श्री कृष्ण विराजमान मामला:श्री कृष्ण विराजमान मामले में टली सुनवाई , 20 सितंबर को होगी सुनवाई

मथुरा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
श्री कृष्ण जन्मभूमि मामले पर सोमवार को जिला जज की अदालत में श्री कृष्ण विराजमान की याचिका पर सुनवाई होनी थी लेकिन जिला जज के अवकाश पर होने के कारण सुनवाई नहीं हो सकी - Dainik Bhaskar
श्री कृष्ण जन्मभूमि मामले पर सोमवार को जिला जज की अदालत में श्री कृष्ण विराजमान की याचिका पर सुनवाई होनी थी लेकिन जिला जज के अवकाश पर होने के कारण सुनवाई नहीं हो सकी

श्री कृष्ण जन्मभूमि मामले पर सोमवार को जिला जज की अदालत में श्री कृष्ण विराजमान की याचिका पर सुनवाई होनी थी लेकिन जिला जज के अवकाश पर होने के कारण सुनवाई नहीं हो सकी। जिसके चलते न्यायालय ने सुनवाई की अगली तारीख 20 सितंबर मुकर्रर की है। अब 20 सितंबर को श्री कृष्ण विराजमान की याचिका पर सुनवाई होगी।

यह हैं मामला

मथुरा श्री कृष्ण जन्म स्थान की 13.37 एकड़ जमीन को मुक्त कराने और मथुरा की शाही ईदगाह मस्जिद को अवैध निर्माण बता कर हटाने की मांग को लेकर श्री कृष्ण विराजमान पक्ष द्वारा करीब 1 वर्ष पहले याचिक दायर की थी। याचिका को पूर्व में जिला जज की अदालत ने खारिज किया उसके बाद सिविल जज की अदालत द्वारा भी खारिज किया गया ।इसके बाद याचिकाकर्ताओं ने जिला जज की अदालत में पुनः याचिका दायर को दायर किया है । जहां पर न्यायालय ने श्री कृष्ण विराजमान की याचिका को रिवीजन के तौर पर सुनने पर अपनी सहमति जताई।

25 सितंबर 2020 को किया गया था वाद दायर

श्री कृष्ण विराजमान वाद 25 सितंबर 2020 को दायर किया गया था । अधिवक्ता हरिशंकर जैन , रंजना अग्निहोत्री द्वारा दाखिल वाद में श्री कृष्ण जन्मस्थान की 13.37 एकड़ भूमि मुक्त कराने की माँग न्यायालय से की गई थी । मथुरा की न्यायालय में दाखिल इस वाद में एक साल में 11 बार तारीख पद चुकी हैं ।

क्या है वाद में

मथुरा न्यायालय में दायर वाद में कहा गया था कि यह जमीन श्रीकृष्ण जन्मभूमि ट्रस्ट की है लेकिन साल 1968 में इसका समझौता श्रीकृष्ण जन्मस्थान सेवा संघ और शाही मस्जिद ईदगाह कमिटी के बीच हुआ था, जो अवैध है। इस मामले में अदालत ने बीते 16 अक्टूबर 2020 को श्रीकृष्ण जन्मभूमि ट्रस्ट, श्रीकृष्ण जन्मस्थान सेवा संस्थान, शाही मस्जिद ईदगाह कमिटी और उत्तर प्रदेश सुन्नी सेंट्रल बोर्ड को नोटिस जारी कर 18 नवंबर को जवाब मांगा था।

खबरें और भी हैं...