मथुरा के भगवती देवी मंदिर को चोरों ने बनाया निशाना:सुरक्षा में लगे CCTV कैमरों को चुराया, गर्भगृह में घुसने जा रहे थे; लोगों को आते देख भाग गए

मथुराएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
भगवती देवी मंदिर करीब 500 साल पुराना है। नगर वासियों के अलावा आसपास के गांव के लोग भी मंदिर में पूजा करने के लिए आते हैं।  - Dainik Bhaskar
भगवती देवी मंदिर करीब 500 साल पुराना है। नगर वासियों के अलावा आसपास के गांव के लोग भी मंदिर में पूजा करने के लिए आते हैं। 

मथुरा के थाना कोसीकलां क्षेत्र में स्थित भगवती देवी मंदिर को शनिवार को चोरों ने निशाना बनाया। उन्होंने सबसे पहले मंदिर की सुरक्षा में लगे सीसीटीवी कैमरे चुराए। वे गर्भगृह तक पहुंच पाते। इससे पहले ही लोगों को इसकी भनक लग गई। लोगों के आने की आहट सुनकर चोर भाग निकले।

वारदात की जानकारी पुजारी को सुबह मन्दिर पहुंचने पर पर हुई। मंदिर में चोरी की जानकारी मिलने के बाद इलाके के लोग दहशत में हैं। हर तरफ चोरी की घटना की चर्चा हो रही है।

500 वर्ष पुराना है देवी मंदिर

स्थानीय लोगों के अनुसार कोसी नगर में स्थित भगवती देवी मंदिर करीब 500 साल पुराना है। नगर वासियों के अलावा आसपास के गांव के लोग भी मंदिर में पूजा करने के लिए आते हैं। मंदिर में काफी गहरी आस्था है। यही वजह है कि यहां बड़ी संख्या में भक्त मां भगवती के दर्शन करने आते हैं। चोरी की वारदात के बाद स्थानीय लोगों में गुस्सा है।

कहीं नशेबाजों ने तो नहीं दिया वारदात को अंजाम

भगवती देवी मंदिर पर हुई चोरी की वारदात के बाद अनुमान लगाया जा रहा है कि चोर आसपास के इलाके के रहने वाले हो सकते हैं। स्थानीय लोगों की मानें तो हो सकता है चोर नशेबाज हों । जिन्होंने नशेबाजी के अपने शौक को पूरा करने के लिए इस वारदात को अंजाम दिया हो। हालांकिपुलिस इस मामले पर अभी कुछ नहीं बोल रही है। लेकिन सूत्र बताते हैं कि पुलिस ने इस मामले में 3 से 4 युवकों को हिरासत में लिया है।

खबरें और भी हैं...