पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा का मथुरा दौरा:वृंदावन में एसटीपी प्लांट का निरीक्षण किया, बोले- सरकार की प्राथमिकता में है यमुना शुद्धिकरण

मथुरा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा ने कहा कि एसटीपी प्लांट के संचालन में किसी भी तरह की कोई भी लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। - Dainik Bhaskar
ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा ने कहा कि एसटीपी प्लांट के संचालन में किसी भी तरह की कोई भी लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी।

उत्तर प्रदेश के ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा मथुरा के दौरे पर हैं। उन्होंने शुक्रवार को मसानी क्षेत्र स्थित जल निगम के एसटीपी (सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट) का निरीक्षण किया। उनके साथ जिलाधिकारी और जल निगम के अधिकारी भी थे। ऊर्जा मंत्री ने एसटीपी प्लांट के संचालन के बारे में अधिकारियों से जानकारी ली। उन्होंने कहा कि यमुना शुद्धिकरण सरकार की प्राथमिकता में है। एसटीपी प्लांट के संचालन में किसी भी तरह की कोई भी लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। इसमें अधिकारियों की जिम्मेदारी तय होगी। लापरवाही मिलने पर कड़ी कार्रवाई भी की जाएगी।

शुक्रवार को ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा ने एसटीपी (सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट) का निरीक्षण किया।
शुक्रवार को ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा ने एसटीपी (सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट) का निरीक्षण किया।

अक्टूबर तक पूरा हो जाएगा 36 नालों के टेपिंग का काम
श्रीकांत शर्मा ने बताया कि यमुना शुद्धिकरण सरकार की प्राथमिकता में है और यमुना का प्रवाह बना रहे इसके लिए केंद्र सरकार भी काम कर रही हैं। पहली प्राथमिकता है शहर का गंदा पानी यमुना जी में ना जाए ,उसके लिए एसटीपी प्लांट में 36 नालों के टेपिंग का काम अक्टूबर तक पूरा हो जाएगा।

पानी को फिल्टर करके बनाया जाएगा प्रयोग लायक
मथुरा वृंदावन का गंदा पानी पाइप लाइन के जरिये एसटीपी प्लांट जाएगा। जहां एसटीपी के जरिये फिल्टर होकर दोबारा से सप्लाई में प्रयोग किया जाएगा। जिससे शहर में पानी के संकट से भी राहत मिलेगी।

खबरें और भी हैं...