पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

मथुरा में कोरोना कंट्रोल:कोविड काल में निजी अस्पतालों की मनमानी, वैश्य एकता परिषद जन जागरण अभियान चलाकर करेगा वार

मथुरा19 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
परिषद पदाधिकारियों ने एक बैठक कर निजी अस्पतालों के खिलाफ मुहिम चलाने का निर्णय लिया। - Dainik Bhaskar
परिषद पदाधिकारियों ने एक बैठक कर निजी अस्पतालों के खिलाफ मुहिम चलाने का निर्णय लिया।

कोरोना काल के दौरान निजी अस्पतालों की मनमानी की खबरें लगातार आ रही हैं। निजी अस्पताल कोविड पॉजिटिव मरीजों का लाखों रुपए का बिल बना रहे हैं। इसी के विरोध में अब वैश्य एकता परिषद, जन जागरण अभियान चलाएगा। रविवार को परिषद पदाधिकारियों ने एक बैठक कर निजी अस्पतालों के खिलाफ मुहिम चलाने का निर्णय लिया।

कोरोना काल मे निजी अस्पतालों ने मरीजों को लूटा
रविवार को वैश्य एकता परिषद की राष्ट्रीय एवं पदाधिकारियों की बैठक स्थानीय एक होटल में आयोजित की गई। इस बैठक में कोरोना काल के दौरान निजी अस्पतालों के द्वारा मरीजों से ली गई। मनमानी फीस का विरोध किया गया और इसके खिलाफ मुहिम चलाने का निर्णय लिया। पदाधिकारियों ने निजी अस्पतालों के विरोध में जन जागरण एवं जन जागरूकता अभियान चलाने का निर्णय लिया।

जीएसटी पंजीकृत व्यापारियों को मिले 20 लाख रुपए
वैश्य एकता परिषद की एक दिवसीय बैठक में शामिल होने आए संघटन के राष्ट्रीय अध्यक्ष सुमन गुप्ता ने बताया कि कोरोना काल के दौरान मृत हुए जीएसटी पंजीकृत व्यापारियों को 20 लाख रुपए की आर्थिक सहायता सरकार द्वारा मिलनी चाहिए। वहीं, जिन व्यापारियों का कमर्शियल विद्युत कनेक्शन हैं और श्रम विभाग में पंजीकरण हैं उनको दस लाख रुपए की मदद की जाए।

खबरें और भी हैं...