उप मुख्यमंत्री का मथुरा दौरा:संस्कृति यूनिवर्सिटी के दीक्षांत समारोह में की सहभागिता, नगला दीनदयाल धाम में विभिन्न कार्यक्रमों में लिया भाग

मथुरा10 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
दीक्षांत समारोह में छात्र छात्राओं के साथ उप मुख्यमंत्री ब्रजेश पाठक - Dainik Bhaskar
दीक्षांत समारोह में छात्र छात्राओं के साथ उप मुख्यमंत्री ब्रजेश पाठक

उत्तर प्रदेश के उप मुख्यमंत्री और स्वास्थ्य मंत्री ब्रजेश पाठक शनिवार को मथुरा दौरे पर पहुंचे। उप मुख्यमंत्री ने सबसे पहले छाता क्षेत्र में स्थित संस्कृति यूनिवर्सिटी पहुंचकर वहां आयोजित दीक्षांत समारोह में सहभागिता की इसके बाद वह फरह क्षेत्र स्थित नगला दीनदयाल धाम पहुंचे। नगला दीनदयाल धाम में उप मुख्यमंत्री ने पंडित दीनदयाल उपाध्याय की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया।

विद्यार्थी अपनी क्षमताओं का करें उपयोग-ब्रजेश पाठक

संस्कृति विश्वविद्यालय के दीक्षांत समारोह में पहुंचे प्रदेश के उप मुख्यमंत्री ब्रजेश पाठक ने छात्रों को सम्बोधित करते हुए कहा कि इस विश्वविद्यालय ने पांच वर्षों में जिस तरह से प्रगति की है और जैसा यहां देखा उसको देखकर लगता है कि आने वाले 10 वर्षों में ही यह शिक्षण संस्था 50 वर्षों का लक्ष्य प्राप्त कर लेगी। यह संभव हुआ है यहां के विद्यार्थियों की लगन, शिक्षकों के समर्पण के कारण।उन्होंने उपाधि हासिल करने वाले विद्यार्थियों को बधाई देते हुए कहा कि आप बहुत सौभाग्यशाली हैं जो आपने इस पावन भूमि में विद्याध्ययन कर डिग्री हासिल की। अभी तक आप माता-पिता के सहारे थे, लेकिन अब आप स्वयं क्षमता वान हो चुके हैं। आपको प्रधानमंत्री मोदी के सपनों को साकार करने के लिए अपनी क्षमताओं को दिखाना है और देश को आगे ले जाना है। असली भारत के निर्माण में आपका बड़ा योगदान होना चाहिए।

2017 से पहले उत्तर प्रदेश में थी बिगड़ी कानून व्यवस्था और माफिया राज

उप मुख्यमंत्री ब्रजेश पाठक ने कहा कि उप्र की पहले क्या स्थिति थी सब जानते हैं। बिगड़ी हुई कानून व्यवस्था और माफिया राज था। चारों तरफ अवैध कब्जे हो रहे थे। प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अपनी दृढ़ इच्छा शक्ति के चलते इसको क्षमता वान प्रदेश बना दिया। आज गुंडे, बदमाश और माफिया अपने बिलों में दुबके बैठे हैं।

उच्च शिक्षा मंत्री भी रहे मौजूद

समारोह के सम्मानित अतिथि प्रदेश के उच्च शिक्षा मंत्री योगेंद्र उपाध्याय ने दीक्षांत समारोह में डिग्री पाने वाले विद्यार्थियों को बधाई दी । उच्च शिक्षा मंत्री ने कहा कि हमको अपनी मंजिल की ओर अकेला ही चलना पड़ता जब हम हिम्मत के साथ अपनी मंजिल की ओर बढ़ते हैं तो हमारे साथ तमाम लोग जुड़ जाते हैं। उन्होंने स्वामी विवेकानंद के कथन का हवाला देते हुए बताया कि मानव जीवन के लिए संस्कार वान शिक्षा कितनी जरूरी है। उन्होंने कहा संस्कृति विवि द्वारा जिस तरह से शिक्षा की व्यवस्था की जा रही है वह सराहनीय है। उन्होंने कहा कि शिक्षा ऐसी होनी चाहिए जो राष्ट्र का निर्माण करे। शिक्षा संस्कार, तकनीकि और रोजगार से जुड़े। उन्होंने एक किस्से का जिक्र करते हुए कहा कि दीक्षांत होने के साथ गुणवान भी बनें। उन्होंने विद्यार्थियों से कहा कि अभी तक आपने ग्रहण किया है। आपका दायित्व है और मौका है कि अब आप देश के लिए कुछ करें।

मां सरस्वती के चित्र पर माल्यार्पण से हुआ दीक्षांत समारोह का शुभारंभ

दीक्षांत समारोह का शुभारंभ मुख्य अतिथि प्रदेश के उप मुख्यमंत्री ब्रजेश पाठक एवं प्रदेश के उच्च शिक्षा मंत्री योगेंद्र उपाध्याय, स्टेट हायर एजूकेशन काउंसिल के चेयरमैन डा गिरीश चंद्र त्रिपाठी, संस्कृति ग्रुप के चेयरमैन आर के गुप्ता, संस्कृति विश्व विद्यालय के चेयरमैन सचिन गुप्ता आदि ने मां सरस्वती की प्रतिमा पर माल्यार्पण एवं दीप प्रज्वलन से हुआ। दीक्षांत समारोह में यूपी माइनरिटी कमीशन के अध्यक्ष अशफाक सैफी भी मौजूद थे।

दीनदयाल धाम में स्थित सरस्वती विद्या मंदिर के वार्षिकोत्सव में लिया भाग

संस्कृति यूनिवर्सिटी के दीक्षांत समारोह में शामिल होने के बाद उप मुख्यमंत्री ब्रजेश पाठक फरह क्षेत्र स्थित नगला दीनदयाल धाम पहुंचे। यहां उप मुख्यमंत्री ने सबसे पहले स्मारक पहुंच कर पंडित दीनदयाल उपाध्याय की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया। इसके बाद वह सरस्वती विद्या मंदिर पहुंचे जहां उन्होंने वार्षिकोत्सव में बतौर मुख्य अतिथि सहभागिता की।

खबरें और भी हैं...