पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

मथुरा में लेनदेन के विवाद में बवाल:दो गुटों के बीच मारपीट के पथराव और फायरिंग; पुलिस पहुंची तो भाग निकले उपद्रवी

मथुरा21 दिन पहले
फायरिंग का वीडियो वायरल है। दावा है कि मारपीट के दौरान दहशत फैलाने के लिए ऐसा किया गया।

मथुरा में फरह थाना क्षेत्र के गांव कोह के नगला कुशवाह में शनिवार को रुपए के लेनदेन को लेकर पक्षों में विवाद हो गया। इस दौरान पथराव और फायरिंग भी की गई। हालांकि पुलिस के पहुंचने से पहले उपद्रवी भाग गए। मामले की जांच कर रही पुलिस का दावा है कि फायरिंग का वीडियो फर्जी है।

तीन पहले पुरानी रंजिश का मामला

ग्राम पंचायत कोह के नगला कुशवाह निवासी लक्ष्मीनारायन करीब 3 महीने पहले गांव के रहने वाले दिनेश को लेकर बैंक का लोन चुकाने गया था। बैंक का लोन भरते समय दिनेश ने लक्ष्मी नारायण की पासबुक व अन्य कागज अपने पास रख लिए। तीन दिन पूर्व जब लक्ष्मीनारायन ने अपनी पासबुक व अन्य कागज दिनेश से मांगे तो मना कर दिया। लक्ष्मी नारायन का आरोप है कि बैंक का लोन क्लियर कराने के नाम पर दिनेश पैसे मांगने लगा और पासबुक व अन्य कागज देने से मना कर दिया।

इसी बात को लेकर दिनेश के परिजन धर्मेंद्र व नंद किशोर लक्ष्मी नारायण के घर जा पहुंचे और पैसे मांगने लगे। इसके साथ ही कहने लगे कि तुमने चुनाव में हमारे प्रत्याशी को वोट भी नहीं दिए थे। इसी बात को लेकर दोनों पक्षों के बीच झगड़ा हो गया। झगड़े ने कुछ ही देर में मारपीट का रूप ले लिया। इसी बीच नंद किशोर, दिनेश, धर्मेंद्र आदि ने अंधाधुंध फायरिंग शुरू कर दी। जिससे ग्रामीणों में भगदड़ मच गई।

पुलिस ने दर्ज किया केस

गांव में झगड़े और फायरिंग की सूचना पाकर पुलिस भी पहुंच गई। लेकिन तब तक आरोपी भाग गए। इस मामले में लक्ष्मी नारायन ने आरोपियों के खिलाफ फरह थाने में केस दर्ज करा दिया। थाना प्रभारी रमेश प्रसाद भारद्वाज ने बताया कि केस दर्ज कर लिया गया है। इस मामले में आवश्यक कार्रवाई की जाएगी।