ठाकुर राधाकांत मंदिर में धूमधाम से मनाई जाएगी जन्माष्टमी:नवीन सिंहासन में विराजमान होकर भक्तों को दर्शन देंगे ठाकुर जी, तैयारी अंतिम दौर में

वृंदावन2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

वृंदावन में शील वाली कुंज स्थित ठाकुर राधाकांत मंदिर में इस बार श्री कृष्ण जन्माष्टमी महोत्सव धूमधाम से मनाई जाएगी। मंदिर में ठाकुर राधाकांत भगवान नवीन सिंहासन पर विराजमान होकर भक्तों को दर्शन देंगे।

आचार्य मृदुल कांत शास्त्री ने बताया कि अति प्राचीन राधा कांत मंदिर में अनोखे अंदाज में श्री कृष्ण जन्माष्टमी मनाई जाएगी। जिसमें विशेष रुप से निर्मित सुवर्णा रंग के दिव्य सिंहासन में राधाकांत भगवान विराजमान होकर भक्तों को दर्शन देंगे। विशेष रुप से सहारनपुर में सिंहासन को इस समय वृंदावन में अंतिम रूप दिया जा रहा है।

15 कलाकार दिन रात सिंहासन पर चित्रांकन करने में लगे हुए हैं
इसके लिए लगभग 15 कलाकार दिन रात सिंहासन पर चित्रांकन करने में लगे हुए हैं। सिंहासन में विशेष रुप से लक्ष्मीनारायण भगवान की झांकी, गौ माता तथा वृक्ष की कुंज निकुंज परंपरा का चित्रांकन किया गया है। श्री कृष्ण जन्माष्टमी पर संतों एवं विद्वानों द्वारा पूजन करके इस सिंहासन को प्रतिष्ठित कर इसमें श्री राधाकांत भगवान को विराजमान किया जाएगा। साथ ही श्री राधाकांत मंदिर में दिव्या पुष्पों का श्रृंगार 56 भोग एवं श्री गोपाल सहस्रनाम का पाठ होगा।

सिंहासन पर चित्रांकन करने में लगे हुए हैं कलाकार।
सिंहासन पर चित्रांकन करने में लगे हुए हैं कलाकार।

अत्यंत चमत्कारी श्री गोपाल जी के विग्रह की प्रतिष्ठा की गई है
बताया कि चमत्कारिक श्री गोपाल के दिव्य ग्रह का अभिषेक आचार्य पंडित विष्णुकांत शास्त्री के आचार्यत्व में किया जाएगा। बताया की मंदिर में विशेष रुप से भक्तों का कल्याण करने के लिए अत्यंत चमत्कारी श्री गोपाल जी के विग्रह की प्रतिष्ठा की गई है। जिसमें पृथ्वी में सबसे अधिक सवा करोड़ श्री गोपाल मंत्र, सवा करोड़ श्री गोपाल नाम से श्री गोपालजी को प्रसन्न कर प्रतिष्ठित किया गया है। आचार्य श्री ने बताया कि इस बार जन्माष्टमी महोत्सव 19 अगस्त रात्रि 9:00 बजे से 12:00 बजे तक राधाकांत मंदिर में मनाया जाएगा।

जन्माष्टमी पर श्री राधा कांत मंदिर में गोपालजी के दर्शन कर पुण्य लाभ कमाएं
उन्होंने भक्तों से अपील की जन्माष्टमी पर श्री राधा कांत मंदिर में गोपालजी के दर्शन कर पुण्य लाभ कमाएं। उन्होंने बताया कि मंदिर में भी नवीनीकरण का काम बड़े जोर शोर से चल रहा है। इस वर्ष मंदिर को स्वर्ण स्वरूप दिया गया है। मंदिर को सजाया जा रहा है एवं जन्माष्टमी को विशेष फूलबंगले में ठाकुरजी सिंहासन पर विराजमान होकर भक्तों को दर्शन देंगे।इस अवसर पर मोहन सोनी, मनोज गोस्वामी, सोनू वर्मा, गोपाल, भगवान सिंह आदि दिन-रात परिश्रम में लगे हुए हैं।

खबरें और भी हैं...