यूपी टेट परीक्षा:सपा ने पेपर लीक मामले में सरकार को घेरा, 15 दिन में पेपर कराने और 5 हजार रु छात्रों को मुआवजे की मांग

मथुराएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
प्रदर्शन के दौरान सपा कार्यकर्ताओं ने राज्यपाल के नाम ज्ञापन सौंपा। सपा कार्यकर्ताओं ने 15 दिन में पेपर कराए जाने की मांग करते हुए छात्रों को मुआवजा दिलाने की भी मांग की - Dainik Bhaskar
प्रदर्शन के दौरान सपा कार्यकर्ताओं ने राज्यपाल के नाम ज्ञापन सौंपा। सपा कार्यकर्ताओं ने 15 दिन में पेपर कराए जाने की मांग करते हुए छात्रों को मुआवजा दिलाने की भी मांग की

रविवार को लीक हुए यूपी टेट परीक्षा को लेकर समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने सोमवार को मथुरा कलेक्ट्रेट पर प्रदर्शन किया। प्रदर्शन के दौरान सपा कार्यकर्ताओं ने राज्यपाल के नाम ज्ञापन सौंपा। सपा कार्यकर्ताओं ने 15 दिन में पेपर कराए जाने की मांग करते हुए छात्रों को मुआवजा दिलाने की भी मांग की।

रविवार को हुआ था टेट का पेपर लीक

रविवार को प्रदेश में उत्तर प्रदेश शिक्षक पात्रता परीक्षा आयोजित हुई थी। लेकिन यूपी टेट का पेपर पहले से ही लीक हो गया। जिसके चलते लाखों परीक्षार्थियों को परीक्षा केंद्रों से मायूसी का सामना करते हुए लौटना पड़ा। यूपी टेट का परीक्षा लीक होने के बाद विपक्ष ने सरकार पर जनकर हमला बोला। राजनीतिक दलों के नेताओं ने योगी सरकार के खिलाफ जमकर सोशल मीडिया पर पोस्ट की।

सपा ने की सरकार के खिलाफ नारेबाजी

उत्तर प्रदेश शिक्षक पात्रता परीक्षा का पेपर लीक होने पर सोमवार को मथुरा में समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने जिला कलेक्ट्रेट पर पहुंचकर राज्य सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। साथ ही भविष्य में अन्य परीक्षाओं में इस प्रकार की घटना ना हो उसके लिए भी सरकार को चेतावनी दी।सपा नेताओं ने मांग की कि जो अभ्यर्थी पेपर देने आए थे उनको सरकार द्वारा ₹5000 किराए भाड़े की वापसी के रूप में दिए जाएं और 15 दिन के अंदर दोबारा पेपर कराया जाए। जिससे कि छात्रों का भविष्य सुरक्षित हो सके।

ज्ञापन में मुख्य मांगे

1- सरकार 15 दिन के अंदर पुनः टेट की परीक्षा आयोजित कराए ।

2- सरकार, आगामी आयोजित टेट परीक्षा में समस्त परीक्षार्थियों को परीक्षा स्थल पर पहुँचने हेतु यात्रा भत्ता व रेलगाड़ी और बसों में मुफ्त यात्रा की व्यवस्था उपलब्ध कराए।

3- दिनांक 28/11/2021 को आयोजित टेट परीक्षा हेतु आवागमन में हुई आर्थिक क्षति की प्रतिपूर्ति के लिए समस्त परीक्षार्थियों को कम से कम पांच पांच हजार रुपए आर्थिक सहायता दी जाय।

प्रदर्शन के दौरान क्या बोले सपा नेता

कलेक्ट्रेट पर प्रदर्शन में शामिल होने आए समाजवादी पार्टी के महानगर अध्यक्ष डॉ अबरार हुसेन ने बताया कि पेपर लीक होना सरकार का एक बड़ा फेलियर है. UPTET 2021 की परीक्षा का पेपर लीक होने की वजह से रद्द होना बीसों लाख बेरोजगार अभ्यर्थियों के भविष्य के साथ खिलवाड़ है। समाजवादी लोहिया वाहिनी के महानगर अध्यक्ष मुन्ना मलिक ने कहा सरकार द्वारा आयोजित टेट की परीक्षा वर्तमान सरकार की नाकामी और लापरवाही के कारण रद्द कर दी गई। जिससे अनगिनत युवाओं युवतियों के
अपूर्णीय क्षति के साथ-साथ उनके सुनहरे भविष्य के साथ खिलवाड़ हुआ है। मुलायम सिंह यादव यूथ ब्रिगेड के महानगर अध्यक्ष सतीश पटेल ने कहा भर्तियों में भ्रष्टाचार, पेपर आउट ही बीजेपी सरकार की पहचान बन चुका है. आज UPTET का पेपर आउट होने की वजह से लाखों युवाओं की मेहनत पर पानी फिर गया। हर बार पेपर आउट होने पर योगी आदित्यनाथ जी की सरकार ने भ्रष्टाचार में शामिल बड़ी मछलियों को बचाया है, इसलिए भ्रष्टाचार चरम पर है।

प्रदर्शन में यह रहे शामिल

ज्ञापन में देने वालों में मुख्य रूप से राष्ट्रीय सचिव विभोर गौतम, सौरभ चौधरी ,संदीप चौधरी एडवोकेट, दिगंबर सिंह, सचिन जाटव, नदीम कुरैशी, नजीम अब्बासी, बबुआ कुरेशी ,कमरुद्दीन मलिक, रवि कुमार, शाहरुख उस्मानी, हाफिज हारिस, कुरेशी शबनम कुरेशी, मुरारी यादव, संजय यादव ,मोहित यादव, साबिर उस्मानी, सचिन पहलवान, देवेंद्र कुमार गोला, राजेश यादव वीला, संजय सिंह राजावत एडवोकेट, मो सद्दाम,कपिल यादव आदि उपस्थित थे।