मथुरा में दिखा तेंदुआ...देखें VIDEO:तलाश के लिए वन विभाग ने 3 टीमें गठित की, गांव वाले भयभीत

मथुरा9 महीने पहले
मथुरा के बाजना क्षेत्र में तेंदुआ आने की खबर के बाद वन विभाग उसकी तलाश कर रहा है।

मथुरा में एक बार फिर तेंदुआ के दिखने से लोग दहशत में हैं। मथुरा के थाना नौहझील इलाके के बाजना कस्बे के पास खेतों में तेंदुआ घूमते हुए का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया है। इसके बाद वन विभाग हरकत में आया है और उसने सर्च ऑपरेशन शुरू कर दिया है।

तीन टीमें कर रही तेंदुए की खोज

खेत में घूमते तेंदुआ का वीडियो मंगलवार रात को वायरल हुआ तो वन विभाग हरकत में आया। बाजना के आसपास के गांव में लोगों को सतर्क रहने के निर्देश दिए गए हैं। वन विभाग ने तेंदुआ की तलाश में 3 टीमों का गठन करते हुए सर्च ऑपरेशन शुरू कर दिया। वन विभाग ने एक टीम विभाग की दूसरी टीम गांव के युवाओं की और तीसरी टीम वन्य जीवों के लिए काम करने वाली एनजीओ की बनाई है। तीनों टीम एक दूसरे का सहयोग करते हुए तेंदुआ की तलाश कर रही हैं।

फुट मार्क को भेजा जांच के लिए

वन विभाग की टीम को खेतों में फुटमार्क मिले हैं। फुट मार्क के सैंपल लेकर वन विभाग ने जांच के लिए भेज दिए हैं। जिला फाॅरेस्ट अधिकारी रजनी कांत मित्तल ने बताया कि जो फुट मार्क मिले हैं वह साफ नहीं हैं। इसीलिए उनको जांच के लिए भेजा है। इसके साथ ही ग्रामीणों को सतर्कता बरतने के निर्देश दिए हैं।

पहले भी मथुरा में मिल चुके हैं तेंदुआ

करीब डेढ़ वर्ष पूर्व मथुरा के थाना गोवर्धन क्षेत्र स्थित अडींग में एक तेंदुआ वन विभाग की टीम ने रेस्क्यू किया था। इसके बाद 3 अक्टूबर 2021 को वृंदावन के अहिल्यांगज क्षेत्र स्थित जंगलों में एक तेंदुआ का शव बरामद हुआ था। इसकी पीट पीट कर हत्या की गई थी। और अब एक बार फिर तेंदुआ के आने की आहट से स्थानीय लोग और वन विभाग चिंतित है।

शिवपुरी या रणथम्बौर से आने की संभावना

मथुरा में एक बार फिर तेंदुआ दिखने के बाद अंदाजा लगाया जा रहा है कि यह राजस्थान के रणथंभौर या मध्यप्रदेश के शिवपुरी से आया होगा। जिला फाॅरेस्ट अधिकारी रजनी कांत मित्तल ने बताया कि यह तेंदुआ कहाँ से आया यह अभी नहीं कहा जा सकता पहले इसके यहां होने के प्रमाण तलाशे जा रहे हैं। पहले उपस्थित वेरिफाइड हो जाये फिर पता किया जाएगा कि यह कहां से आया है।