समस्या का कोई समाधान नहीं हुआ - Dainik Bhaskar
जाम लगा रहे लोगों का आरोप है कि वह नगर निगम से कई बार मिन्नत कर चुके हैं लेकिन समस्या का कोई समाधान नहीं हुआ

एक साल से मथुरा वृंदावन नगर निगम के चक्कर लगा कर थक चुके वृंदावन की मधुवन कॉलोनी वासियों ने मंगलवार को जाम लगा दिया। रमण रेती से नेशनल हाई वे की तरफ जाने वाले रोड पर जाम लगा देने से राहगीरों को दिक्कत का सामना करना पड़ा। जाम लगा रहे लोगों का आरोप है कि वह नगर निगम से कई बार मिन्नत कर चुके हैं लेकिन समस्या का कोई समाधान नहीं हुआ।

दो घण्टे तक रहा जाम

सीवर , साफ सफाई और सड़क की समस्या को लेकर मंगलवार को वृंदावन में इस्कॉन मंदिर के पास स्थित मधुवन कॉलोनी के निवासियों का गुस्सा फूट पड़ा। कॉलोनी वासियों ने रमण रेती से दिल्ली -कोलकाता नेशनल हाई वे की तरफ जाने वाले रोड पर जाम लगा दिया। करीब दो घण्टे तक जाम लगा रहने के कारण वहां से गुजरने वाले राहगीर और वाहन चालकों को करीब दो से तीन किलोमीटर घूम कर अपने गंतव्य तक जाना पड़ा।

एक साल से लगा रहे निगम के चक्कर

मधुवन कॉलोनी में अधिकांश लोग इस्कॉन के भक्त हैं। इनमें भारतीय भी हैं तो विदेशी भी। शहर की पॉश काॅलाेनियों में गिनी जाने वाली मधुवन कॉलोनी के वासिंदे पिछले एक साल से यहां व्याप्त समस्याओं के निस्तारण के लिए नगर निगम अधिकारियों से मिन्नत कर रहे हैं। लेकिन जब समस्या का समाधान नहीं हुआ तो यह लोग सड़क जाम कर वहीं बैठ गए।

महिलाओं ने किया कीर्तन

जाम स्थल पर बड़ी संख्या में महिलाएं मौजूद थीं। भजन पूजन के लिए वृंदावन वास कर रहीं इन महिलाओं ने निगम के अधिकारियों को जगाने के लिए प्रदर्शन स्थल पर ही कीर्तन शुरू कर दिया। प्रदर्शन कर रही महिलाओं का आरोप है कि बार बार कहने के बावजूद समस्या का कोई समाधान नहीं हुआ इसलिए मजबूरी में धरने पर बैठना पड़ा।

कॉलोनी वासियों का आरोप गंदगी के कारण बढ़ रही बीमारियां

मधुवन कॉलोनी निवासी मंगल दास ने बताया कि यहां व्याप्त गंदगी की बजह से बीमारियां बढ़ रही हैं। अक्टूबर में ड़ेंगू की बजह से एक व्यक्ति की मौत हो गयी कई लोग बीमार हुए। लेकिन इसके बावजूद समस्या का समाधान नहीं हुआ।