वृंदावन में नगर निगम ने सरकारी जमीन कराई कब्जा मुक्त:2 हजार वर्ग मीटर जमीन पर बाउंड्री करके कराई जा रही थी गुलाब की खेती

वृंदावन19 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

मथुरा जिले में नगर निगम ने परिक्रमा मार्ग स्थित बराहघाट के निकट सरकारी जमीन को अवैध कब्जे से मुक्त कराया है। इसकी कीमत 10 करोड़ रुपए बताई जा रही है। इस भूमि का उपयोग पार्क के रूप में किया जाएगा। यहां ठा. बांके बिहारी मंदिर में दर्शनों के लिए आने वाले भक्त विश्राम कर सकेंगे।

अवैध कब्जा कर बाउंड्रीवॉल बनाई गई थी

हाल ही में वृंदावन नगर निगम की सीमा विस्तार का विस्तार किया गया है। इसमें शामिल हुए नए क्षेत्रों की सरकारी भूमि एवं संपत्तियों को अवैध कब्जा मुक्त कराया जा रहा है। रविवार को नगर आयुक्त अनुनय झा के निर्देश पर सरकारी भूमि को कब्जा मुक्त कराया गया।

परिक्रमा मार्ग स्थित बराहघाट के निकट करीब 2 हजार वर्ग मीटर जमीन पर अवैध कब्जा कर बाउंड्रीवॉल बनाई गई थी। इसमें गुलाब की खेती की जा रही थी। निगम की राजस्व टीम ने जांच के दौरान इस भूमि को चिन्हित किया था। अपर नगर आयुक्त क्रांति शेखर सिंह के नेतृत्व में पहुंची निगम की टीम ने जेसीबी से बाउंड्री तोड़कर जमीन को अपने संरक्षण में ले लिया।

पेयजल, लाइट सहित बैठने की होगी व्यवस्था

अपर नगर आयुक्त ने बताया कि परिक्रमा मार्ग में कब्जा मुक्त कराई गई जमीन वृंदावन बांगर में है। इस जमीन का उपयोग पार्क के रूप में विकसित किया जाएगा। ताकि ठा. बांके बिहारी मंदिर में दर्शनार्थ आने वाले भक्त एवं परिक्रमार्थी मंदिर बंद होने या परिक्रमा करते समय थकने पर यहां आराम कर सकें। यहां पर पेयजल, लाइट एवं बैठने के लिए बैंच आदि की व्यवस्था भी कराई जाएगी।

इस मौके पर यह लोग मौजूद रहे

इस अवसर पर कार्यालय प्रभारी श्रीगोपाल वशिष्ठ, जेई (जलकल) कुंवरपाल सिंह, आरआई मुकेश सिंह, गोपाल प्रसाद शर्मा, पवन शर्मा, विपिन कुमार, विजय कुमार, मौनू कुरैशी, सौरभ सिंह, योगीराज सिंह सहित ईटीएफ टीम उपस्थित थी।

खबरें और भी हैं...