मथुरा में खाद्य सुरक्षा विभाग की कार्यवाही:दूध की दुकानों पर मारे छापे, कार्यवाही के दौरान आधा दर्जन से ज्यादा जगह से लिए गए दूध के सैंपल

मथुरा3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
दूध लेकर जा रही गाडी से दूध के सैंपल लेते विभाग के अधिकारी - Dainik Bhaskar
दूध लेकर जा रही गाडी से दूध के सैंपल लेते विभाग के अधिकारी

मथुरा में शुक्रवार को खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन ने दूध की दुकानों पर छापेमारी की। खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन ने दो अलग अलग टीम बनाई और एक साथ आधा दर्जन से ज्यादा जगह पर छापे मारे। टीम ने इस दौरान शक होने पर जांच के लिए दूध के सैंपल इकट्ठा।

मिलावट रोकने के लिए की कार्यवाही

खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन मथुरा के सहायक आयुक्त डॉ गौरी शंकर के निर्देश पर खाद्य सुरक्षा विभाग की दो टीम द्वारा दूध एवं दूध पदार्थों में हो रही मिलावट को रोकने एवं गुणवत्ता बनाए रखने हेतु कई क्षेत्रों में छापामार कार्रवाई की गई। जिसके तहत टीम ने नौहझील क्षेत्र में संचालित विष्णु डेयरी का निरीक्षण करने के बाद संदेह होने पर जांच हेतु पनीर का नमूना एकत्रित किया।

दूध लेकर जा रहे वाहनों की भी की चैकिंग

टीम ने बाजना क्षेत्र में दूध लेकर जा रहे वाहनों को रोक कर चैक किया। दूध की जांच के बाद अलग-अलग वाहनों से 3 दूध के सैंपल संग्रहित किए गए। दूसरी टीम ने गोवर्धन क्षेत्र में सौंख अड्डा से मिल्क वेंडर्स के दूध का, जतीपुरा स्थित मधुसूदन मिष्ठान भंडार, छोटी परिक्रमा स्थित प्रेम पाल सिंह के खाद्य प्रतिष्ठान एवं नगला छत्रिय में स्थित दुग्ध डेयरी का निरीक्षण निरीक्षण करते हुए 4 सैंपल संग्रहित किए गए। सभी सैंपल को जांच हेतु प्रयोगशाला भेजा गया।

यह रहे मौजूद

कार्यवाही के दौरान टीम में एस एस निरंजन, देवराज सिंह ,मुकेश कुमार, गजराज सिंह, डॉ शैलेंद्र रावत, डॉ सोमनाथ, नंद किशोर यादव, मनीषा शर्मा, सविता शर्मा खाद्य सुरक्षा अधिकारी उपस्थित रहे।

मिलावट मिलने पर होगी कार्यवाही

छापेमारी के दौरान डॉ गौरी शंकर सहायक आयुक्त, खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन ने डेयरी संचालक एवं खाद्य कारोबारियों से अपील करते हुए कहा कि विभाग द्वारा जारी लाइसेंस तथा पंजीकरण प्राप्त करने के उपरांत ही खाद्य कारोबार का संचालन करें और गुणवत्ता युक्त खाद्य सामग्री का ही विक्रय करें। मिलावट पाए जाने पर विधिक कार्रवाई की जाएगी।