मथुरा में महिला इंस्पेक्टर की पहल:पति-पत्नी के बीच आई दरार को खत्म कर रहीं महिला थाना प्रभारी, 17 दिन में 32 जोड़ों के बीच करवाया समझौता

मथुरा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
22 जुलाई को महिला थाना प्रभारी का चार्ज संभालने वाली हेमलता सिंह इससे पहले श्री कृष्ण जन्मस्थान की सुरक्षा व्यवस्था में तैनात थीं। - Dainik Bhaskar
22 जुलाई को महिला थाना प्रभारी का चार्ज संभालने वाली हेमलता सिंह इससे पहले श्री कृष्ण जन्मस्थान की सुरक्षा व्यवस्था में तैनात थीं।

मथुरा में महिला थाना अध्यक्ष इंस्पेक्टर हेमलता इन दिनों सुर्खियों में हैं । उनके सुर्खियों में बने रहने का कारण हैं पति पत्नी के बीच होने वाले विवादों को खत्म कर दोनों में सुलह कराना। महिला थाना अध्यक्ष ने 17 दिन में 32 जोड़ों को मिलवा चुकी हैं ।

17 दिन पहले लिया था महिला थाने का चार्ज
ढाई साल पहले मथुरा आईं उत्तर प्रदेश पुलिस में निरीक्षक के पद पर तैनात हेमलता सिंह के काम की इन दिनों तारीफ हो रही है। 22 जुलाई को महिला थाना प्रभारी का चार्ज संभालने वाली हेमलता सिंह इससे पहले श्री कृष्ण जन्मस्थान की सुरक्षा व्यवस्था में तैनात थीं। महिला थाने में पारिवारिक विवाद के आने वाले मामलों में हेमलता सिंह पति-पत्नी के बीच पहले काउंसलिंग करती हैं। 3 से 4 तारीखों में हेमलता दोनों पक्षों को सन्तुष्ट कर समझौता करा देती हैं। 22 जुलाई से चार्ज संभालने के बाद से अब तक उन्होंने 32 मामलों में समझौता करवा चुकी हैं।

40 साल से अलग रह रहे पति-पत्नी को मिलाया
महिला थाना प्रभारी ने बताया कि 40 साल से अलग रह रहे पति-पत्नी का समझौता कराकर उनके बीच का मनमुटाव दूर किया है। महिला चन्द्रवती और उनके पति विद्याराम में 40 साल से विवाद चल रहा था। विवाद के कारण चन्द्रवती अपने पति से अलग रह रहीं थीं।

काउंसलिंग के दौरान पति-पत्नी ही रहते हैं मौजूद
महिला थाना अध्यक्ष हेमलता सिंह ने बताया कि जब वह काउंसलिंग करतीं हैं तो उस समय केवल पति-पत्नी ही मौजूद रहते हैं। इसकी वजह यह है कि विवाद का कारण कुछ भी नहीं होता है, मामूली बातों को लेकर विवाद बढ़ जाता है। दोनों को समझाकर विवाद खत्म करा दिया जाता है।

खबरें और भी हैं...