मथुरा में एनकाउंटर में दो बदमाश गिरफ्तार, एक फरार:10 हजार के इनामी थे, लूट की वारदात को अंजाम देने आए थे, पुलिस ने रोका तो फायरिंग कर दी, जवाबी कार्रवाई में दोनों घायल

मथुरा4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पुलिस ने दोनों घायल बदमाशों को पकड़ लिया। उसके बाद उन्हें इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया। - Dainik Bhaskar
पुलिस ने दोनों घायल बदमाशों को पकड़ लिया। उसके बाद उन्हें इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया।

मथुरा के थाना नौहझील क्षेत्र में यमुना एक्सप्रेस वे पर सोमवार को पुलिस की बदमाशों से मुठभेड़ हो गई। बदमाशों ने खुद को घिरता देख पुलिस पर फायरिंग कर दी। जिसके बाद पुलिस ने भी गोलियां चलाई। जवाबी फायरिंग में दो बदमाश घायल हो गए।

जबकि उसका एक साथी अंधेरे का फायदा उठाकर फरार हो गया। पुलिस ने दोनों घायल बदमाशों को पकड़ लिया। उसके बाद उन्हें इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया।

गश्त के दौरान पुलिस ने रोका था
थाना नौहझील पुलिस सोमवार को रात में लगभग 1 बजे यमुना एक्सप्रेस वे पर गश्त कर रही थी। इसी दौरान माइल स्टोन 69 के पास 3 संदिग्ध खड़े दिखाई दिए। पुलिस ने जब देर रात तीनों से सूनसान जगह पर खड़े होने का कारण पूछना चाहा तो उन्होंने पुलिस पर फायर कर दिया। पुलिस ने किसी तरह बचाव करते हुए जवावी फायरिंग की। जिसमें दो बदमाशों के पैर में गोली लग गई। जबकि तीसरा अंधेरे का फायदा उठाकर भाग निकला।

लूट और चोरी की वारदात को देते थे अंजाम

घायल बदमाश की पहचान शकील और राजू के रूप में हुई। पुलिस ने इनके पास से 2 तमंचे भी बरामद किए हैं। मुठभेड़ में घायल बदमाश शकील और राजू चोरी और लूट की वारदात को अंजाम देते थे। बताया जा रहा हैं कि दोनों बाबरिया गैंग के शातिर सदस्य हैं।

बदमाशों से पुलिस करेगी पूछताछ
एक्सप्रेस वे पर हुई मुठभेड की इस घटना के बाद घायल हुए बदमाश शकील और राजू को पुलिस ने इलाज के लिए अस्पताल भिजवाया। एसपी देहात श्रीश चन्द ने बताया कि फिलहाल घायल बदमाशों का इलाज कराया जा रहा हैं। बदमाशों से पूछताछ की जाएगी।

मुठभेड़ में घायल बदमाशों पर था इनाम

मुठभेड़ में घायल बदमाश गाजियाबाद निवासी शकील और कटियार निवासी राजू उर्फ मोहम्मद पर मथुरा पुलिस की तरफ से दस दस हजार का इनाम भी था। इन बदमाशों पर मथुरा के अलावा दिल्ली, हरियाणा, राजस्थान में भी लूट और चोरी के मुकदमें दर्ज हैं।

खबरें और भी हैं...